शौचालय बना खुले में शौच से पाएं मुक्ति

संवादसहयोगी,दाउदनगर(औरंगाबाद):खुलेमेंशौचकरनेसेविभिन्नप्रकारकीबीमारियांहोतीहैं।उनबीमारियोंसेबचावकेलिएयहजरूरीहैकिसभीघरोंमेंशौचालयहो।उक्तबातेंप्रखंडविकासपदाधिकारीजफरइमामनेमहावरपंचायतकोओडीएफबनानेकेलिएमध्यविद्यालयमहावरमेंआयोजितविशेषबैठकमेंकही।अपनेसंबोधनमेंप्रखंडविकासपदाधिकारीनेखुलेमेंशौचसेमुक्तिपानेकेलिएग्रामीणोंकोप्रेरितकरतेहुएकहाकिपंचायतमेंअभीतकनिर्धारितलक्ष्यकेविपरीतमात्र48प्रतिशतउपलब्धिहासिलहोचुकीहै।सभीकादायित्वबनताहैकिजागरूकहोकरघरोंमेंशौचालयकानिर्माणकराएं।पंचायतकोओडीएफघोषितकरानेमेंमहत्वपूर्णभूमिकानिभाएं।उन्होंनेखुलेमेंशौचसेहोनेवालीबीमारियोंकेबारेमेंविस्तारपूर्वकबताया।बतायाकिआपकेसहयोगसेहीयहकार्यक्रमसफलहोगा।इससेपहलेविशेषबैठककाउद्घाटनप्रखंडविकासपदाधिकारी,सीडीपीओश्वेताकुमारीएवंप्रखंडआपूर्तिपदाधिकारीडा.मुकेशकुमारनेसंयुक्तरूपसेदीपप्रज्ज्वलितकरकिया।सीडीपीओश्वेताकुमारीएवंप्रखंडआपूर्तिपदाधिकारीडा.मुकेशकुमारनेग्रामीणोंकोशौचालयकेमहत्वकेबारेमेंबतायाऔरशौचालयविहीनघरोंमेंशौचालयकानिर्माणकरानेतथाअन्यग्रामीणोंकोभीप्रेरितकरनेकेप्रतिजागरूककिया।विशेषबैठककीअध्यक्षताकरतेहुएमहावरपंचायतकेमुखियाअशोककुमारवर्मानेकहाइसपंचायतकोआदर्शपंचायतकेरूपमेंविकसितकरनाउनकासंकल्पहैऔरइसकेलिएयहआवश्यकहैकियहपंचायतपूरीतरहओडीएफहोऔरइसपंचायतकोखुलेमेंशौचसेपूरीतरहमुक्तिमिलजाए।प्रखंडपंचायतीराजपदाधिकारीमनोजकुमारसावकेअलावेविभिन्नविभागोंकेपदाधिकारी,पंचायतीराजजनप्रतिनिधि,पंचायतसचिव,ग्रामीणआवाससहायक,रोजगारसेवक,विकासमित्रजीविकादीदीसहितअन्यउपस्थितथे।बैठकसमाप्तिकेबादबीडीओनेग्रामीणोंकोरेखाचित्रकेमाध्यमसेशौचालयनिर्माणकेबारेमेंबताया।