प्रधान संपादक की कलम से

करीबदोसालपहलेलोकसभाचुनावकेबादभारतकीग्रैंडओल्डपार्टीकोबुरीतरहक्षत-विक्षतदेखकरहमनेआलंकारिकढंगसेपूछाथाकि''क्याकांग्रेसराखसेउठखड़ीहोसकतीहै?''अभीहालमेंअगस्त2020कीएकआवरणकथा''क्योंबिखररहीकांग्रेस?''मेंहमनेपतालगानेकीकोशिशकीथीकिक्यागांधीपरिवारकेलिएरुखसतहोनेकावक्तआगयाहै.यहसवालअबनएसिरेसेमौजूंहोउठाहै,जबभारतकीसबसेबड़ीविपक्षीपार्टीलगातारनाकामीकेगर्तमेंसमातीजारहीहै.

मार्च2020मेंउसनेमध्यप्रदेशगंवादियाऔरपिछलेहीमहीनेवहदक्षिणकेउसएकमात्रराज्यसेबेदखलहोगईजहांउसकानियंत्रणथा—पुदुच्चेरी.कांग्रेसअपनेदमपरअबकेवलतीनराज्योंमेंसत्तामेंहै—पंजाब,छत्तीसगढ़औरराजस्थान—औरयहबीतेसातदशकोंमेंउसकीसबसेछोटीराष्ट्रीयमौजूदगीहै.वहकोईऐसाव्यक्तिनहींखोजपाईजोदिवंगतअहमदपटेलसरीखेनेपथ्यसेकामकरनेवालेसिपहसालारकीजगहलेसके.ज्योतिरादित्यसिंधियासरीखेनेताओंकेजानेसेपैदाचुनौतीकोउसनेबेहदकमकरकेआंका.

किसानोंकेदेशव्यापीविरोधप्रदर्शनोंसेकांग्रेसनदारदथी.गुजरातमेंहालमेंहुएस्थानीयनिकायोंकेचुनावोंमेंवहगद्दीनशीनभाजपाकेसामनेटिकनपाईऔरबची-खुचीजमीनआमआदमीपार्टीकेहाथोंगंवादी.अगलेमहीनेचुनावोंकासामनाकरनेजारहेसभीपांचराज्योंमेंकांग्रेसमुख्यविपक्षीदलहै,लेकिनअजीबबातहैकिउनमेंसेकिसीमेंभीउसेसत्ताविरोधीभावनाकाफायदामिलनेकीसंभावनानहींजताईजारही.पश्चिमबंगालमेंउसनेसत्तारूढ़तृणमूलकांग्रेसऔरविपक्षीभाजपाकेखिलाफतिकोनेमुकाबलेकेलिएमाकपासेहाथमिलायाहै.केरलमेंउसकामुकाबलापिनाराईविजयनकीअगुआईवालीमजबूतसत्तारूढ़माकपासेहै.वहांराज्यकेबेजाननेतृत्वनेउसेखोखलाकरदियाहै.असममेंउसने15सालहुकूमतकीथी,अबगद्दीनशीनभाजपाकेखिलाफबेहदमुश्किलकामउसकेसामनेहै.तमिलनाडुमेंडीएमकेकीसत्ताकीलड़ाईमेंवहजूनियरपार्टनरहै.लगतायहीहैकिइसपार्टीनेमौकेगंवानेकाकोईमौकानहींछोड़ा.

उसकेघावोंपरनमकछिड़कतेहुएसातकांग्रेसनेताओंने,जिनमेंदोपूर्वमुख्यमंत्री—भूपिंदरसिंहहुड्डाऔरगुलामनबीआजाद—औरराजबब्बर,मनीषतिवारीऔरआनंदशर्मासरीखेपूर्वमंत्रीशामिलथे,बीतेहफ्तेजम्मूमेंएकरैलीकरकेऐलानकियाकिपार्टीकमजोरहोरहीहैऔरवेउसेमजबूतकरनेकेलिएएकसाथआएहैं.येनेता23कांग्रेसियोंकेएकसमूहतथाकथितजी-23केहिस्सेहैं,जिन्होंनेपिछलेसाल15अगस्तकोसोनियागांधीकोचिट्ठीलिखीथीऔरसंगठनचुनावकरवानेकेसाथ-साथज्यादा'सक्रियऔरउपलब्धनेतृत्व'कीमांगकीथी.जम्मूमेंशर्मानेपश्चिमबंगालमेंइंडियनसेक्युलरफ्रंटसेगठजोड़परभीपार्टीपरहमलाकिया.पार्टीधीरे-धीरेखुदकोहीकुतरतीमालूमदेतीहै.

भूमिकाएंअजीबढंगसेबदलगईहैं.कांग्रेसमेंसत्तारूढ़पार्टीसरीखाआत्मसंतोषघरकरगयालगताहै,जबकिसत्तारूढ़भाजपाऔरमोदी-अमितशाहकीजिद्दीजोड़ीविपक्षीपार्टीसरीखीअथकआक्रामकतादिखारहीहै.प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेचतुराईसेउसकेसारेनारेहथियालिएहैंऔरखुदकोमहानसुधारकऔरगरीब-समर्थकनेताकेतौरपरपेशकररहेहैं,वहींकांग्रेसकोलगातारअपनीहिंदूसाखसाबितकरनेकीतरफधकेलरहेहैं.कहपानामुश्किलहैकिसत्तारूढ़पार्टीकेलिएपंचिंगबैगहोनेकेअलावाकांग्रेसआजवाकईकिनमुद्दोंकेपक्षयाविपक्षमेंखड़ीहै.

