Shiv Sena Expansion: महाराष्ट्र के बाहर क्यों नहीं पनप सकी शिव सेना? आखिर क्यों अधूरा रह गया बाल ठाकरे का ये ख्वाब?

ShivSenaExpansion:उद्धवठाकरेनेऐलानकियाहैकिशिवसेनामहाराष्ट्रकेबाहरभीचुनावलड़ेगी.येकोईपहलीबारनहींहैकिशिवसेनानेमहाराष्ट्रकेबाहरभीपैरपसारनेकीकोशिशकीहो.पार्टीकेदिवंगतप्रमुखबालठाकरेशिवसेनाकोएकराष्ट्रीयपार्टीकेतौरपरदेखनाचाहतेथेलेकिनउनकायेख्वाबकभीपूराहोनसका.आखिरशिवसेनामहाराष्ट्रकेबाहरक्योंनहींपनपपायी,इसकीकहानीबड़ीहीदिलचस्पहै.इसहफ्तेकासियासीकिस्साठाकरेकेइसीअधूरेख्वाबपर.

अगरकिसीराज्यमेंपार्टीखड़ीकरनीहैतोवहांजाकरपार्टीकेबड़ेनेताओंकोसभाएंलेनीपड़तीहैं,रैलियांनिकालनींपड़तीहैं,स्थानीयमुद्दोंकोपुरजोरतरीकेसेउठानापड़ताऔरराज्यकेबड़ेचेहरोंकोपार्टीकेसाथजोड़नापड़ताहै.क्याशिवसेनानेयेसबकिया?नहीं.शिवसेनाकेव्यवहारसेयहीनजरआयाकिपार्टीअधूरेमनसेमहाराष्ट्रकेबाहरचुनावलड़रहीहै.

86सालकीउम्रमेंठाकरेकेनिधनसेपहलेउनकाएकसपनातोपूराहोगयाकिमहाराष्ट्रकेविधानभवनपरभगवालहराये.1995मेंउनकीपार्टीबीजेपीकेसाथमिलकरपहलीबारसत्तामेंआपायी.शिवसेना60केदशकमेंभूमिपुत्रोंकोन्यायदिलानेकेमुद्देकोलेकरखड़ीहुईथीलेकिन80कादशकआतेआतेठाकरेकोयेलगाकिभूमिपुत्रयानीमराठीमाणुषकामुद्दाशिवसेनाकोमुंबईऔरठाणेसेआगेनहींफैलासकता.पार्टीकेविस्तारकेलियेएकव्यापकमुद्देकीजरूरतथीजोशिवसेनाकोकट्टरहिंदुत्वादकेरूपमेंमिलगया.हिंदुत्ववादअपनानेकेबादबालासाहबकोउम्मीदथीकिपार्टीमहाराष्ट्रकेबाहरभीअपनेपैरपसारेगीऔरएकराष्ट्रीयपार्टीकीशक्ललेलेगी,लेकिनऐसानहींहोसका.

बालासाहबकीछविनेमहाराष्ट्रकेबाहरभीयुवाओंकोआकर्षितकिया

शिवसेनाकीओरसेहिंदुत्वकामुद्दाअपनानेऔरबालासाहबकीनिजीछविनेमहाराष्ट्रकेबाहरभीखासकरउत्तरप्रदेश,दिल्ली,राजस्थानऔरजम्मू-कश्मीरमेंकईयुवाओंकोआकर्षितकिया.शिवसेनानेभीइसबातकोप्रदर्शितकियाकिवोगैरमराठियोंकेलियेखुलीहैऔरइसीकेमद्देनजरसाल1993मेंदोपहरकोसामनानामकहिंदीसांध्यदैनिकनिकालाऔर1996मेंमुंबईकेअंधेरीस्पोर्ट्सकॉम्प्लैक्समेंउत्तरभारतीयमहासम्मेलनकाआयोजनकिया.

अगरमहाराष्ट्रकेबाहरकिसीराज्यमेंशिवसेनाकोअधिकतमकामियाबीमिलीतोवोराज्यथाउत्तरप्रदेश,जहांपार्टीने1991केचुनावमेंएकविधानसभासीटजीती.अकबरपुरसीटसेएकस्थानीयबाहुबलीनेतापवनपांड़ेशिवसेनाकाविधायकचुनलियागया.शिवसेनानेउसदौरानलखनऊ,मेरठ,वाराणासी,अकबरपुर,बलियाऔरगोरखपुरकेस्थानीयनिकायचुनावोंमेंभीतगड़ीमौजूदगीहासिलकी.बहरहाल,येकामियाबीज्यादावक्ततकटिकीनहीं.पवनपांड़ेजोउत्तरप्रदेशमेंशिवसेनाकासबसेमजबूतचेहराबनकरउभराथा,अगलाचुनावहारगया.

