कर्नाटक में उपचुनावों से पहले कांग्रेस के अंदर मतभेद सामने आये

बेंगलुरु,26सितंबर(भाषा)कर्नाटकमेंविधानसभाकी15सीटोंपरउपचुनावकीतैयारियोंकेबीचकांग्रेसकीबृहस्पतिवारकोहुईएकबैठकमेंपार्टीकेकुछवरिष्ठनेताओंकेबीचमतभेददिखेऔरपार्टीबंटीहुईनजरआई।सूत्रोंनेयहजानकारीदी।कर्नाटकमेंविधानसभाकी15सीटोंपरउपचुनावकेतहत21अक्टूबरकोमतदानहोगा।प्रदेशकांग्रेसचुनावसमितिकीएकबैठकमेंपार्टीमहासचिवके.सी.वेणुगोपालभीशामिलहुए।इसमेंकुछवरिष्ठनेताओंनेप्रदेशनेतृत्वकेएकतरफातरीकेसेकामकरनेकोलेकरऔर(लोकसभा)चुनावमेंपार्टीकीकरारीशिकस्तकेलिएजवाबदेहीतयनहींकियेजानेकोलेकरअपनीनाराजगीजाहिरकी।पार्टीकेएकशीर्षपदाधिकारीकेमुताबिककर्नाटकप्रदेशकांग्रेसकमेटीप्रमुखदिनेशगुंडुरावऔरकांग्रेसविधायकदलकेनेतासिद्धरमैयाकीबी.के.हरिप्रसादऔरके.एच.मुनियप्पानेआलोचनाकी।दोनोंनेताओंनेउम्मीदवारोंकेचयनप्रक्रियाकेदौरानपरामर्शनहींलियेजानेऔरउम्मीदवारोंकेनामोंकोलगभगअंतिमरूपदेदियेजानेपरआपत्तिजताई।बैठककेबादवेणुगोपालनेसंवाददाताओंसेकहा,‘‘हमनेमुद्दोंपरचर्चाकी,हमउपुचनावोंकेलिएउम्मीदवारोंकीसूचीकोअंतिमरूपदेनेकेकरीबपहुंचगयेहैं,एकयादोदिनोंमेंहमउम्मीदवारोंकीघोषणाकरदेंगे...।’’उन्होंनेकहा,‘‘हमनेहरसीटकेबारेमेंलंबीचर्चाकी,हमचर्चाकीगईचीजोंकोध्यानमेंरखेंगेऔरहमअपनेनेताओं,स्थानीयनेताओंसेआगेभीपरामर्शकरेंगे...।’’राज्यमें17विधायकोंकोअयोग्यकरारदियेजानेकेबाद15सीटोंपर21अक्टूबरकोउपचुनावकरायेजारहेहैं।इसकेनतीजोंकीघोषणा24अक्टूबरकोहोगी।जिन15सीटोंपरउपचुनावहोरहेहैंउनमें12काप्रतिनिधित्वकांग्रेस,जबकितीनकाप्रतिनिधित्वजद(एस)विधायककररहेथे।प्रदेशकांग्रेसप्रमुखरावनेकहा,‘‘हमउम्मीदवारोंकीसूचीकोअंतिमरूपकलशामतकयाउसकेअगलेदिन(शनिवार)तकदेदेंगे।’’बैठकमेंमतभेदऔरबहसकेबारेमेंपूछेगयेएकसवालकेजवाबमेंरावनेकहाकिकांग्रेसमेंकोईभ्रमनहींहैऔरभ्रमपैदाकरनेकेइरादेसेझूठीसूचनाफैलाईजारहीहैजबकि‘‘भाजपामेंकहींअधिकभ्रमहै।’’उन्होंनेकहा,‘‘चर्चाएंहुआकरतीहैं,यदिआपचर्चानहींहोनेदेंगेतोअंदरबैठकरहमक्याकरेंगे?हमजबबैठतेहैंतबमुद्दोंपरचर्चाकरतेहैं,विचारसाझाकरतेहैं,अलग-अलगविचारप्रकटकरतेहैं।’’लोकसभाचुनावमेंमुनियप्पाजैसेकांग्रेसउम्मीदवारोंकीहारकेलिएजिम्मेदाररहेकथितरूपसेपार्टीकेअंदरकेलोगोंकेखिलाफकार्रवाईनहींकरनेकोलेकरआलोचनाओंकासामनाकररहेरावनेउनलोगोंकीभूमिकापरभीसवालउठायेजोपार्टीकोसंगठितकरनेकेबजायउनकेखिलाफआरोपलगारहेहैं।रावनेअपनेइस्तीफेकीखबरोंकोअटकलबाजीकरारदेतेहुएकहा,‘‘जबहमचर्चाकरतेहैं,विभिन्नविचारसामनेआतेहैं,कभी-कभीमतभेदहोसकतेहैं,लेकिनहमयहदेखतेहैंकिपार्टीहितमेंक्याहैऔरफिरनिर्णयलेतेहैं।’’मुनियप्पानेसिद्धरमैयापरकोलारमेंउनकांग्रेसनेताओंकोसंरक्षणदेनेकाआरोपलगाया,जिन्होंनेलोकसभाचुनावकेदौरानउनके(मुनियप्पाके)खिलाफकामकियाथा।सूत्रोंकेमुताबिकइसबातकोलेकरबैठकमेंदोनोंनेताओंकेबीचबहसहुई।वेणुगोपालनेभीपार्टीकेअंदरदरारपैदाहोनेकीखबरोंकोखारिजकरतेहुएकहा,‘‘आपऐसाकैसेकहसकतेहैं?हरकोईअभीपार्टीकेभविष्यकोलेकरबहुतचिंतितहै।’’उन्होंनेकहा,‘‘हमएकमुश्किलसमयकासामनाकररहेहैं,भाजपाकांग्रेसनेताओंकेखिलाफप्रतिशोधकीराजनीतिकररहीऔरउनकाशासनबहुतखराबहै।’’हालहीमें,कांग्रेसकेएकअन्यवरिष्ठनेताजीपरमेश्वरनेपार्टीमें‘‘सामूहिकनेतृत्व’’कीपुरजोरहिमायतकीथी।राज्यनेतृत्वमेंमतभेदकीखबरोंकेबीचउन्होंनेयहटिप्पणीकीथी।हालांकि,परमेश्वरबृहस्पतिवारकीबैठकमेंअनुपस्थितथे।वहीं,वेणुगोपालनेबैठकमेंपरमेश्वरकीअनुपस्थितिकेबारेमेंस्थितिस्पष्टकरतेहुएकहाकिउनकाकहींऔरकार्यक्रमथाऔरउन्होंनेइसबारेमेंसूचितकरदियाथा।इसेमुद्दामतबनाइए।उन्होंनेबतायाकिपरमेश्वरनेकहाहैकिपार्टीउनसेजोकुछकहेगीवहकरनेकोतैयारहैं।