राष्ट्रवादी सोच के साथ देश के उत्थान को आगे बढ़ें युवा

अलीगढ़:गभानाकस्बाकीअनाजमंडीमेंबुधवारकोराष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघकेतत्वावधानमेंस्वराजआजादीकाअमृतमहोत्सवकार्यक्रमहुआ।शुभारंभमहामंडेश्वरहरिकांतमहाराजनेभारतमांकेछविचित्रपरमाल्यार्पणवदीपप्रज्वलितकरकिया।इसदौरानउन्होंनेकहाकिगुलामीकीबेड़ियोंसेदेशकोस्वतंत्रकरानेकीलड़ाईकबशुरूहुईबतानाकठिनहै,लेकिनगोस्वामीतुलसीदासनेजब'पराधीनसपनेहुंसुखनाहीं'काउद्घोषकियातोउनकेमानसमेदेशकोस्वतंत्रकरानेकीकामनारहीहोगी।उनजैसेसंतोंनेहीहमारेअंदरस्वाभिमानकीचिगारीपैदाकी।उन्होंनेकहाकिदेशकीआजादीमेंभारतकेअनेकवीरसपूतोंनेबलिदानदिया।उनकेअंदरभारतकोआजादकरानेकाजुनूनथा।सनातनसंस्कृति,हमारेमाता-पिता,गुरुजनएवंसंतोंनेउनबलिदानियोंकेअंदरस्वाभिमानकीजोचिगारीपैदाकीवहआगेचलकरस्वतंत्रतावस्वराजकीमशालबनकरउभरीऔर1947मेंदेशकोआजादीदिलाई।युवाओंकोराष्ट्रवादीसोचकेसाथदेशकेउत्थानवविश्वपटलपरउच्चशिखरपरलानेकोआगेआनाचाहिए।हरिगढ़विभागप्रचारकजितेंद्रनेशहीदोंकोनमनकरतेहुएयुवाओंसेआजादीकीरक्षाकरनेकासंकल्पदिलाया।राष्ट्रविरोधीगतिविधियों,आतंकवादसेचुनौतियोंवसामाजिकसमरसता,नारीसुरक्षावसम्मानजैसेविषयोंपरविस्तारसेप्रकाशडालतेहुएराष्ट्रवादीसोचकेसाथलवजेहाद,राजनैतिककेनामपरहिन्दुओंकोबांटनेवालोंकेमंसूबोंकोनाकामकरनेकाआह्वानकिया।उन्होंनेकहाकियहीशहीदोंकेप्रतिसच्चीश्रद्धांजलिहोगी।इसदौरानगणेशगिरी,सीतारामदास,सत्यादाससरस्वती,नंदादास,जिलासंयोजकदीपेंद्रसिंहनेभीअपनेविचारव्यक्तकिए।अध्यक्षतासुंदरलालशर्मानेवसंचालनशिवकांतरावतनेकिया।आयोजनमेंसहजिलासंघचालकनीरजगुप्ता,अनिलसारस्वत,कुंवरअभिमन्युराजसिंह,कार्यक्रमसंयोजकधर्मेंद्रठाकुर,भुवनेशकुमारसिंह,पं.श्यामबाबूशर्मा,अनिलप्रधान,जितेंद्रसिंहपम्मी,चौ.मनवीरसिंह,राजवीरसिंह,नितिशशर्मा,सुरेंद्रगिरी,राजकुमारडिस,डा.भीष्मपालसिंह,विक्रमसिंह,प्रेमपालसिंह,हरेंद्रसिंह,विपिनकुमारसिंह,राकेशशर्माप्रधान,बाबूसिंह,हरिप्रधान,रामअवतारसिंह,अतुलगुप्ता,भोलाशंकरवर्मा,पंकजमाहेश्वरी,सुमनसारस्वत,सुधागुप्ता,रमागुप्ता,रीनागुप्ता,सुषमागुप्ता,कुसुमगुप्ता,राखीवर्मा,दिनेशरावतआदिमौजूदरहे।