सात साल बाद भी सैफनी के लोगों को नहीं मिल रहा टंकी से पानी

जागरणसंवाददाता,सैफनी:कस्बेमेंबनाओवरहेडटैंकसफेदहाथीबनकररहगयाहै।40हजारकीआबादीवालीग्रामपंचायतसैफनीकेलोगोंकोसातसालकेलंबेइन्तजारकेबादभीसरकारीटंकीकापानीनियमितरूपसेनहींमिलपारहाहै।कस्बेवासीटंकीकेपानीकेमिलनेकाइंतजारकररहेहैं।लोगोंनेइसेशीघ्रचालूकरानेकीमांगकीहै।करीबसातवर्षपूर्वजलनिगमद्वाराकस्बेमेंओवरहेडटैंककानिर्माणशुरूकरायाथा।पूराहोनेकेबादकस्बेमेंपाइपलाइनडलवानेकाकामशुरूकरायागया।दोनोंहीकामकेपूराहोनेकेबादभीअभीतककस्बेवासियोंकोपानीकीनियमितसप्लाईनहींमिलपाईहै।टंकीकेपानीकाकस्बेमेंकईबारट्रायलभीकरायाजाचुकाहै।वहींजलनिगमद्वाराकाफीसंख्यामेंलोगोंकोकनेक्शनदेनेकेबादउनकेदरवाजेतकटंकीकीपाइपलाइनभीपहुंचादीगईहै।बावजूदइसकेअभीतकपानीकीनियमितसप्लाईचालूनहींकीगई,जबकिकुछलोगोंनेअपनेघरोंमेंटंकीकीफिटिगभीकरारखीहै।लोगोंनेशीघ्रहीटंकीकेपानीकीनियमितसप्लाईचालूकरानेकीमांगकीहै।जलनिगमकेजेईमहेशकुमारकाकहनाहैकिसैफनीमेंबनीपानीकीटंकीग्रामपंचायतकेहैंडओवरकरदीगईहै।टंकीपरबिजलीविभागकाकरीबसात-आठलाखरुपयेकाबकायाहै।विद्युतविभागनेटंकीकाकनेक्शनकाटरखाहै।प्रधानपतिकलीमखांकाकहनाहैकिलोगोंसेकहेजानेकेबादभीटंकीकेकनेक्शनकीपाइपलाइनदरवाजेसेअपनेघरोंमेंनहींलीजारहीहै।टंकीचालूकरनेपरटंकीकासारापानीसड़कोंपरबहतारहताहै,जिसकीवजहसेसमस्याआरहीहै।वहशीघ्रहीग्रामवासियोंकेसाथइससमस्याकोलेकरबैठककरेंगे।जल्दहीपानीकीनियमितसप्लाईचालूकराईजाएगी।ग्रामीणलंबेसमयसेशुद्धपेयजलकीआसमेंहैं।ओवरहेडटैंककानिर्माणहोनेकेबावजूदहैंडपंपसेकामचलायाजारहाहै।रामकिशोररस्तोगी।सैफनीमेंटंकीकेनिर्माणकोपूराहुएलगभगचारवर्षहोचुकेहैं,लेकिनपानीकीसप्लाईअभीतकनहींमिलपारहीहै।ग्रामवासियोंमेंरोषबनाहुआहै।फय्याजअली।लोगजिसदिनसेसैफनीमेंओवरहेडटैंककानिर्माणशुरूहुआ,तभीसेकस्बेवासीपेयजलापूर्तिकाइंतजारकररहेहैं।मधुरगुप्ता।कुछलोगोंनेअपनेघरोंमेंटंकीकीफिटिगभीकरारखीहै।पानीकीसप्लाईनियमितरूपसेचालूनहींहोसकीहै।विभागलोगोंकीसमस्याकोगंभीरतासेनहींलेरहाहै।