पवनपांड़ेकेपार्टीसेनिकालेजानेसेशिवसेनायूपीमेंखड़ीहोनेसेपहलेहीलड़खड़ागई

जबमायावतीमुख्यमंत्रीबनींतोउन्होनेअपनेउनसियासीदुश्मनोंकोनिशानाबनानाशुरूकियाजिनकाआपराधिकरिकॉर्ड़था.चूंकिपवनपांड़ेपरभीआपराधिकमामलेदर्जथेइसलियेमायावतीकीमुहीमसेखुदकोबचानेकेलियेउसेकुछवक्तउत्तरप्रदेशछोड़करभागनापड़ा.पांड़ेकीगैरमौजूदगीनेयूपीमेंशिवसेनाकेविस्तारकोप्रभावितकिया.यूपीसेभागनेकेबादपांड़ेमुंबईमेंआकरबसगयाऔरनवीमुंबईकेजुईनगरमेंउसनेएकड़ांसबारखोला.उसकीसंजयनिरूपमसेभीअनबनहोगईजिन्हेंशिवसेनानेराज्यसभासांसदऔरअपनेउत्तरभारतीयकार्यक्रमकाप्रभारीबनादियाथा.ड़

आपराधिकमामलेमेंपांड़ेकीगिरफ्तारीसेनिरूपमकोउसेपार्टीसेनिकालफेंकनेकाएकमौकामिलगया.पांड़ेकेनिकालेजानेसेशिवसेनायूपीमेंखड़ीहोनेसेपहलेहीलड़खड़ागई.शिवसेनासेनिकालेजानेकेबादपवनपांड़ेबहुजनसमाजवादीपार्टीसेजुड़गया.हालांकिशिवसेनाने90केदशकमेंयूपीमें3बारविधानसभाचुनावलड़ालेकिनबालठाकरेकभीखुदवहांचुनावप्रचारकेलियेनहींगये.महाराष्ट्रसेबाहरठाकरेज्यादासेज्यादागोवातकचुनावप्रचारकेलियेगयेथे.

अक्सरखबरोंमेंरहीहैशिवसेनाकीदिल्लीइकाई

यूपीकेविपरीतदिल्लीमेंशिवसेनाआजतकएकभीविधानसभासीटनहींजीतपायीहै,लेकिनपार्टीकीदिल्लीइकाईअक्सरखबरोंमेंरहीहै.जबबालठाकरेनेपाकिस्तानीखिलाड़ियोंकेखिलाफअपनेबैनकाऐलानकियातोजनवरी1999मेंशिवसैनिकोंनेदिल्लीकेफिरोजशाहकोटलामैदानकीपिचखोदड़ाली.

शिवसैनिकोंनेशांतिप्रक्रियाकेतहतशुरूकीगईभारत-पाकिस्तानकेबीचबसोंकीहवानिकालदी.साल2000मेंअजयश्रीवास्तवजोकिभारतीयविद्यार्थीसेनासेजुड़ेथेएकाएकमशहूरहोगयेजबउन्होंनेइनकमटैक्सविभागकीओरसेआयोजितकीगईनीलामीमेंदाऊदइब्राहिमकीसंपत्तिपरबोलीलगाई.

एकबारशिवसैनिकोंनेयासीनमलिकपरहमलाकरदियाजबअफजलगुरूकोफांसीदियेजानेकेबादवोदिल्लीआयेथे.शिवसैनिकोंनेदिल्लीमेंहीएकपाकिस्तानीसूफीगायिकाकेकार्यक्रममेंभीतोड़फोड़की.हालांकि,दिल्लीकेशिवसैनिकोंकीइसतरहकीगतिविधियोंकोअखबारोंऔरटीवीचैनलोंपरजगहतोमिलीलेकिनइसकाकोईचुनावीफायदापार्टीकोनहींमिला.

जयभगवानगोयल,अजयश्रीवास्तवऔरमंगतराममुंड़ेशिवसेनाकीदिल्लीइकाईकेसंस्थापकसदस्यथे,लेकिनइनकीआपसमेंअनबनरहतीथी.यूपीकीतरहहीठाकरेकभीभीचुनावप्रचारकेलियेदिल्लीनहींआये.मार्च1999मेंउनकासम्मानकरनेकेलियेदिल्लीकेतालकटोरास्टेड़ियममेंएकरैलीआयोजितकीगईथी,लेकिनठाकरेउसमेंभीशरीकनहींहुएऔरउन्होंनेवहांअपनेबेटेउद्धवकोभेजदिया.उसवक्ततकउद्धवशिवसेनाकेकार्यकारीअध्यक्षभीनहींबनेथे.बार-बारगुजारिशोंकेबावजूदबालासाहबठाकरेकेदिल्लीनआनेसेउनकेकार्यकर्ताहतोत्साहितहुए.

दिल्लीकेशिवसैनिकोंकीएकबड़ीतादादभारतीयविद्यार्थीसेनाकीसदस्यथी,लेकिनजबराजठाकरेनेशिवसेनाछोड़करअपनीअलगपार्टीबनानातयकियातोइनशिवसैनिकोंकोभीपार्टीमेंअपनाकोईभविष्यनजरनहींआया.अजयश्रीवास्तवअबशिवसेनाकेसक्रीयसदस्यनहींहैंऔरजयभगवानगोयलनेभीपार्टीकेवरिष्ठनेताओंकेसाथअनबनकेबादशिवसेनाछोड़दीहै.

