मुगलकालीन दिल्ली को संवारने के लिए बनेगा एक प्राधिकरण

नईदिल्ली[नेमिषहेमंत]।मुगलोंनेयूंतोपूरेदेशपरराजकिया,लेकिनआगराकेअलावाउनकीशक्तिकाकेंद्ररहेदिल्लीकेशाहजहांनाबादकेदिनअबबहुरेंगे।शाहजहांनाबादपुनर्विकासनिगम(एसआरडीसी)नेइसपूरेमुगलकालीनक्षेत्रकेविकासकेलिएप्राधिकरणबनानेकाफैसलाकियाहै।23दिसंबरकोबोर्डकीबैठकमेंइसप्रस्तावकोमंजूरीदेदीगईऔरएसआरडीसीकोजल्दप्रस्तावतैयारकरनेकेलिएकहागयाहै।इसेआगेकीकार्रवाईकेलिएशहरीविकासविभागकेमाध्यमसेदिल्लीसरकारकोसौंपाजाएगा।यहकवायदमास्टरप्लान2041कोध्यानमेंरखकरकीगईहै,ताकि‘स्पेशलएरिया’केरूपमेंतयतकरीबन380वर्षपुरानीइसवालसिटी(दीवारोंसेघिराशहर)कायोजनाबद्धतरीकेसेविकासकियाजासके।विकासहोनेकेबादइसपुरानेशहरकोयूनेस्कोकीधरोहरसूचीमेंशामिलकरानाआसानहोजाएगा।

एसआरडीसीकेएकअधिकारीकेमुताबिक,वालसिटीकाप्राधिकरणकाफीहदतकनईदिल्लीनगरपालिकापरिषद(एनडीएमसी)कीतरहकामकरेगा,जिसकेपासअपनेअंतर्गतआनेवालेक्षेत्रकेविकासकाएकीकृतअधिकारहोगा।मौजूदासमयमेंछहगेटोंकेभीतरबसेमुगलकालीनदिल्लीकेविकासकीजिम्मेदारीकईविभागोंऔरउत्तरीनिगमकेपासहै।सिविकएजेंसियोंमेंतालमेलनहींहोनेकेकारणहीयहशहरधीरे-धीरेअपनीपहचानखोतीजारहीहै।चांदनीचौककेपुनर्विकासकाकामभीहाईकोर्टकीनिगरानीमेंहोरहाहै,जिसकेतहतलालजैनमंदिरसेफतेहपुरीमस्जिदतककेमुख्यमार्गकोमोटरवाहनरहितसड़क(एनएमवी)बनानेकेसाथफुटपाथोंकासुंदरीकरणकियाजारहाहै।अबइसकादायराबढ़ाकरचांदनीचौककेसंपर्कमार्ग,एसपीमुखर्जीमार्गऔरजामामस्जिदक्षेत्रतककियागयाहै।नवंबर2018मेंभीपुरानीदिल्लीकेविकासकेलिएइसतरहकाप्रस्तावआयाथा,लेकिनदिसंबर2018मेंचांदनीचौककेपुनर्विकासकाकामप्रारंभहोनेकेसाथबातआगेनहींबढ़पाईथी।मानाजारहाहैकिमौजूदासमयमेंपुनर्विकासकाकाममार्च2021मेंपूराहोजाएगा।

शाहजहांनेरखीथीशाहजहांनाबादकीनींव

शाहजहांनाबादकीनींवमुगलबादशाहशाहजहांनेवर्ष1639मेंरखीथीऔरवर्ष1650मेंयहबनकरतैयारहुआ।इसेकिलाकेअलावाहवेलियांवऐतिहासिकस्थलोंकेलिएजानाजाताहै।यहअपनीखाससभ्यतावसंस्कृतिसमेटेहुएहै।जायकेऔरबाजारोंकेलिएभीयहविश्वप्रसिद्धहै।वैसे,इसकेपुनर्विकासकेलिएपूर्वमुख्यमंत्रीशीलादीक्षितनेवर्ष2008मेंएसआरडीसीकागठनकियाथा,लेकिनउसकेपासकोईविशेषअधिकारनहींहै।हरकार्यकेलिएसिविकएजेंसियोंपरनिर्भररहनापड़ताहै।

Coronavirus:निश्चिंतरहेंपूरीतरहसुरक्षितहैआपकाअखबार,पढ़ें-विशेषज्ञोंकीरायवदेखें-वीडियो