कोरोना महामारी के बीच श्री अखंड पाठ साहिब के आरंभ से सरहिद फतेह दिवस की शुरुआत

संवादसहयोगी,फतेहगढ़साहिब:सिखकौमकेमहानजरनैलबाबाबंदासिंहबहादुरजीकीयादकोसमर्पिततीनदिवसीयवार्षिकसरहिदफतेहदिवससमारोहगुरुद्वाराश्रीफतेहगढ़साहिबमेंश्रीअखंडपाठसाहिबजीकेप्रकाशसेआरंभहोगया।कोरोनावायरसकेकारणफतेहगढ़साहिबकेदोनोंप्रमुखगुरुद्वारोंमेंनाममात्रसंगतहीपहुंची,क्योंकिप्रशासनकीओरसेजहांधार्मिकस्थानोंपरइक्ट्ठकरनेपरपाबंदीलगाईगईहै,वहींएसजीपीसीकेप्रधानभाईगोबिदसिंहलोंगोवालपहलेहीसंगतकोकहचुकेहैकिवहअपनेघरोंमेंरहकरहीमहानजरनैलवसाहिबजादोंकोयादकरउन्हेंश्रद्धासुमनअर्पितकरें।

शिरोमणिगुरुद्वाराप्रबंधककमेटीकेसदस्यजत्थेदारकरनैलसिंहपंजोलीनेकहाकिजिसप्रकारछोटेसाहिबजादोंनेधर्मकीरक्षाकेलिएअपनीजानदीथीतथाजिसप्रकारबाबाबंदासिंहबहादुरनेछोटेसाहिबजादोंकीशहीदीकाबदलालिया।ऐसीमिसालदुनियाकेइतिहासमेंकहींनहीमिलती।उन्होंनेकहाकिबाबाबंदासिंहबहादुरजीकीओरसेदीगईकुर्बानीकोकभीभुलायानहींजासकता।29वैसाख1710कोबाबाबंदासिंहबहादुरनेसरहिदफतेहकरऐतिहासिकथेहपरकेसरीनिशानसाहिबझूलायाथाऔरमुगलराज्यकाखात्माकियाथा।

जत्थेदारपंजोलीनेबतायाकिबुधवारकोशामपांचबजेपांचप्यारोंवनिशांचीसिंहोंकीअगुवाईमेंगुरुद्वारासाहिबकेसाथबनीऐतिहासिकथेहपरकेसरीनिशानसाहिबझुलायाजाएगा।उन्होंनेकहाकिकोरोनाकेकारणसंगतकेएकत्रितहोनेपरपाबंदीहै।इसकारणसाधारणतरीकेसेहीयहधार्मिकसमारोहकियाजारहाहै।14मईकोमुख्यगुरुद्वारासाहिबमेंहीश्रीअखंडपाठसाहिबकेभोगडालनेकेउपरांतधार्मिकसमारोहकेदौरानरागीजत्थेकीर्तनकरेंगे।इसदौरानश्रीअकालतख्तसाहिबकेजत्थेदारज्ञानीहरप्रीतसिंहभीविशेषतौरपरमौजूदरहेंगे।इसअवसरपरगुरुद्वारासाहिबकेमैनेजरनत्थासिंह,बलविदरसिंहभमारसी,कर्मजीतसिंहआदिउपस्थितथे।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!