पौधों के विकास के लिए करें जैविक खाद का प्रयोग

जागरणसंवाददाता,बिलरियागंज(आजमगढ़):बिलरियागंजब्लाकक्षेत्रकेतुर्कपड़रीएवंदेवरियाजफ्तीमाफीस्थितपौधशालाकागुरुवारकोनिरीक्षणकरनेपहुंचेवनसंरक्षकबीसीब्रह्माएवंप्रभागीयनिदेशकवानिकीजेडीमिश्रनेनिर्देशदियाकिपौधोंकेविकासकेलिएरसायनिकखादकाप्रयोगकतईनकियाजाए।इसकेलिएपौधोंमेंजीवामृतकाछिड़कावतथावर्मीकम्पोस्टवजैविकखादकाप्रयोगकरें।

प्रभागीयनिदेशकजेडीमिश्रनेवनरक्षकएवंवनमालीकोनिर्देशितकियाकिपौधोंकेविकासकेलिएसमय-समयपरनिराई-गुड़ाईएवंसिचाईकरें,ताकिपौधोंकाविकासतेजीसेहोएवंसमयसेपौधारोपणहेतुपौधेवितरितकिएजासके।वनरेंजमहराजगंजकेरेंजरप्रमोदकुमारनेबतायाकि2022मेंप्रदेशमेंसरकारद्वाराकुल35करोड़पौधरोपणकरनेकालक्ष्यरखागयाहै।इसलक्ष्यकोपूर्णकिएजानेकेलिएवनविभागनेजिलेमें20लाख34हजार680पौधोंकीरोपाईकालक्ष्यनिर्धारितकियागयाहै।वनसंरक्षकएवंप्रभागीयनिदेशकनेकेशवपुरआरक्षितवनकाभीनिरीक्षणकिया।निरीक्षणकेदौरानरेंजरप्रमोदकुमार,फारेस्टरअवधबिहारी,वनरक्षकसतीशचंद्रयादवएवंअरविदशरणआदिमौजूदथे।