विभाग की अनदेखी से नहर बना कूड़ेदान, सिचाई को किसान परेशान

संदेश(भोजपुर)।भूगर्भजलसीमितहै,इनकासंरक्षणजरूरीहै।सरकारऐसेस्लोगनलिखकरजलसंरक्षणकाप्रचार-प्रसारतोकरतीहै,लेकिननहरोंकीदुर्दशासेसिचाईमेंभूगर्भजलकाइस्तेमालकिसानोंकेलिएमजबूरीबनगईहै।संदेशक्षेत्रकेखेतोंकोसिचितकरनेवालीकोईलवरराजवहाहोयाकोरीलाइन,दोनोंमेंदससालोंसेपानीकाप्रवाहनहींहोरहाहै।जिसकेकारणकिसानोंकोपरेशानियोंकासामनाकरनापड़ताहै।

संदेशक्षेत्रमेंजहां80प्रतिशतलोगकृषिकार्यपरआश्रितहै।क्षेत्रकेखेतोंकोपटवनकरनेकेलिएकोइलवरराजवहा,कोरीलाइन,बिछीआंवनहर,खोलपुरकुम्हरीनहर,केसाथकईराजकीयनलकूपसिचाईसंसाधनहै।यहकहनेभरहै।पिछलेकुछवर्षोंसेनहरलाइनकीहालतइतनीखराबहोगईहैकिराजवाहाकानिचलाछोरहमेशासूखारहताहै।नहरमेंपानीनहींआनेसेकईगांवोंकेखेतोंमेंधानकीरोपनीनहींहोतीहै।स्थानीयकिसानहरेरामसिंहबतातेहैंकिकोईलवरराजवाहाकभीकोइलवरकेकोसीहानगांवतकसिचितकरताथा।आजभीइसराजवहाटेलएंडकोसीहानतकदेखनेकोमिलताहै।अबतोसंदेशकेभीमपुराफुलाड़ीगांवतककिसीतरहराजवहाकापानीचलाआताहै,लेकिनखेतोंतकपहुंचनामुश्किलहोजाता।

दससालोंसेनहींहुईनहरकीउड़ाही

विभागीयलापरवाहीकाआलमयहहैकिविगत10वर्षोंसेनहरकीउड़ाहीनहींहुईहै।इसराजवाहामेंकईगांवोंमेंजगह-जगहनालाएवंमिट्टीडालकरपूराभरदियागया।वहीं,नहरकिनारेबसेगांवोंकेलोगोंकेद्वारानहरमेंहीकूड़ाकर्कटडालाजारहाहै,जंगलीघास,पेड़पौधेउगआएहै।इससेपानीकाप्रवाहरुकगयाहै।