पराली जलाने वाले 40 किसानों पर केस

संवादसहयोगी,मोगा:जिलेमेंपरालीजलानेववबिनाएसएमएसलगाधानकीकटाईकरनेवाले40किसानोंकेखिलाफमामलादर्जकियागयाहै।बतादेंकिअबतकचाहेजिलेमेंसाढेचारसौसेज्यादाकिसानोंकोपरालीजलानेकेआरोपमेंनामजदकियाजाचुकाहै।इसकेबावजूदभीजिलेमेंधानकीपरालीकोआगलगानेकासिलसिलाजारीहै।

थानाधर्मकोटकेसहायकथानेदारसुरजीतसिंहनेबतायाकिगांवफिरोजवालामंगलसिंहमेंतरलोकसिंह,गुरदेवसिंहवसतनामसिंहपुत्रनंदसिंहनिवासीधर्मकोटपरपरालीजलानेकेआरोपमेंनामजदकियाहै।थानाधर्मकोटकेसहायकथानेदारमनजीतसिंहनेबतायाकिरंजीतसिंहपुत्रजोगिदरसिंहनिवासीजलालाबादपूर्वीनेअपनीजमीनटीनानिवासीभिडरकलांकोठेकेपरदीहै।जिसपरटीनानेधानकीपरालीकोआगलगाईहै,पुलिसनेआरोपितकेखिलाफमामलादर्जकियाहै।वहींथानाकोटइसेखांकेसहायकथानेदारजसवंतसिंहनेबतायाकिमनजीतसिंहपुत्रप्रीतमसिंह,झिरमलसिंहपुत्रस्वर्णसिंहनिवासीदौलेवालाकेखिलाफपरालीजलानेपरकेसदर्जकियाहै।

थानाबाघापुरानाकेसहायकथानेदारबलबीरसिंहनेबतायाकिडॉ.जरनैलसिंहबराड़नेशिकायतदीकिमेजरसिंह,गमदूरसिंह,करनैलसिंह,नसीबकौर,गुरमेलकौर,करतारकौर,गुरबख्शसिह,दर्शनसिंह,बिक्करसिंह,कर्मजीतकौर,बलजीतसिंहवजगजीतसिंहनिवासीजीतासिंहवालानेधानकीपरालीकोआगलगाकरडिप्टीकमिश्नरकेआदेशोंकीअनदेखीकीहै।थानाबाघापुरानाकेहवलदारकृष्णगोपालनेबतायाकिडॉ.जरनैलसिंहबराड़कीशिकायतपरमनदीपसिंहपुत्रदर्शनसिंहवप्रीतमसिंहपुत्रईश्ररसिंहनिवासीराजकेखिलाफपरालीजलानेपरमामलादर्जकियागयाहै।

शहरमेंरोजानामजदूरीकेलिएआनेवालेहरजीतसिंह,बिक्ककरसिंह,मनदीपसिंहआदिनेबतायाकिवहसुबहआठबजेमजदूरीकरनेकेलिएशहरमेंपहुंचजातेहैं,वहींशामकोधुआंवस्मॉगसेज्यादाहोनेकेकारणदिखाईनहीदेताहै,जिसकेचलतेउनकोकामकरीबएकडेढ़घंटापहलेहीघरोंकोजानापड़ताहै।बिनाएसएमएसकंबाइनसेधानकाटनेवालोंपरभीएफआइआर

थानाबाघापुरानाकेसहायकथानेदारगुरतेजसिंहनेबतायाकिडॉ.जरनैलसिंहबराड़इंचार्जसटबलबर्निंगटीममोगानंबर4बाघापुरानानेशिकायतदीकिबलवीरसिंहपुत्रकरतारसिंह,हरनेकसिंहपुत्रआशासिंह,सुखमंदरसिंहपुत्रगुरदेवसिंह,रघुवीरसिंह,महिंद्रसिंह,सुरजीतसिंह,हरजीतसिह,गुरप्रीतसिंहपुत्रमुख्त्यारसिंह,सुरजीतकौर,कुलदीपसिंह,जगदीपसिंह,जगसीरसिंह,बलदेवसिंह,गुरप्रीतसिंह,हरमंदीपसिंह,गुरमीतसिंह,रंजीतसिंह,निर्मलसिह,कुलदीपसिंहजसविदरसिंहनिवासीबुधसिंहवालानेधानकोबिनाएसएमएससिस्टमवालीमशीनसेकटवायाहै,जिनकेखिलाफमामलादर्जकियाहै।परालीखेतमेंमिलानेपरहोरहाअधिकखर्च:किसान

किसानमनप्रीतसिंहनेबतायाकिधानकेसीजनकेदौरानकुछकिसानपरालीजलानेकीबजायबेचरहेहैं।कंबाइनकेबादथोड़ाबहुतभूसाबचताहै,जिसेजलायाजाताहै।इसेनिकालनेमेंखर्चज्यादाहैऔरइसेनिकालेबिनागेहूंकीबिजाईभीनहींकीजासकती।इसकेअलावाअगरछोटाकिसानखेतोंसेपरालीकोमिलाताहैतोट्रैक्टरवालाखेतमेंमिलानेकेलिएछहसेसातहजाररुपयेमांगरहाहै।इसकीखादबनानेमेंएकमाहकासमयलगजाताहै।ऐसेमेंगेहूंकीबिजाईनहींहोपाएगी।उन्होंनेकहाकिकिसानमजबूरीमेंपरालीजलारहेहैं।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!