Rajasthan Political Crisis: आपसी खींचतान के चलते 11 माह से अटका कांग्रेस में संगठनात्मक नियुक्तियों का काम

जागरणसंवाददाता,जयपुर।बड़ेनेताओंकीआपसीखींचतानकेचलतेराजस्थानकांग्रेसमेंब्लॉकसेलेकरप्रदेशतकमेंपदाधिकारीनहींहैं।करीब11माहपहलेपूर्वउपमुख्यमंत्रीसचिनपायलटकीबगावतकेसमयपार्टीनेतृत्वनेब्लॉकसेलेकरप्रदेशतकसभीकार्यकारिणीभंगकरदीथी।उससमयप्रदेशअध्यक्षकापदसचिनपायलटकेपासथा,लेकिनउन्हेंदोनोंहीपदोंसेबर्खास्तकरदियागयाथा।पायलटकेस्थानपरजल्दबाजीमेंअशोकगहलोतसरकारमेंशिक्षाराज्यमंत्रीगोविंदसिंहडोटासराकोअध्यक्षपदकीकमानसौंपीगईथी।डोटासराकोप्रदेशकांग्रेसकमेटीकाअध्यक्षतोबनादियागया,लेकिनवेनिचलेस्तरतकसंगठनमेंपदाधिकारियोंकीनियुक्तिअबतकनहींकरसके।बड़ीमुश्किलसेप्रदेशकांग्रेसकमेटीकीछोटीकार्यकारिणीबनाईगई,लेकिनकाफीकोशिशकेबावजूदविस्तारनहींहोपारहाहै।

प्रदेशप्रभारीअजयमाकनकईबारसंगठनात्मकनियुक्तियोंकाकामशीघ्रपूराहोनेकादावाकईबारकिया।डोटासरानेसंभावितपदाधिकारियोंकीसूचीभीतैयारकी,लेकिनसीएमगहलोतऔरपायलटकेबीचएकदर्जननामोंपरसहमतिनहींबनपानेकेकारणपदाधिकारियोंकीसूचीकोअंतिमरूपनहींदियाजासका।पायलटखेमासरकारकेसाथसंगठनमेंभीबराबरकीभागीदारीचाहताहै,वहींगहलोतऐसकरनानहींचाहते।दोनोंनेताओंकेबीचसहमतिनहींहोनेकेकारण39जिलाव400ब्लॉककांग्रेसकमेटियोंकीघोषणाअटकीहुईहै।डोटासराकाकहनाहैकिनियुक्तियोंकोलेकरविचार-विमर्शचलरहाहै।इसमाहकेअंततकनिचलेस्तरतकसंगठनात्मकनियुक्तियांहोजाएंगी।जिलाअध्यक्षोंकीनियुक्तिकोलेकरआलाकमाननेजिलोंकेप्रभारियोंसेतीन-तीननामकापैनलमांगाहै। गौरतलबहैकिपिछलेसालभीकांग्रेसकासियासीसंकटकाफीसमयतकचर्चामेंरहाथा।राजस्थानकांग्रेसमेंआपसीरारखत्महोनेकानामनहींहोरहीहै।पार्टीकेकईनेताएक-दूसरेपरमुखरहोचुकेहैं।