शहरी क्षेत्र का तालाब जलकुंभी से आबाद

गोड्डा:जलसंरक्षणकोलेकरसरकारकरोड़ोंरुपयेपानीकीतरहबहारहीहैलेकिनधरातलपरउपयोगीतालाबोंकेजीर्णोद्धारकीदिशामेंसरकारीकार्यएजेंसियांबेखबरहै।यूंकहेंकितालाबकेमहत्वऔरउसकेसंरक्षणकोअबसमझनेकाकोईसरकारीनजरियानहींरहगयाहै।शहरकेवार्डनंबर13स्थितशांतिनगरपोखरपानीकेबजायजलकुंभीसेआबादहै।बीचशहरमेंयहस्थितिनगरप्रशासनकेलिएशर्मसारकरनेवालीबातहै।कईबारनगरपरिषदबोर्डकीबैठकमेंतालाबकेजीर्णेाद्धारकाप्रस्तावसर्वसम्मतिसेलियागयाहैलेकिनजीर्णोद्धारकार्यकीयोजनातैयारनहींहोसकीहै।

वार्डनंबर13केलोहियानगर,शांतिनगरवगंगटाचौकसेलेकरब्लाकपरिसरतकबड़ीआबादीगंभीरजलसंकटसेजूझरहीहै।अभीबरसातमेंभीयहांलोगोंकेलिएपीनेकेपानीकीकिल्लतहै।अधिकांशलोगजारकापानीखरीदकरहीपीतेहैं।ऐसेमेंभूजलस्तरकोबढ़ानेकेलिएतालाबोंकाजीर्णोद्धारजरूरीहै।सरकारनेभीइसदिशामें15वींवित्तआयोगकीमदकोरेनवाटरहार्वेस्टिगकोलेकरयोजनाएंचलारहीहै।शहरीक्षेत्रलगातारड्रायजोनबनरहाहै।हालातइतनेखराबहोचुकेहैंकिसाढ़ेतीनसौफीटकीबोरिगभीफेलहोरहीहै।लोगएकसेदोकिलोमीटरजाकरदूसरेजगहसेपानीलारहेहैं।यहांतककिगर्मीकेदिनोंमेंतोनगरपरिषदकोटैंकरसेपानीकीआपूर्तिकरनीपड़तीहै।ऐसेमेंलोहियानगरऔरशांतिनगरस्थितपोखरकेसंरक्षणकीमांगपरचुप्पीसमझसेपरेहै।यहतालाबजलसंरक्षणकेलिहाजसेकाफीकारगरसाबितहोसकताहै।स्थानीयलोगोंकीमानेंतोयहतालाब50वर्षोंसेभीअधिकपुरानाहै।उसवक्तइतनीआबादीनहींथीलेकिनअबआबादीबढ़तीजारहीहै।आबादीबढ़नेसेपानीकीखपतभीबढ़ीहै।लेकिनजलसंरक्षणकोलेकरइसदौरानकोईपहलनहींहोपाई।लोगोंकीमानेंतोपूर्वकेदशकमेंइलाकेकावाटरलेबलकाफीबेहतरथा।इसकेपीछेकारणयहथाकिशहरीक्षेत्रोंकेतालाबपानीसेलबालबभरेरहतेथे।इसकेपानीसेभूगर्भवाटररिचार्जहोजायाकरताथा।लेकिनपिछलेएकदशकसेतालाबमेंपानीकीजगहगंदगीवजलकुंभीनेलेलीहै।तालाबगहरानहोनेकेकारणइसकापानीवर्षाकेमौसममेंजहांतहांबहजाताहै।जबकिगर्मीकेदिनोंमेंतालाबसूखजाताहै।तालाबसेसटेइलाकेमेंगंभीरपानीसंकटहै।तालाबशहरकेनिचलेइलाकेमेंहैजिसकेकारणवर्षाकापानीउपरीइलाकासेइसतालाबमेंआजाताहैलेकिनठहरतानहींहै।वहींकुछगंदेनालाकापानीभीतालाबमेंहीगिररहाहैजिससेतालाबदूषितहोरहाहै।इधरबढ़तेजलसंकटकोदेखतेहुएअबतालाबकेजीर्णोद्वारकेसाथहीइसकेसौंदर्यीकरणकीमांगतेजहोरहीहै।लोगोंकाकहनाहैसबसेपहलेतालाबकीसफाईकरजलकुंभीकोहटायाजानाचाहिए।इसकेसाथहीतालाबखुदाईइतनीहोकिसालोंभरपानीजमारहरहे।इससेआसपासकेइलाकोंमेंवाटरलेबलभीमेंटेनरहसके।इसकेसाथहीआबादीकेबीचतालाबहैजहांसफाईकेसाथलाइटकीव्यवस्थाकेसाथबैठनेकीजगहहोनीचाहिएजहांलोगसुबहशामबैठसकें।शहरकायहतालाबभीकाफीपुरानाहै।तालाबस्वच्छरहे।जलसंरक्षणकेसाथहीपौधरोपणहो।इसकेलिएआमजनताकोभीव्यवस्थाकेसाथचलनेकीजरूरतहै।पर्यावरणप्रेमीसमाजसेवीवार्डपार्षदप्रीतमगाडिया,गप्पूसिन्हा,संतोषमंडलआदिनेमांगकीहैकिशांतिनगरतालाबकाजीर्णोद्धारप्राथमिकताकेसाथकियाजानाचाहिए।

शांतिनगरतालाबमेंजलकुंभीकासाम्राज्यकायमहै।जलसंरक्षणकेलिएकारगरमानेजानेवालेतालाबकीबहुतपहलेहीखुदाईवसफाईहोजानीथीलेकिनइसपरकोईठोसपहलनहींहुई।कईबारपत्राचारभीकियागया।सांसद,विधायकसेलेकरनगरपरिषदबोर्डसेमांगकीजाचुकीहै।लेकिनव्यवस्थासेसहयोगनहींमिला।उम्मीदहैअबआनेवालेसमयमेंतालाबकीखुदाईहोगी।-स्वीटीकुमारी,वार्डपार्षद,लोहियानगरगोड्डा

------------------------------------------

नगरपरिषदबोर्डकीबैठकमेंतालाबकेजीर्णेाद्धारकाप्रस्तावपारितहै।बरसातकेबादइसतालाबकेलिएडीपीआरतैयारकियाजाएगा।यहशहरकेलिएरमणिकस्थलभीबनसकताहै।

-राजीवमिश्रा,कार्यपालकपदाधिकारी,नगरपरिषद,गोड्डा।