माइनरों में बिन पानी सब सून

सीतापुर:गोंदलामऊविकासक्षेत्रसेनिकलीलौलीमाइनरकभीकिसानोंकेलिएवरदानसाबितहोतीथी।जबइसमेंपानीआताथातोकिसानोंको¨सचाईकीसुविधामिलतीथी।वर्षोंसेइसमेंपानीनहींआया।परेशानकिसाननिजीसाधनोंकेसहारेहोकररहगए।आजनिजीनलकूपनहींहैअथवाकिरायेकीव्यवस्थानहींतोखेतीकरनेकीकिसानसोंचनहींसकता।रबीअभियानकेसमयपानीकीजरूरतहै।लेकिनलौलीमाइनरपानीविहीनहै।¨सचाईविभागकाअजीबरोस्टरहै।इससमयसफाईकराईजारहीहै।वहभीऔपचारितानिभाईजारहीहै।किनारे-किनारेसफाईहोरही।सिल्टनहींनिकालीजारहीहै।माइनरोंकेकिनारेदर्जनोंगांवोंकीहजारोंएकड़खेतीहै।लेकिन¨सचाईकेलिएकिसानोंकोपानीनहींमिलपारहाहै।साधनसंपन्नकिसानतोकिसीतरहव्यवस्थाकरलेतेहैंलेकिनछोटेतबकेकेकिसानसबसेअधिकपरेशानीमेंरहतेहैं।उनकेपासपैसेहोंतोकिरायेसे¨सचाईकराएं।