सरकारकेखिलाफप्रहारकरनेवालोंमेंप्रमुखउसकेपूर्वअध्यक्ष50वर्षीयराहुलगांधीहीहैं,जोकिसीआधिकारिकपदपरनहींहैं.उनकाझुकावभीप्रधानमंत्रीमोदीकेखिलाफऐसेमुद्देउठानेपरहोताहैजोयातोउलटेउन्हींकोभारीपड़तेहैंयालोगोंकेगलेनहींउतरते,चाहेवह'मोदीचोरहै'नाराहो,राफेलखरीदमेंभ्रष्टाचारकेआरोपहोंयाचीनीघुसपैठकोलेकरसरकारपरकायरताकेआरोप.सोनियागांधीदोसालसेअंतरिमअध्यक्षहैंऔरउनकीसेहतनाजुकहै.प्रियंकागांधीउत्तरप्रदेशकीप्रभारीमहासचिवहैं,जोज्यादातरवक्तराज्यकेबाहरबितातीहैं.

कांग्रेस,जितनीभीबचीहुईहै,अबभीमानतीहैकिउसकीरोजी-रोटीगांधीपरिवारसेहीचलेगी.नतीजा:गांधीपरिवारकेभाई-बहनगाहे-ब-गाहेचुनावअभियानपरनिकलपड़तेहैं.राहुलगांधीहालमेंसमुद्रमेंगोतालगाकरऔरछात्रोंकेसाथदंड-बैठककेमुकाबलेमेंशामिलहोकरअवामसेजुड़ेशख्सहोनेकीछविबनानेकाजतनकरतेदेखेगए.प्रियंकानेअसममेंचायकीपत्तियांतोड़तेहुएफोटोखिंचवाकरऔरअपनीपार्टीकीतरफसेसेंधलगानेकीकोशिशकरकेएकदमदौड़तेहुएशुरुआतकी.लेकिनयहदेरसेऔरनाकाफीभीहोसकताहै.

पार्टीबदहालहै.जमीनपरउसकेपासनकार्यकर्ताहैंननेता.इससेभीबदतरयहकिजोब्रांडगांधीकभीपार्टीकोजोड़कररखताथा,वहताकतऔरचुनावीबाजारमेंअपनीमौद्रिकसाखगंवाचुकाहै.विडंबनायहहैकिऐसातबहोरहाहैजबहालकेसालोंमेंपहलीबारपरिवारकेतीनसदस्यराजनीतिमेंसक्रियहैं.अलबत्तापार्टीमेंनईजानफूंकनेकेबजाएयहगांधीत्रयीलगातारबढ़तीखाईकीसदारतकरतीमालूमदेतीहै.पार्टीकेतीनमेंसेदोमुख्यमंत्री—अमरिंदरसिंहऔरअशोकगहलोत—अबस्वतंत्रक्षत्रपहैंजिन्होंनेइशाराकरदियाहैकिअपनेराजनैतिकअस्तित्वकेलिएवेगांधीपरिवारकेऋणीनहींहैं.

हमारीआवरणकथा,'गांधीपरिवारकाअकेलापन',जोडिप्टीएडिटरकौशिकडेकानेलिखीहै,कांग्रेसकेप्रथमपरिवारकीउसविडंबनापरध्यानकेंद्रितकरतीहै,जिसमेंवहस्वयंकोपहलेकिसीभीसमयसेकहींज्यादादिशाहीनऔरअलग-थलगपारहाहै.पार्टीमेंअबभीकईप्रतिभावानऔरअनुभवीलोगहैंजोमौकामिलनेपरपार्टीकोनएसिरेसेखड़ाकरसकतेहैं.अपनीतमामगूंजतीहुईचुनावीफतहोंकेबावजूदभाजपाअबभीआखिरकारदेशभरमेंज्यादासेज्यादामहज37.6फीसदवोटहीपातीहै.

लोकतंत्रसेहतमंदतरीकेसेकामकरे,इसकेलिएजीवंतविपक्षकीभीजरूरतहै.विडंबनायहहैकितमामगलतियोंकेबावजूदकांग्रेसहमारीअकेलीदूसरीराष्ट्रीयपार्टीहै,भलेहीवहअपनेअतीतकीफीकीछायाभरबनकररहगईहो.यहदेशकीमातृपार्टीहै,जिसनेसियासीफलकपरकमसेकमसेनौसक्रियपार्टियोंकोजन्मदियाहै.कांग्रेसजनोंकेलिएअबखड़ेहोनेऔरअविश्वसनीयसाखदुबाराहासिलकरनेकावक्तआगयाहै.उसेएकपरिवारकाबंधकबनाकरनहींरखाजासकता.