पहाड़ों पर सबक सीखें मेहमान, जान जोखिम में डालने से नहीं चूकते

प्राकृतिकसौंदर्यसेभरपूरहिमाचलप्रदेशपर्यटकोंकेलिएआकर्षणकाकेंद्ररहाहै।इसीकानतीजाहैकिदेश-विदेशसेलाखोंकीसंख्यामेंलोगयहांहरसालआतेहैं।यहांकामौसम,खूबसूरतपहाड़वप्राकृतिकनजारेलोगोंकोआकर्षितकरतेहैं।देश-विदेशकेपर्यटकहिमाचलप्रदेशकीवादियोंमेंसुकूनकेपलोंकीतलाशमेंआतेहैं।कईबारचेतावनीयासरकारीआदेशकोधताबताकरपर्यटकपहाड़ोंकीसैरकेलिएनिकलजातेहैंऔरजानजोखिममेंडालनेसेनहींचूकते।कुल्लूजिलेकेजगतसुखभनाराकीपहाड़ियोंमेंदिल्लीकाएकट्रैकर10अप्रैलकोलापताहोगया।12दोस्तोंकादल10अप्रैलकोट्रैकिंगपरनिकलाथा।उसीदिनट्रैकिंगकेदौरानएकयुवकरास्ताभटककरगुमहोगया।उम्मीदकीजानीचाहिएकियुवकसुरक्षितबचालियाजाएगा।इससेकुछदिनपहलेकांगड़ाजिलेकेत्रियुंडकीओरट्रैकिंगपरनिकलेगाजियाबादकेबीटेकछात्रोंकादलभीखराबमौसमकेकारणरास्ताभटकनेसेलापताहुआथा।गनीमतयहरहीकिसमयसेउनकेलापताहोनेकीजानकारीमिलगईऔरउन्हेंसुरक्षितनिकाललियालियागया।कुछसालपहलेमंडीकेलारजीमेंहैदराबादकेसंस्थानके24छात्रोंवएकशिक्षककोसेल्फीकेचक्करमेंजानसेहाथधोनापड़ाथा।समझसेपरेहैकिबाहरसेआनेवालेलोगपहाड़मेंआकरखतरेसेबेखबरक्योंहोजातेहैं।उनकीखुदकीलापरवाहीकेकारणकईहादसेजन्मलेचुकेहैं।कईऐसेहादसेहैं,जोनियमोंवचेतावनीकीअनदेखीकेकारणहुए।प्रदेशकेराजस्वकाबड़ाहिस्सापर्यटनसेहीआताहै।हजारोंपरिवारोंरोजी-रोटीपर्यटनसेजुड़ेकारोबारसेचलतीहै।प्रदेशकीसरकारोंकीप्राथमिकतामेंभीपर्यटनकोप्रमुखतादीजातीहै।इनसबकेबीचअगरकोईहादसाहोताहैतोप्रदेशकीछविधूमिलहोतीहै।लोगोंकोसमझनाहोगाकिनियमवबंदिशेंउनकेहितकेलिएहैं।ऐसेमेंउनकापालनकरनासभीकादायित्वहै।मेहमानोंकोअपनेविवेककाप्रयोगकरनाचाहिएकिक्याउनकेहितमेंहैऔरक्यानहीं।पर्यटकमेहमानहैंऔरउन्हेंपूर्वमेंहुएहादसोंसेसबकसीखनाचाहिए।ऐसाव्यवहारकरनेसेबचनाचाहिए,जिसमेंजोखिमहो।नियमोंकापालनकरनेकेलिएहरपक्षकोजिम्मेदारीकानिर्वहनकरनाहोगा।

[स्थानीयसंपादकीय-हिमाचलप्रदेश]