टैप फोन बातचीत के अंश छापने पर रोक बरकरार

अमरसिंहफोनटैपमामलानईदिल्ली(पीटीआई):सुप्रीमकोर्टनेअपनेउसअंतरिमआदेशमेंबदलावसेइनकारकियाहैजिसमेंसमाजवादीपार्टीकेमहासचिवअमरसिंहऔरकुछदूसरेलोगोंकेबीचफोनपरहुईप्राइवेटबातचीतकेअंशछापनेपरपाबंदीलगाईगईथी।जस्टिससीकेठक्करऔरअल्तमसकबीरकीबेंचनेकहाकिबादमेंइसयाचिकापरविचारकियाजाएगा,क्योंकिइसमामलेसेनागरिकोंकेनिजीअधिकारीऔरसार्वजनिकहितजुड़ेहैं।फोनपरहुईइसबातचीतकोगोपनीयतरीकेसेटैपकियागयाथा।आरोपहैकिइसबातचीतमेंअमरसिंहनेन्यायव्यवस्था,कईफिल्मसितारों,बिजनेसमैनोंऔरराजनीतिज्ञोंकेखिलाफकईआपत्तिजनकबातेंकहींहैं।सेंटरफॉरपब्लिकइंटरेस्टलिटिगेशननामकेएकसंगठननेअदालतमेंयहकहकरइसबातचीतकेअंशोंकोप्रकाशितकरनेपरलगाईगईरोकरकोहटानेकीमांगकीथीकिजनताकोयहजाननेकाहकहैकिइसबातचीतमेंक्याथा।इससंगठनकेवकीलप्रशांतभूषणनेकहाकिअदालत'बेहदअंतरंग'बातचीतवालीतीनसीडीरोकसकतीहै,लेकिनबाकीसीडीमेंक्याहैयहतोजनताकोबतायाहीजासकताहै।लेकिनअदालतनेइनबातोंपरखासध्याननहींदिया।इसकेअलावाअदालतनेकेंद्रसरकारसेगैरकानूनीफोनटैपिंगकोरोकनेकेलिएताजादिशानिर्देशतैयारकरनेकोकहाहै।