सुरेश सिंह हत्याकांड में आधा दर्जन नामजद, तीन गिरफ्तार

जमुई।नगरथानाक्षेत्रकेचंदवारागांवनिवासीकिसानसुरेशसिंहहत्याकांडमेंगुरुवारकोमामलादर्जकियागयाहै।

मृतककेपुत्रप्रमोदसिंहकेबयानपरदर्जएफआइआरमेंगांवकेहीसाकिन्द्रयादव,सतीशयादव,सीतारामयादव,सुरेशयादव,रामाश्रययादवतथादशरथयादवकोनामजदकियागयाहै।पुत्रप्रमोदनेपुलिसकोदिएबयानमेंकहाहैकिवह18मार्चकीसंध्यापांचबजेअपनेपितासुरेशसिंहकेसाथजमुईसेघरलौटरहाथा।गांवस्थितमविकेसमीपपहुंचतेहीलाठी-डंडातथातलवारसेलैसआरोपितोंनेदोनोंकोजबरनरोकलियातथातलवारसेपिताकीगर्दनपरवारकरदिया।जिससेमौकेपरहीउनकीमौतहोगई।घटनाकेबादसभीआरोपितयादवटोलाकीओरभागनिकले।एसडीपीओरामपुकारसिंहनेबतायाकिनामजदलोगोंमेंसेतीनकोगिरफ्तारकरलियागयाहै।शेषकीगिरफ्तारीकेलिएपुलिसछापेमारीकररहीहै।

हत्याकाकारणचुनावीरंजिशतोनहीं

जमुई:सुरेशसिंहहत्याकांडकापर्दाफाशवैसेतोपुलिसअनुसंधानकेबादहीहोसकेगा,लेकिनहत्याकीइसवारदातकेपीछेकईतरहकीचर्चाएंसुनीजारहीहै।हत्याकांडकोचुनावीरंजिशसेभीजोड़करदेखाजारहाहै।बतायाजाताहैकिवर्ष2004केलोकसभाचुनावकेदिनचंदवारागांवमेंदोपक्षोंकेबीचतनावकेबादअनिकयादवनामकेव्यक्तिकीहत्याकरदीगईथी।इसकांडमेंसुरेशसिंहतथाउनकेभाईकोनामजदकियागयाथा।जबकिदूसरेपक्षकेलोगोंकेखिलाफभीथानेमेंमामलादर्जकियागयाथा।तबसेलेकरआजतकगांवमेंदोनोंपक्षोंकेबीचनहींबनरहरहीथी।कहाजाताहैकिहालकेदिनोंमेंदोनोंपक्षोंकेबीचसुलहहोचुकीथी।इसमेंमुख्यभूमिकाराजदजिलाध्यक्षसहजिलापरिषदकेउम्मीदवारसरयुगयादवनेनिभाईथी,लेकिनगांवकेकुछलोगइससुलहकेविरोधमेंथे।संभावनाव्यक्तकीजारहीहैकिउन्हींलोगोंनेघटनाकोअंजामदियाहै।