मेघालय: अस्तित्व बचाने के चक्कर में बीजेपी और एनपीपी के करीब आ रही कांग्रेस, 12 विधायक दे चुके हैं 'धोखा'

गुवाहाटी,18दिसंबर:हालहीमेंमेघालयमेंकांग्रेसकोबड़ाझटकालगाथा,जहां12बागीविधायकोंनेटीएमसीज्वाइनकरली।इसकेबादसेकांग्रेसराज्यमेंअपनेअस्तित्वकोबचानेकीकोशिशकररहीहै।इसकेचक्करमेंउसेनेशनलपीपुल्सपार्टी(एनपीपी)केकरीबआनापड़रहा,जोमौजूदावक्तमेंराज्यकेसत्तारूढ़गठबंधनकानेतृत्वकरतीहै।खासबाततोयेहैकिअस्तित्वकीइसलड़ाईमेंदेशकीसबसेपुरानीपार्टीबीजेपीकेभीकरीबआगई,क्योंकिवोएनपीपीकीसहयोगीहै।

दरअसलनवंबरकेमध्यतकमेघालयमेंकांग्रेसकीमुख्यप्रतिद्वंद्वीपार्टीएनपीपीथी,लेकिनममताबनर्जीनेवहांपरएकबढ़ियादांवचलाऔरउसके12विधायकएकसाथटीएमसीमेंचलेगए।इसकेबादकांग्रेसनेमेघालयलोकतांत्रिकगठबंधन(एमडीए)केसाथमिलकरकामकरनेकाफैसलाकिया।इसकेपीछेउनकेनेताजनताकाहितबतारहेहैं।पार्टीनेमुख्यमंत्रीकोनराडसंगमाकोभीइसकीजानकारीदेदीहै।मामलेमेंकांग्रेसनेताअम्पारीनलिंगदोहनेकहाकिहमनेमेघालयकेलोगोंकेव्यापकहितमेंसरकारकोसमर्थनदेनेकाफैसलाकियाहै।

मेघालयकेमुख्यमंत्रीकॉनराडसंगमाकीमांग,'AFSPAकोकियाजाएनिरस्त'

मेघालयकेराजनीतिकविशेषज्ञोंनेकहाकिकांग्रेसकेपहले17विधायकथे,लेकिन12टीएमसीमेंचलेगए।अगर2023कीशुरुआतमेंहोनेवालेविधानसभाचुनावसेपहलेबचेहुएपांचविधायकभीएनपीपीमेंविलयकरलें,तोकिसीकोआश्चर्यनहींहोनाचाहिए।विधायकोंकेअलावाबहुतसेकार्यकर्ताओंऔरनेताओंनेभीपार्टीछोड़ी,जिसवजहसेस्थितिज्यादागंभीरहोगई।वहींकांग्रेसटीएमसीपरखरीद-फरोख्तकाआरोपलगारही,जिसपरप्रदेशअध्यक्षनेकहाकिउनकाइरादाकिसीकोधमकानानहींहै।वोबसएकऐसीपार्टीकानिर्माणकरनाचाहतेहैं,जोजनताकेलिएकामकरे।