नशे में टल्‍ली ड्राइवर चला रहा था बस, फिर यात्री ने संभाली स्‍टेयरिंग

बठिंडा,[गुरप्रेमलहरी]।पीआरटीसीकीएकबससोमवारशामकोचंडीगढ़सेबठिंडाकेलिएचली।थोड़ीदेरतोसबठीकठाकरही,लेकिनइसकबादयात्रियोंकोझटकेलगनेशुरूहोगए।बसआड़े-तिरछेचलरहीथी।कभीयेदाएंजातीतोकभीबाएं।इससेवेदहशतमेंआगए।यात्रियोंनेफिरदेखाकिड्राइवरनशेमेंधुतहोकरबसचलारहाहै।इसकेबादएकयात्रीनेबसचालककोहटायाऔरस्‍टेरिंगथामी।इसकेबादयात्रियोंकीजानमेंजानआई।

बठिंडाकेरहनेवालेहरविंदरसिंहखालसानेबतायाकिवहसोमवारकोचंडीगढ़केबसस्टैंडसेशाम5.40बजेवालीरोडवेजकीबस(पीबी11-8475)मेंबठिंडाकेलिएरवानाहुए।पटियालातकतोड्राइवरबसकोसहीसलामतलेकरआया,लेकिनइसकेबादबसउसकेकंट्रोलसेबाहरहोनेलगी।ड्राइवरनशेमेंथाऔरबसकभीइधरतोकभीउधरलेजानेलगा।

यहभीपढ़ें:हनीप्रीतकेगिरफ्तारीवारंटकेसंगदिल्‍लीमेंछापा,फिरचकमादेगई

ऐसेमेंसवारियोंंनेड्राइवरकोगाड़ीरोकनेकोकहालेकिनवहनहींमाना,सवारियोंनेजबदबावबनायातोउसनेबसरोकदी।सवारियोंंनेदेखाकिड्राइवरनेशराबपीहुईहै।इसकेबादसभीनेमिलकरउसकीपिटाईकरदी।इसकेबादयात्रियोंनेकंडक्टरसेबसचलानेकेबारेमेंकहातोउसनेसाफमनाकरदिया।उसनेबतायाकिउसेड्राइविंगनहींआती।इसकेबादपटियालासेरामपुराकेलिएसफरकररहेयात्रीहरबंससिंहनेबसड्राइवकी।

दोबारकैंटरमेंमारीटक्कर

बसमेंसफरकररहीईजीएसएसटीआरअध्यापकयूनियनकीप्रधानसवरनादेवीनेबतायाकिपटियालाबसस्टैंडसेबाहरनिकलनेकेबादड्राइवरनेपुलिसनाकेकेपासएककैंटरकोटक्करमारदी।बादमेंजबदोबाराबसचलानेलगातोदूसरीबारफिरटक्करमारदी।आगेआकरतीनझटकेमारेऔरसवारियांगिरनेलगी।ड्राइवरबसरोकनेकीबजायहंसनेलगातोयात्रियोंनेउसकोसीटसेउतारदिया।

यहभीपढ़ें:दिल्लीमेंहैहनीप्रीत,हाईकोर्टमेंदाखिलकीअग्रिमजमानतअर्जी

बड़बरसेबसबदली

जागरणसंवाददातानेघटनाकीजानकारीहोनेपरमामलेसेपीआरटीसीकेएमडीमनजीतसिंहनारंगकोअवगतकराया।इसकेबादबड़बरमेंदूसरीबसभेजीगईऔरसभीसवारियोंकोउसमेंशिफ्टकरदियागया।

यात्रियोंकाआरोप,डीआइकाजवाबभीगैरजिम्मेदारानाथा

बसमेंसवारहरविंदरसिंहखालासानेबतायाकिउन्होंनेकंडक्टरकोजीएमसेबातकरनेकोकहातोउसनेडीआइहरजीतसिंहसेबातकी।हरजीतसिंहकाजबावभीबड़ागैरजिम्मेदारानारहा।उन्‍होंनेकहाकिआपरामपुरातकतोबसकोलेकरआएं,आगेदेखलेतेहैं।

----------नौकरीसेजाएगाड्राइवर

''मुझेइसकेबारेमेंकोईजानकारीनहीं। मैंपताकरलेताहूं।ऐसाहोनातोनहींचाहिए।मैंकंडक्टरसेबातकरताहूं।ड्राइवरकेशराबपीनेकाकनफर्महोगयाहै।उसकेखिलाफएक्शनलेरहेहैंऔरअबवहअपनीनौकरीसेजाएगा।

-सुरिंदरसिंह,जीएम,पीआरटीसी,बठिंडाडिपो।

यहभीपढ़ें:चंडीगढ़काएकऔरछात्रब्‍लूव्‍हेलगेमकीचपेटमें,कईदिनोंसेगायब

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!