पुण्यतिथि पर याद किए गए सेनानी पं. देवनाथ उपाध्याय

जागरणसंवाददाता,नवरतनपुर,(बलिया):स्वतंत्रतासेनानीबालिकाविद्यालयमेंसोमवारकोभारतीयस्वतंत्रतासंघर्षमेंसहभागकरनेवालेअमरसेनानीपंडितदेवनाथउपाध्यायकी28वींपुण्यतिथिशारीरिकदूरीकेनियमोंकापालनकरतेहुएमनाईगई।संरक्षकडॉ.चंद्रशेखरउपाध्यायकहाकिवे1942केक्रान्तिकेअग्रणीनेताथे।उन्होंने1951-52मेंबेल्थरारोडमेंडीएवीकालेजकीस्थापनाकी।1978मेंअपनेगांवमेंबालिकाओंकीशिक्षाहेतुनवरतनपुरनवानगरमेंस्वतंत्रतासेनानीबालिकाविद्यालयकीस्थापनाकी।1992मेंवाराणसीमेंएकसड़कदुर्घटनामेंवेदिवंगतहोगएथे।अध्यक्षताकरतेहुएपं.देवनाथकेमानसपुत्रअबरारअहमदखांनेकहाकिबलियाके1942केजनक्रान्तिकेअनेकअग्रणीनायकोंमेंएकथे।डॉ.निर्मलपाण्डेयनेपंडितदेवनाथउपाध्यायसंगबलियाकेअनेकानेकनायकोंकेइतिहासकोलिपिबद्धकरनेकाप्रस्तावरखा।इसमौकेपरडॉ.प्रीतिउपाध्याय,अजयमिश्र,संजयसिंह,विद्यालयकीप्रधानाध्यापकशीलासिंह,गीताशुक्ला,विष्णावतीयादव,सरस्वतीपाठक,मनोरमायादव,एसरारअहमदखान,विजयशंकरयादव,कमलेशराय,प्रभुनाथराय,नेहालअहमदखान,बिट्टू,अंशिकासिंह,सृष्टिसिंहआदिमौजूदथीं।