फ्लायर:::यहां बगैर पंचायत भवन चल रहीं गांवों की सरकारें

जागरणटीम,अल्मोड़ा/रानीखेत:बेशकसरकारेंपंचायतोंकोसशक्तबनानेकादावाकरतीरहींहैं।मगरपर्वतीयराज्यमेंहालातएकदमउलटहैं।पंचायतराजअधिनियमकेचारदशकवउत्तराखंडगठनकेदोदशकबादभीतमामग्रामपंचायतेंऐसीहैं,जिन्हेंविकासयोजनाओंकाखाकाखींचनेकेमकसदसेबैठककेलिएभवनतकनसीबनहींहैं।अकेलेअल्मोड़ाजिलेमेंही1160मेंसे184गांवोंकीसरकारेंबगैरपंचायतभवनचलरहीं।जहांहैंभीतोजर्जरभवनबैठनेलायकनहींहैं।

पूर्वप्रधानमंत्रीराजीवगांधीविकसितवसशक्तग्रामीणभारतकेमकसदसे73वेंपंचायतीराजसंशोधनविधेयकलाए।इसकेतहतग्रामपंचायतोंकोऔरअधिकमजबूतबनानेपरकदमबढ़ाएगए।मगरमौजूदातस्वीरवास्तविकतासेपर्दाउठारही।

ब्लॉकवारपंचायतभवनोंपरनजरब्लॉक:ग्रामपंचायतें:भवनविहीन

=द्वाराहाट:12236कुछजर्जर

=भैंसियाछाना:5318

(इनकेअलावासल्ट,स्यालदेवभिकियासैंणबीडीओसेसंपर्ककियागयापरफोननहींउठे)

'शासनवविभागपंचायतोंकीमजबूतीकोप्रयासरतहै।जिलेकीजिनग्रामपंचायतोंमेंभवननहींहैं,प्रस्तावनिदेशालयकोभेजेगएहैं।जीर्णक्षीर्णभवनोंकीमरम्मतकेप्रस्तावभीभेजेहैं।बजटकोमंजूरीमिलतेहीकामशुरूकराएंगे।

-गोपालसिंहअधिकारी,प्रभारीडीपीआरओअल्मोड़ा'

'हमारेब्लॉकमेंपांचपंचायततोछोड़िएजनमिलनकेंद्रतकनहींहैं।11पंचायतभवनजर्जरस्थितिमेंहैं।वहांपंचायतकीबैठकनहींहोसकती।पांचनएनिर्माणतथाबदहालपड़े11जर्जरपंचायतघरोंकीमरम्मतकाप्रस्तावदोबाराभेजेंगे।

-बृजमोहनगुरुरानी,बीडीओचौखुटिया'

'ग्रामीणविकासकीयोजनाएंसामूहिकबैठककरहीबनतीहैं।बैठनेकेलिएपंचायतघरतोहोनेहीचाहिए।उम्मीदथीकिराज्यगठनकेबादउपेक्षितपंचायतोंकेअपनेभवनबनेंगेलेकिनकोईसुधनहींलीजारही।

-ईश्वरदत्तजोशी,संयोजकउत्तराखंडसंसाधनपंचायत'