वेदनाओं की अभिव्यक्ति है कविता

जागरणसंवाददाता,जौनपुर:वीरबहादुरसिंहपूर्वांचलविश्वविद्यालयकेआर्यभट्टसभागारमेंगुरुवारकोपूर्वांचलसाहित्यमहोत्सव2021काआयोजनकियागया।इसमेंशासनकेअनुमोदनसेथीमबेस्डलिटरेरीफेस्टसमिटकेतहतआत्मनिर्भरभारतएवंयुवाविषयपरकाव्यगोष्ठीकाआयोजनहुआ।इसमेंकवियोंकोसम्मानितभीकियागया।

कुलपतिप्रोफेसरनिर्मलाएसमौर्यानेअध्यक्षीयसंबोधनमेंकहाकिसाहित्यकासमाजकोदिशादेनेमेंविशेषयोगदानहै।इनयुवाकाव्यप्रतिभाओंकोआगेबढ़ानेकीआवश्यकताहै।विज्ञानअपनीजगहहै,लेकिनविज्ञानकाभीएकसाहित्यहोताहै,भाषाहोतीहै।उन्होंनेकहाकिवेदनाओंकीअभिव्यक्तिभीकविताहै।इसमौकेपरकविसभाजीतद्विवेदीप्रखरकोपंडितरूपनारायणत्रिपाठीसम्मान,डाक्टरप्रमोदकुमारश्रीवास्तवअनंगकोप्रेमचंदसम्मान,जनार्दनअस्थानाकोश्रीपालसिंहक्षेमसम्मान,इमरानसंभलशाहीकोवामिकजौनपुरीसम्मान,डाक्टरअमिताभरायकोकुशलसंचालकसम्मानप्रदानकियागया।इसदौरानकुलसचिवमहेंद्रकुमार,प्रोफेसरवंदनाराय,प्रोफेसरदेवराजसिंह,डामनीषगुप्त,डाक्टरमनोजमिश्र,डाप्रमोदयादव,डासतीशकुमारराय,शिक्षकसंघअध्यक्षडाविजयकुमारसिंह,खेलकूदपरिषदकेसंयुक्तसचिवडाविजयप्रतापतिवारी,श्रीप्रकाशयादवआदिमौजूदरहे।संचालनकविडाक्टरअमिताभरायराजहंसवआभारसंयोजकडाअनुरागमिश्रनेव्यक्तकिया।काव्यपाठमेंयहरहेविजयी..

थीमबेस्डलिटरेरीफेस्टमेंआत्मनिर्भरभारतएवंयुवाविषयपरविद्यार्थियोंनेकाव्यपाठकिया।कार्यक्रममेंबीटेककेछात्रअश्वनीठाकुरफौजीनेप्रथम,गाजीपुरराजकीयमहाविद्यालयकीबीएछात्रासौम्यामिश्रानेद्वितीय,श्वेतायादवनेतृतीयस्थानप्राप्तकिया।