परिवार पहचान पत्र वाला लाभार्थी ही ग्राम दर्शन पोर्टल पर दे सकता है सुझाव: डीसी

जागरणसंवाददाता,झज्जर:

डीसीकैप्टनशक्तिसिंहनेकहाकिहरियाणामेंग्रामीणक्षेत्रकेविकासकार्योंमेंग्रामीणोंकीसीधीभागीदारीसुनिश्चितकरनेकेलिएसरकारनेग्रामदर्शनपोर्टलशुरूकियाहै।इसपोर्टलमेंविकासकार्योंसंबंधीकोईभीप्रस्तावसीधेसरकारकोदियाजासकताहै।लोगगांवकेविकासकार्यसंबंधितशिकायतभीइसमेंदेसकतेहैं।केवलवहीआवेदकइसपोर्टलपरशिकायतदर्जकरसकेगा,जिसकापरिवारपहचानपत्रहोगा।

डीसीनेबतायाकिग्रामीणविकासकेसंदर्भमेंअगरविकासकार्योंसेजुड़ीकोईशिकायतहैयाफिरकोईसुझावदेनाहैतोकिसीकार्यालयकेचक्करकाटनेकीऔरअन्यकहींजानेकीजरूरतनहीं।मुख्यमंत्रीमनोहरलालनेग्रामीणोंकेविकासकार्योंसंबंधीसुझावऔरशिकायतोंकेलिएआनलाइनपोर्टलग्रामदर्शनलांचकियाहै।ग्रामीणोंकीविकासकार्योंमेंसीधीभागीदारीसुनिश्चितकरनेकेलिएसरकारनेयहपोर्टललांचकियाहै।ग्रामीणोंद्वारादिएगएसुझावोंकेआधारपरभविष्यकीविकासयोजनाओंकाखाकाभीतैयारकियाजारहाहै।

कैप्टनशक्तिसिंहनेबतायाकिग्रामीणोंद्वाराग्रामदर्शनपोर्टलपरकीजानेवालीशिकायतोंकोसीएमविडोकेसाथलिककियागयाहै,ताकिशिकायतोंकादोहरावनाहो।ग्रामीणोंद्वारादियागयासुझावऔरमांगसीधेसरपंच,पंचायतसमितिसदस्य,जिलापरिषदसदस्य,विधायकऔरसांसदकोदिखाईदेंगे।सभीजनप्रतिनिधियोंकोउनकेअधिकारक्षेत्रकेहीसुझावडेशबोर्डपरदिखाईदेंगे,जिन्हेंसंबंधितजनप्रतिनिधिसंस्तुतिकेसाथआगेबढ़ासकेंगे।पोर्टलपरसुझावयाशिकायतदर्जकरतेहीएकआईडीजनरेटहोगी,जोआवेदककोएसएमएसकेमाध्यमसेमिलेगी।साथहीआवेदककोसमय-समयपरकार्रवाईकीअपडेटसूचनाएसएमएसकेजरियेमिलतीरहेगी।पोर्टलपरआवेदकन्यूनतम50अक्षरोंमेंशिकायतदर्जकरसकतेहैं।इसकेअलावा,आवेदकफोटोअपलोडकरकेअपनीसमस्यायासुझावसरकारकेसमक्षरखसकेंगे।