किसान जरूरत से अधिक खेती खर्च कम करें: डा.गुरदीप

जागरणसंवाददाता,जगराओं:खेतीबाड़ीविभागब्लाकजगराओंकीटीमकीओरसेमुख्यखेतीबाड़ीअफसरडा.नरिदरसिंहबैनीपालकेदिशा-निर्देशोंकेअनुसारब्लाकखेतीबाड़ीअफसरडा.गुरदीपसिंहकीअगुआईमेंगांवढोलनमेंजागरूकताकैंपलगायागया।इसमौकेपरब्लाकखेतीबाड़ीअफसरडा.गुरदीपसिंहनेकहाकिकिसानफसलोंकेअवशेषोंकोखेतोंमेंमिलाकरहीखादकेरूपमेंप्रयोगकरअन्यखादोंकाप्रयोगकमकरसकतेहैं।ऐसाकरनेसेजमीनकीउपजाऊक्षमताबढ़नेकेसाथखेतीखर्चभीकमहोतेहैंऔरखेतीमेंहोनेवालामुनाफाबढ़ायाजासकताहै।उन्होंनेकहाकिहमेंखाद,कीटनाशकोंकेप्रयोगसेपहलेखेतीमाहिरोंसेसलाहजरूरकरलेनीचाहिए।इसमौकेपरखेतीबाड़ीविकासअफसरडा.रमिदरसिंहनेकहाकिखेतीबाड़ीविभागकीओरसेमूंगएसएमएल832काबीजसब्सिडीपरमिलरहाहै।किसानजरूरतकेअनुसारखेतीबाड़ीविभागसेसंपर्ककरके20मार्चसेसठीमूंगीकीबीजाईकरसकतेहै।खेतीबाड़ीविकासअफसरडा.जसवंतसिंहनेविभिन्नफसलोंकेकीड़ोंवबीमारियोंकेबारेमेंजानकारीदी।इसमौकेपरजसविदरसिंहकाउंकेनेभीखेतीसंबंधीअपनेअनुभवसाझाकिए।इसमौकेपरकिसानरामसिंह,जसबीरसिंह,सचिवतरसेमसिंह,प्रधानमघरसिंहकेअलावाअन्यकिसानमौजूदथे।