शंकरसिंहवाघेलानेकीथीशिवसेनामेंशामिलहोनेकीपेशकश

शिवसेनाकेलियेगुजरातमेंउसवक्तएकमौकाथाजबशंकरसिंहवाघेलानेबीजेपीसेबगावतकी.बीजेपीसेनिकलनेकेबादवाघेलानेखुदकीएकपार्टीबनाई,लेकिनउससेपहलेउन्होंनेशिवसेनासेएकपेशकशकी.वाघेलानेठाकरेकोसंदेशभिजवायाकिवोअपनेसमर्थकोंकेसाथशिवसेनामेंशामिलहोनाचाहतेहैं,लेकिनठाकरेनेउनकीयेपेशकशठुकरादीक्योंकिवोबीजेपीसेअपनेरिश्तेनहींबिगाड़नाचाहतेथे.ठाकरेकोइसबातकीआशंकाभीथीकिगुजरातमेंशिवसेनाकोईझंड़ेनहींगाड़पायेगीक्योंकिशिवसेनाकेजन्मकेबादशुरुआतीसालोंतकउनकीइमेजगुजरातीविरोधीरहीथी.

दिल्लीकीतरहहीशिवसेनाकीराजस्थानविधानसभामेंभीकोईमौजूदगीनहींहै.1998सेशिवसेनाराजस्थानविधानसभाचुनावलड़रहीहै,लेकिनबालठाकरेएकबारभीवहांचुनावप्रचारकेलियेनहींगये.साल2003केचुनावमेंसिर्फएकबारउद्धवठाकरेप्रचारकेलियेगयेथे.शिवसेनाकेहिंदुत्ववादीएजेंड़ेनेकुछसमर्थकजम्मूमेंभीजुटायेथे.

दिवंगतबीजेपीनेताप्रमोदमहाजनकोबहुतपसंदकरतेथेबालासाहब

ठाकरेकेमहाराष्ट्रसेबाहरनजानेकेपीछेएकदिलचस्पकिस्साहैजोशिवसेनाकेमुखपत्रसामनामेंकामकरचुकेलोगसुनातेहैंलेकिनकोईउसकीपृष्टिनहींकरता.बालठाकरेबीजेपीकेदिवंगतनेताप्रमोदमहाजनकोबड़ापसंदकरतेथेऔरउनपरभरोसाभीकरतेथे.केंद्रमेंबाजपेयीसरकारकेदौरानठाकरेजबभीकिसीदूसरेराज्यमेंजानेकीयोजनाबनाते,प्रमोदमहाजनउनकेशुभचिंतककेनातेठाकरेकेसामनेप्रकटहोजाते.इंटैलीजेंसब्यूरोयानीआईबीकेसंदेशकाहवालादेतेहुएवेठाकरेकोचेतावनीदेतेकिउनकीसुरक्षाकोखतराहै.उन्हेंमारनेकीसाजिशरचीजारहीहै,इसलियेउन्हेंसावधानरहनाचाहियेइसकेबादठाकरेकादौरारद्दकरदियाजाता.

यहांएकबातस्पष्टकरदूंकिइसकिस्सेकीपृष्टिकरसकनेवालेयाइसेखारिजकरसकनेवालेदोनोंहीशख्सयानीकिबालठाकरेऔरप्रमोदमहाजनअबइसदुनियामेंनहींहैं. जहांतकमुझेयादआताहैठाकरेएकमात्रबारलखनऊगयेथेबाबरीकांड़सेजुड़ीएकअदालतीकार्रवाईमेंपेशहोनेकेलिये.हालांकि,बीजेपीनेताओंनेकभीखुलेतौरपरयेबातनहींकही,लेकिनउन्हेंड़रथाकिअगरशिवसेनामहाराष्ट्रकेबाहरबढीतोआगेचलकरवोउसकीप्रतिद्वंदीबनसकतीहै.शिवसेनाकेमहाराष्ट्रतकसीमितरहनेमेंहीबीजेपीकीभलाईथी.

हालांकि,शिवसेनाकीराष्ट्रीयपार्टीबननेकीमहात्वाकांक्षाबरकरारहैलेकिनउसकेसामनेसबसेताजाचुनौतीमुंबईमेंअपनेगढ़कोबचाकररखनेकीहै.फरवरी2022मेंबीएमसीकेचुनावहोसकतेहैं,जहांशिवसेनासेसत्ताछीननेकेखातिरबीजेपीएड़ीचोटीकाजोरलगारहीहै.पिछलेचुनावमेंशिवसेनाकोसत्तासेबेदखलकरनेकेलियेबीजेपीसिर्फ2सीटेंपीछेथी.

UPElection2022:जानिए-यूपीमेंअबतककौनकौनसेगठबंधनबनेहैं,किसगठबंधनमेंकौनकौनसीपार्टीहैशामिल

Pakistan:पदसेहटायातोहोजाऊंगाखतरनाक,बौखलाएइमरानकीविपक्षकोखुलीधमकी,विपक्षनेकियाहैइस्लामाबादमार्चनिकालनेकाऐलान