सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- उत्‍तर प्रदेश में चार साल में बढ़ी 53 फीसदी पारेषण क्षमता

लखनऊ,जेएनएन। प्रदेशमें24घंटेनिर्बाधबिजलीकीआपूर्तिकासपनाजल्दहीसाकारहोनेवालाहै।मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाहैकिलगातारप्रयासोंसेप्रदेशमेंस्थापितपारेषणतंत्रकीभारवहनक्षमता25000मेगावाटहोचुकीहै।बीतेचारसालोंमेंइसमें53फीसदीतकइजाफाहुआहै।लॉकडाउनमेंजब लोगघरपरथे,तबबिजलीकीमांगभीबहुतथी।बावजूदइसकेप्रदेशमेंसभीस्थानपरनिर्बाधऔरपर्याप्तबिजलीआपूर्तिसुनिश्चितकीगई।वर्तमानमेंलगभग6100करोड़रुपयेकीलागतकीपारेषणपरियोजनाओंकेकार्यपब्लिक-प्राइवेटपार्टनरशिप(पीपीपी)पद्धतिसेकरायाजारहाहै।

मुख्यमंत्रीयोगी,शनिवारको571.57करोड़कीलागतसेनिर्मित220केवीके02तथा132केवीके09उपकेन्द्रोंकालोकार्पणएवं1347.91करोड़कीलागतसेनिर्मितहोनेवाले220केवीके10व132केवीके06उपकेन्द्रोंकाशिलान्यासकररहेथे।मुख्यमंत्रीआवासपरआयोजितकार्यक्रममेंसीएमयोगीनेकहाकिप्रदेशकेविकासकेलिएविद्युतक्षेत्रमें'आत्मनिर्भरता'कीजरूरतहै।आजकेयुगमेंबिजली,विकासकेलिएमुख्यअवयवहै।खेती-किसानीहो,उद्योग-धंधेहों,मेडिकलहोयाफिरअध्ययन-अध्यापन,हरकहींबिजलीकीजरूरतहै।मुख्यमंत्रीनेउपभोक्ताओंकीहरछोटी-बड़ीसमस्याकेत्वरितनिस्तारणकेनिर्देशदेतेहुएउपभोक्ताओंसे समयसेबिजलीबिलजमाकरनेकीअपीलभीकीहै।उन्होंनेकहाकिअगरहमऐसाकरसकेतो24घंटेबिजलीआपूर्तिकासपनाबहुतसाकारहोगा।उन्होंनेकहाकिप्रदेशकेविद्युतपारेषणतंत्रकेउत्तरोत्तरविकासकीश्रृंखलाकीनवीनतमकड़ीकेमेंआजप्रदेशको27उपकेंद्रोंकाउपहारमिलरहाहै,इससेअन्यउपकेंद्रोंपरभारकमहोगातथाबिजलीआपूर्तिऔरबेहतरहोगी।नवलोकर्पितउपकेंद्रबुलंदशहर,मुजफ्फरनगरअयोध्या,चित्रकूट,सीतापुरऔरमिर्जापुरजिलेमेंस्थापितहैंजबकिलखनऊ,वाराणसी, फतेहपुर,गोण्डा,झाँसी,फर्रुखाबाद,आगरा,सहारनपुर,मेरठ,महाराजगंज,भदोही,फिरोजाबाद,बस्ती,बांदा,बागपत,कुशीनगरमेंउपकेंद्रोंकाशिलान्यासकियागया।

सुचारुबिजलीसेकिसनोंकोमिलाफायदा: मुख्यमंत्रीनेकहाकिप्रदेशमेंजबकिसानपहलेअपनेखेतमेंपानीडालनेजाताथातबबिजलीनहींहोतीथी,लेकिनआजऐसानहींहै।प्रदेशकीअच्छीविद्युतकीआपूर्तिनेकिसानोंकीलागतकोकमकियाऔरउत्पादनबढ़ानेमेंयोगदानदिया।आजआपदेखसकतेहैंकिगांवहोयाशहररात्रिमेंबिजलीहरजगहहोतीहै।अबहमाराप्रयाससभीजगह24घंटेबिजलीदेनेकीहै।उन्होंनेकहाकिप्रदेशकेसुदूरक्षेत्रोंमेंकोविडहॉस्पिटलबनानेऔरटेलीमेडिसिनवटेलीकंसल्टेशनकीसुविधादेनेमेंइसलिएमददमिली,क्योंकिवहांविद्युतकीआपूॢतसंभवहोपाईथी।इससेवहांबेहतरस्वास्थ्यसुविधाएंउपलब्धकरानेमेंमददमिली।मुख्यमंत्रीनेकहाकिप्रदेशमें1.21लाखसेअधिकगांववमजरोंमेंविद्युतीकरणकाकार्यहुआहै।1.38करोड़उपभोक्ताओंकोनि:शुल्कविद्युतकेकनेक्शनउपलब्धकराएगएहैं।टोलफ्रीनंबरजारीकरकिसानोंऔरउपभोक्ताओंकीसमस्याओंकेनिराकरणकाकामहुआहै।निर्बाधविद्युतआपूॢतनेकिसानोंकीलागतकोकमकियाहैऔरउत्पादनबढ़ानेमेंयोगदानदियाहै।आजगांवहोंयाशहर,हरओरबिजलीचमकतीहुईदिखाईदेतीहै।इनपरियोजनाओंसेप्रदेशमेंलगभगसभीकमिश्नरीकोलाभमिलेगा।साथहीप्रदेशकीजनताकोनिर्बाधरूपसेविद्युतआपूर्ति सुनिश्चितकीजासकतीहै।

बिजलीआपूर्तिमेंअबभेदभावनहीं:वर्चुअलमाध्यमसेसम्पन्नलोकार्पण-शिलान्यासकार्यक्रममेंमुख्यमंत्रीनेकहाकिराज्यसरकारकीऊर्जाक्षेत्रकेउत्तरोत्तरविकासकीप्रतिबद्धताआजमूर्तरूपलेचुकीहै,जिसकेसुखदपरिणाममिलरहेहैं।बिजलीउत्पादन,पारेषणऔरवितरणसुचारुहै।बीतेचारसालमेंहरव्यक्तिनेइसेअनुभवकियाहैकिअबबिजलीवितरणमेंकिसीप्रकारकाभेदभावनहींहोता।

यूपीमेंअबलो-वोल्टेजनहीं:प्रदेशकेऊर्जामंत्रीश्रीकांतशर्मानेकहाकिलगातारहोरहेनियोजितप्रयासोंसेआजप्रदेशमेंलो-वोल्टेजकीसमस्याखत्महोचलीहै।रोस्टरकापूराअनुपालनकरतेहुएउपभोक्ताओंकीशिकायतोंकापूरीगंभीरताकेसाथनिस्तारणकियाजारहाहै।विभागीयमंत्रीनेबिजलीक्षेत्रमेंप्रदेशकीबेहतरीकाश्रेयमुख्यमंत्रीकोदिया।केंद्रीयराज्यमंत्रीसंजीवबालियान,साध्वीनिरंजनज्योति,प्रदेशकेराज्यमंत्रीउदयभानसिंहसहितकईसांसदवविधायकोंनेउत्तरप्रदेशकीबिजलीउत्पादनऔरआपूर्तिकेलिहाजसेबीतेचारसालोंकोऐतिहासिकबताया।इसअवसरपरऊर्जाक्षेत्रमेंहोरहेअभिनवप्रयासोंपरकेंद्रितलघुफ़िल्मकाप्रदर्शनभीकियागया।