सेंगर ने अदालत में कहा : अगर मैंने कुछ गलत किया है तो मुझे फांसी पर लटका दिया जाए

नयीदिल्ली,12मार्च(भाषा)भाजपाकेनिष्कासितविधायककुलदीपसिंहसेंगरनेबृहस्पतिवारकोदिल्लीकीएकअदालतमेंजिरहकेदौरानकहाकिअगरउन्होंनेकुछगलतकियाहैतोउन्हेंफांसीपरलटकादियाजानाचाहिएऔरउनकीआंखोंमेंतेजाबडालदियाजानाचाहिए।उन्नावबलात्कारपीड़िताकेपिताकीमौतकेमामलेमेंउन्हेंगैरइरादतनहत्याकादोषीपायागयाहै।सजाकीअवधिपरसुनवाईकेदौरानसेंगरनेखुदहीअपनापक्षरखा।उन्होंनेजिलान्यायाधीशधर्मेशशर्माकेसमक्षदावाकियाकिपीड़िताकेपिताकीहत्यामेंउनकीसंलिप्ततानहींहैजिनकीनौअप्रैल2018कोन्यायिकहिरासतमेंमौतहोगईथी।उन्होंनेन्यायाधीशसेकहा,‘‘यातोमुझेन्यायदीजिएयाफांसीपरलटकादीजिएऔरअगरमैंनेकुछगलतकियाहैतोमेरीआंखोंमेंतेजाबडालदियाजाए।’’मामलेमेंचारमार्चकोसातअन्यकेसाथदोषीकरारदिएगएसेंगरनेपीड़िताकेपिताकीमौतमेंसंलिप्ततासेइंकारकियाऔरकहाकिउन्होंनेकुछभीगलतनहींकियाहै।2017मेंलड़कीसेबलात्कारकेएकअन्यमामलेमेंसेंगरकोपिछलेवर्ष20दिसम्बरको‘‘स्वभाविकमौतहोनेतकजेलमेंरहने’’कीसजासुनाईगईथी।न्यायाधीशनेबृहस्पतिवारकोजिरहकेदौरानसेंगरसेकहाकिउन्हेंपहलेहीदोषीठहरायाजाचुकाहैऔरवहअपनीसंलिप्ततासेइंकारनहींकरसकतेहैंक्योंकिरिकॉर्डसेस्पष्टरूपसेपताचलताहैकिजबपीड़िताकेपिताकीहिरासतमेंपिटाईचलरहीथीतोपुलिसअधिकारियोंसेफोनपरउनकीबातचीतहोरहीथी।सेंगरनेकहाकिउनकीदोबेटियांहैंऔरन्यायाधीशसेआग्रहकियाकिउन्हेंछोड़दियाजाए।न्यायाधीशनेकहा,‘‘आपकापरिवारहै।हरकिसीकाहै।आपकोयहसबअपराधकरतेसमयसोचनाचाहिएथालेकिनआपनेसभीकानूनोंकोतोड़ा।अबआपहरचीजकोनाकहेंगे?आपकबतकइंकारकरतेरहेंगे?’’सीबीआईनेसेंगरएवंअन्यकेलिएअधिकतमसजाकीमांगकीजिसमेंमामलेमेंदोषीकरारदिएगएदोपुलिसकर्मीभीशामिलहैं।इसमेंमाखीथानेकेतत्कालीनप्रभारीअशोकसिंहभदौरियाऔरतत्कालीनउपनिरीक्षकके.पी.सिंहशामिलहैं।सीबीआईकेवकीलनेकहाकिनौकरशाहहोनेकेनातेइनदोपुलिसअधिकारियोंकाकर्तव्यथाकिकानून-व्यवस्थाबनाएरखेंलेकिनउन्होंनेअपनीड्यूटीनहींकीऔरपीड़िताकेपिताकासमयपरइलाजनहींकराया।सीबीआईकेवकीलनेअदालतसेकहाकियेपुलिसअधिकारीषड्यंत्रमेंशामिलथेऔरउन्हेंकड़ादंडमिलनाचाहिए।सजाकीअवधिपरसुनवाईशुक्रवारकोभीजारीरहेगी।अदालतनेगैरइरादतनहत्याकेमामलेमेंचारमार्चकोसेंगरऔरसातअन्यकोदोषीठहरायाथाऔरकहाथाकिउनकापीड़िताकेपिताकीहत्याकरनेकाइरादानहींथा।अदालतनेसेंगर,भदौरियाऔरसिंहकेसाथविनीतमिश्रा,बीरेन्द्रसिंह,शशिप्रतापसिंह,सुमनसिंहऔरअतुल(सेंगरकेभाई)कोभादंसंकीधारा120-बी(आपराधिकषड्यंत्र)केतहतदोषीपायाथा।इसकेअलावाउन्हेंभादंसंकीधारा341(गलततरीकेसेबंधकबनाना),304(गैरइरादतनहत्या)सहितकईअन्यधाराओंकेतहतदोषीठहरायागयाथा।बहरहालअदालतनेसंदेहकालाभदेतेहुएकांस्टेबलआमिरखान,शैलेन्द्रसिंह,रामशरणसिंहऔरशारदावीरसिंहकोबरीकरदियाथा।सीबीआईनेमामलेकेपक्षमें55गवाहोंकोपेशकियाथाऔरबचावपक्षनेनौगवाहोंसेजिरहकीथी।अदालतनेपीड़िताकेचाचा,मां,बहनऔरउसकेपिताकेएकसहकर्मीकाबयानदर्जकियाथाजिन्होंनेघटनामेंप्रत्यक्षदर्शीहोनेकादावाकियाथा।सीबीआईकेमुताबिकतीनअप्रैल2018कोबलात्कारपीड़िताकेपिताऔरशशिप्रतापसिंहकेबीचविवादहुआथा।13जुलाई2018कोदायरआरोपपत्रकेमुताबिकपीड़िताकेपिताऔरउनकेसहकर्मीअपनेगांवमाखीलौटरहेथेजबउन्होंनेशशिसेलिफ्टमांगीथी।सीबीआईनेआरोपलगाएकिशशिनेउन्हेंलिफ्टदेनेसेमनाकरदियाजिसकेबादउनकेबीचविवादहोगया।इसनेकहाकिइसकेबादशशिनेअपनेसहयोगियोंकोबुलायाजिसपरकुलदीपकाभाईअतुलसिंहसेंगरवहांअन्यकेसाथपहुंचाऔरमहिलाकेपिताऔरसहकर्मीकीपिटाईकरदी।इसकेबादमहिलाकेपिताकोवेथानेलेगएजहांउनकेखिलाफप्राथमिकीदर्जहुईऔरउन्हेंगिरफ्तारकरलियागया।उच्चतमन्यायालयकेनिर्देशपरपिछलेवर्षएकअगस्तकोउत्तरप्रदेशकीनिचलीअदालतसेमामलेकोदिल्लीस्थानांतरितकरदियागया।