शांति के पुंज श्री गुरु अर्जन देव जी का शहीदी पर्व मनाया

जागरणसंवाददाता,तरनतारन:तरनतारननगरबसानेवालेपांचवेंपातशाहश्रीगुरुअर्जनदेवजीका415वांशहीदीपर्वश्रद्धापूर्वकमनायागया।श्रीदरबारसाहिबमेंरखेगएश्रीअखंडपाठसाहिबजीकेभोगडालेगए।इसकेबादहेडग्रंथीज्ञानीगुरजंटसिंहनेगुरुजीकेजीवनपररोशनीडालतेहुएकहाकिश्रीगुरुग्रंथसाहिबजीकेरचेताकेतौरपरजानेजातेपंचमपातशाहजीनेतरनतारनशहरबसातेहुएश्रीदरबारसाहिबकानिर्माणकरवायाथा।यहांपरपावनदुखनिवारणसरोवरमेंसंगतस्नानकरकेनिरोगहोतीहै।

शहीदीजोड़मेलेकेसंबंधमेंकरवाएगएकीर्तनसमागममेंभाईगुरनामसिंह,भाईगुरचरणसिंह,संदीपसिंह,राजबीरसिंहखडूरसाहिब,कथावाचकसुखबीरसिंहकेअलावाश्रीगुरुअर्जनदेवकीर्तनीजत्था,बाबाबुड्ढाजीकीर्तनीजत्था,मातागंगाजीकीर्तनीजत्था,बीबीअर्शदीपकौर,सुप्रीतकौरशेरों,हेडग्रंथीगुरजंटसिंह,कथावाचकजजबीरसिंह,गुरशिदरपालसिंह,जसबीरसिंहवल्टोहा,गुरदीपसिंहकपूरथला,मलकीतसिंह,रंजीतसिंहहजूरीरागी,हरपिदरसिंह,तेजपालसिंहकेअलावाज्ञानीगुरइकबालसिंहकेजत्थेनेसंगतकोगुरबाणीसेनिहालकिया।यहांविधायकडा.धर्मबीरअग्निहोत्री,डा.संदीपअग्निहोत्री,कश्मीरसिंहसिद्धूभोला,एसजीपीसीमेंबरभाईमंजीतसिंह,अलविदरपालसिंहपखोके,नगरकौंसिलकेपूर्वउपाध्यक्षजतिदरसूद,मार्केटकमेटीचेयरमैनशुबेगसिंह,अवतारसिंहतनेजा,संजीवकुंद्रा,मनोजअग्निहोत्री,जनकराजअरोड़ा,गुरमिदरसिंह,राणागंडीविड,रितिकअरोड़ासमेतकईसियासीनेताओंनेगुरुघरमाथाटेका।श्रीदरबारसाहिबकीपरिक्रमामेंठंडेमीठेजलकीछबीलेंलगाईगई।जबकिपूरेशहरमेंभीसंगतनेजगह-जगहपरठंडेमीठेजलकीछबीलेऔरलंगरलगाए।