पृथक राज्य की लड़ाई तेज करने का निर्णय : भगत सिंह वर्मा

पृथकराज्यकीलड़ाईतेजकरनेकानिर्णय:भगतसिंहवर्मा

सहारनपुर,जागरणसंवाददाता।पश्चिमप्रदेशमुक्तिमोर्चाकीबैठकमेंपृथकराज्यकीलड़ाईकोतेजकरनेकानिर्णयलियागया।मोर्चाकेअध्यक्षभगतसिंहवर्मानेकहाकिउत्तरप्रदेशदुनियाकासबसेबड़ाराज्यहैइसलिएउत्तरप्रदेशकोचारभागोंमेंबांटाजानाचाहिएऔरपश्चिमीउत्तरप्रदेशके26जिलोंकोमिलाकरपृथकपश्चिमप्रदेशकानिर्माणकियाजाए।पश्चिमप्रदेशमुक्तिमोर्चाकीगुरुवारकोव्यापारमंडलकेघंटाघरस्थितकार्यालयपरआयोजितबैठकमेंभगतसिंहवर्मानेकहाकिपृथकराज्यनिर्माणहोनेतकपश्चिमप्रदेशमुक्तिमोर्चाकासंघर्षजारीरहेगा।कहाकिपश्चिमप्रदेशकी8करोडजनताकीउन्नति,शिक्षाऔरचिकित्साअंतरराष्ट्रीयस्तरकीबनानेतथाबेरोजगारयुवाओंकोरोजगारदिलानेकेलिएपृथकराज्यजरूरीहै।सबकीखुशहालीकेलिएकिसान,मजदूर,व्यापारी,दुकानदार,बुद्धिजीवि,पत्रकार,वकीलयुवा,बेरोजगारऔरछात्रशक्तिकोएकजुटहोकरपृथकराज्यकेसंघर्षमेंकूदजानाचाहिए।बैठककीअध्यक्षतास.अरविंदरसिंहलांबा,संचालनरविंद्रचौधरीनेकिया।बैठकमेंवीरेंद्रचौधरी,डा.एसकेकाकरान,मोहम्मदफिरोजखान,डा.अशोकमलिक,मोहम्मदरावरजा,पंडितनीरजकपिल,मोहम्मदआसिममलिकमौजूदरहे।