नौशहरा ढाला में दो दिवसीय जोड़ मेला संपन्न, देश-विदेश से उमड़ी संगत

संवादसूत्र,झब्बाल:भारत-पाकअंतरराष्ट्रीयसीमास्थितगांवनौशहराढालामेंबैसाखीपर्वकेसंबंधमेंदोदिवसीयजोड़मेलागुरुद्वाराभगतबाबाजल्लणदासजीमेंसंगतकीओरसेकरवायागया।गुरुद्वारासाहिबकेमुख्यसेवादारवएसजीपीसीकेमेंबरबाबानिर्मलसिंहनौशहराढालावजसमिदरसिंहसंधूनेकहाकियहजोड़मेलाइलाकेकीसंगतकेसहयोगसेउत्साहपूर्वकमनायागयाजिसमेंदेश-विदेशसेसंगतनेगुरुघरमेंहाजिरीभरी।उन्होंनेकहाकिरखेगएश्रीअखंडपाठसाहिबजीकेभोगडालेगए।इसकेउपरांतधार्मिकदीवानसजाएगए।जिसमेंविभिन्नकीर्तनीकथावाचकवढाडीजत्थोंनेभगतबाबाजल्लणदासजीकेजीवनपररोशनीडाली।

इसमौकेपरकबड्डीकीटीमोंकेबीचमैचकरवाएगए।संगतकेलिएठंडे-मीठेजलकीछबीलेवगुरुकालंगरवितरणकियागया।इसअवसरपरकंवरअजीतसिंहसंधू,सरपंचदविदरसिंहलालीढाला,केहरसिंह,मनजिदरसिंहमन्ना,गुरप्रीतसिंह,अमरीकसिंह,हरभजनसिंह,बलकारसिंह,सुखजीतसिंह,महाबीरसिंह,सहजप्रीतसिंह,मास्टरहरभजनसिंह,हरदेवसिंहशाह,अर्शढाला,अमृतढाला,करनबावा,सोनूबावामौजूदरहे।यूक्रेनभेजीमेडिकलमदद

आइएचएफाउंडेशनकीओरसेयूक्रेनमेंजंगसेप्रभावितलोगोंकीमददकेलिएजरूरीदवाएंभेजीगईहै।संगठनकेचेयरमैनसतनामसिंहआहलूवालियाकीओरसेदवाएंभेजनेसेपहलेश्रीहरिमंदिरसाहिबमेंमाथाटेकागया।इसदौरानहरिमंदिरसाहिबकेग्रंथीज्ञानीसुलतानसिंह,ज्ञानीगुरमिदरसिंहवअरदासियाभाईगुरचरणसिंहकीओरसेअरदासकरदवाएंयूक्रेनकेलिएभेजीगई।सतनामसिंहनेबतायाकिरूसऔरयूक्रेनमेंचलरहीजंगमेंबहुतलोगघरोंसेबेघरहोगएहैं।वहांलोगसुरक्षितस्थानरहनेकेलिएढूंढरहेहैं।उन्होंनेकहाकिवहांदवाओंकीकाफीजरूरतहै।जिसकोमुख्यरखउनकेसंगठनकीओरसेयूक्रेनकीएम्बेसीसेसंपर्ककरकेजरूरीदवाओंकाप्रबंधकरजरूरतमंदोंकेलिएयहदवाएंभेजीजारहीहैं।उन्होंनेकहाकिवहबहुतजल्दीअपनेसंगठनकेसाथियोंकेसाथयूक्रेनकेसाथलगतेपोलेंडमेंजाएंगेऔरवहांकेहालातोंकाजायजालेकरजरूरतकेअनुसारऔरभीसामग्रीवहांभेजेंगे।इसदौरानउनकेसाथबीबीखीवीजीसेवासोसायटीकेहरमीतसिंहसलूजा,जतिदरपालसिंह,बीबीपरमजीतकौरपिकीऔरजसविदरसिंहभीमौजूदरहे।