रोही पंचायत में नहीं मिल रहा नल से जल, एक चापाकल ही सहारा

गया।बाराचट्टीप्रखंडकीरोहीपंचायतअंतर्गतभलुईअनुसूचितजातिबस्तीमेंलगेपांचसरकारीचापाकलमेंचारबंदहैं।एकचापाकलशिवनारायणमांझीकेघरकेसामनेलगाउसीसेपानीकासाराकामभलुईकेलोगकरतेहैं।पेयजलभरकरसुबह-शामरखतेहैं।किल्लतइतनाहैकिचापाकलकेपाससुबह-शामपानीभरनेकेलिएभीड़लगीरहतीहै।

राजमुनियादेवीकहतींहैंकिबर्तनसाफकरनेकेबादहमलोगदिनभरकापेयजलभरकरघरलेजाकररखदेतेहैं।उसीकोसारादिनपीतेहैं।क्याकरेउतनापैसानहींहैकिचापाकलबैठालेऔरताजापानीपिए।पुष्पदेवीकहतींहैंकिचापाकलचलाकरताजापानीपीनेकेलिएहमलोगतरसजातेहैं।

परवादेवीकहतींहैंकिहमसभीलोगवार्डसंख्या13मेंरहतेहैं।नलजलकीबोरिगहुईहैपाइपघरतकबिछायीगयीहैउसमेंटोटीलगीहैपरंतुआजतकपानीनलसेघरतकनहींपहुंचाहै।सड़ककिनारेकाचापाकलनहींचालूरहतातोपानीपीनेकेलिएदूसरीजगहपानापड़ता।परवादेवीआगेकहतींहैंपानीलेनेकेलिएचालूचापाकलकेपासकभी-कभीलोगआपसमेंबहसकरलेतेहैं।

गांवकेशिवनारायणमाझीनेबतायाकियहांपांचचापाकललगेथेजिसमेंसिर्फएकचालूहै।चारचापाकलसूखगयाहै।एकचापाकलदो-चारबाल्टीपानीदेताहै,उसकेवहबंदहोजाताहै।नलजललगाहैलेकिनहमलोगोंकोउससेकोईफायदानहींहै।हमलोगोंकेयहांतकपानीपाइपमेंपहुंचताहीनहींहै।