लोकतांत्रिक व्यवस्था खत्म करना चाह रही सरकार: भीम

जयनगर(कोडरमा):झारखंडसरकारग्रामीणविकासविभाग(पंचायतीराज)केसंकल्पपत्रज्ञापांक01स्था(वि)25/2018809रांची,दिनांक13मार्च2018केतहतहोरहेग्रामविकाससमितिकेगठनकेविरोधमेंगुरुवारकोमुखियासंघनेजयनगरप्रखंडमुख्यालयपरगुरुवारकोधरनादिया।धरनामेंमुख्यरूपसेमुखियासंघकेजिलाअध्यक्षभीमकुमारयादवउपस्थितथे।

इसमौकेपरभीमकुमारयादवनेकहाकिग्रामविकाससमिति/आदिवासीविकाससमितिगठनकरनेकाजोनिर्देशपंचायतोंकोदियागयाहै,वहसंवैधानिकरूपसेउचितनहींहै।यहसीधेतौरपरमुखियाकेअधिकारोंकाहननहै।पंचायतीराजनियमावलीकेतहतगांवकीसरकारकागठनलोकतांत्रिकतरीकेसेगांवकीव्यवस्थाकोलागूकरनेकेलिएकियागयाहै।लेकिनसरकारइसकेसमानांतरएकअलगव्यवस्थासीधेतौरपरबनानाचाहरहीहै।

उन्होंनेकहाकि5अप्रैलसेशुरूहुएग्रामविकाससमिति/आदिवासीविकाससमितिगठनकीप्रकियाकोशीघ्रनिरस्तकियाजाए।अन्यथाबाध्यहोकरराज्यकेमुखियासड़कजामकरवृहदआंदोलनकरेंगे।मुखियाअशोकयादवनेकहाकिजबग्रामविकाससमितिकागठनकरनाहीथातोपंचायतचुनावहीक्योंकरायागया?उन्होंनेकहाकिरघुवरसरकारझारखंडकेमुखियाकोबंधुआमजदूरसमझरही,परंतुउसकीइसकूटनीतिकोकामयाबनहींहोनेदियाजाएगा।

मुखियाअर्चनाकुमारी,अंजूदेवीनेकहाकिकेरल,राजस्थान,महाराष्ट्रकीतरहझारखंडमेंमुखियाकोउनकेशक्तियोंकोनहींदीजारही,बल्किऔरछीनाजारहाहै।उन्होंनेकहाकिसंविधानके73वेंसंशोधनमेंकहागयाहैकिपंचायतीराजव्यवस्थाकेमाध्यमसेस्थानीयस्वशासनस्थापितकरनाहैताकिप्रत्यक्षरूपसेग्रामसभाकाभागीदारीहोसके।परंतुग्रामविकाससमितिकागठनकरनापूर्णगैरसंवैधानिकहै।

धरनाकोअजमेरीखातून,¨हदकिशोरराम,उषादेवी,लाखपतयादव,शहजादआलम,अजयकुमार,लक्ष्मणयादवआदिनेभीसंबोधितकियाऔरचेतावनीदेतेहुएकहाकिअगरग्रामविकाससमितिकोनहींरोकागयातोलड़ाईआर-पारकीहोगीऔरसभीमुखियासड़कपरउतरआएंगे।

धरनाकीअध्यक्षताप्रखंडअध्यक्षसुरेंद्रप्रसादयादवनेकियाजबकिसंचालनसचिवबालालखेंद्रपासवाननेकिया।धरनाकेउपरांतमुखियासंघकाएकप्रतिनिधिमंडलराज्यपालकेनामप्रभारीजीपीएसकोसौंपा।मौकेपरबैजनाथप्रसादरजक,फुलमतीदेवी,बबीतादेवी,देवकीदेवी,बसंतीदेवी,उर्मिलादेवी,कौसरपरवीन,सरिता¨सह,उपमुखियाअशोकयादव,चूरनखानआदिउपस्थितथे।मुखियाकोअधिकारसेवंचितकरनाचाहतीहैसरकार:जयशंकर

सतगावां:सतगावांप्रखंडमुख्यालयपरिसरमेंमुखियासंघकेप्रखण्डअध्यक्षसरितासरोजकीअध्यक्षतामेंगुरुवारकोग्रामविकाससमिति/आदिवासीविकाससमितिगठनकेविरोधमेंधरनादियागया।इटायमुखियाप्रतिनिधिजयशंकरप्रसादनेकहाकिसंविधानके73वेंसंशोधनकरत्रिस्तरीयपंचायतचुनावकरायागया2010मेंहीमुखियाकोसरकारकेद्वाराबहुतसारीशक्तियांप्रदानकीगई,जिसकाक्रियान्वयनभीहोरहाहै।सरकारकास्पष्टआदेशहैकिपंचायतकेअन्तर्गतकिसीभीसमितिकागठनमुखियाकीअध्यक्षतामेंकरनाहैऔरकईसमितियोंकागठनभीकियागया।बावजूदइसकेसरकारएकअलगसमितिकागठनकरमुखियाकोउसकेअधिकारसेवंचितकरनाचाहतीहै।

मौकेपरइटायमुखियासरितासरोज,नावाडीहमुखियानन्दलालयादव,टेहरोमुखियाशर्मिलादेवी,बासोडीहमुखियाअनितादेवी,खुट्टामुखियामथुराप्रसादयादव,कोठियारपंचायतमुखियाकान्तिदेवी,समलडीहमुखियाकारणराम,अंबाबादमुखियायूनुसअली,मरचोईमुखिया¨पकीदेवी,राजाबरमुखियापरमेश्वरशर्मावमाधोपुर केनामशामिलथे।मरकच्चो:प्रखंडमुख्यालयपरिसरमेंभीमुखियासंघनेधरनाप्रदर्शनकरसरकारकेप्रतिरोषजताया।इसदौरानप्रदर्शनपरबैठेमुखियासंघकेसदस्योंनेसरकारकेविरोधमेंजमकरनारेबाजीकी।उसकेबाद संघकीओरसेराज्यपाल केनामबीडीओज्ञानमणिएक्काकोज्ञापनसौंपा।ज्ञापनमेंमुखियासंघकेअध्यक्ष दिवाकरतिवारी,विजय¨सहमोसाकिरमियां,राजीवकुमारपांडेय,मंजूरआलमम¨नदरराम,मंजूदेवी,किरणदेवी,कुसुमदेवीआदिकेहस्ताक्षरहैं।