किन्नौर में 20 दिन पहले हुई सेब के पौधों में फ्लावरिंग

रिकांगपिओ, संवादसहयोगी।मध्यमऊंचाईवालेक्षेत्रोंमेंसेबकेपौधोंमेंफूलआनेकेबादअबजनजातीयजिलाकिन्नौरमेंभीकरीब20दिनपहलेफ्लावरिंगशुरूहोगईहै।विशेषज्ञोंकेअनुसारमार्चमेंतापमानमेंएकदमहुईबढ़ोतरीसेऐसाहुआहै।सामान्यतौरपरमार्चमेंकिन्नौरमेंइतनीगर्मीनहींहोतीथी,लेकिनइसबारमार्चमेंहीपहाड़तपनेलगेहैंऔरबर्फतेजीसेपिघलरहीहै।

फ्लावरिंगकीइसबेहदसंवेदनशीलप्रक्रियाकोसहीढंगसेनिपटानेकेलिएबागवानबगीचोंमेंडटेहुएहैं।फलकीबेहतरसेटिंगकेलिएपरागणजरूरीहै।ऐसेमेंबगीचोंमेंमधुमक्खियोंकेबाक्सरखवाएहैं।परागणकीप्रक्रियासहीढंगसेनिपटजानाबागवानोंकेलिएहमेशाअहमरहताहै।जिलाकेबागवानोंकाकहनाहैकिइसवर्षतापमानमेंएकाएकबढ़ोतरीहोनेसे15-20दिनपहलेफ्लावङ्क्षरगहुईहै।प्रगतिशीलबागवानगेवाशंकरनेगीनेइसवर्षसेबकीअच्छीफसलहोनेकीसंभावनाजताईहै।हालांकिबारिशनहींहोनेसेचिंतितभीहैं।उन्होंनेकहाकिअबतकफ्लावङ्क्षरगकाफीअच्छीहोरहीहै।

मार्चकेअंतिमसप्ताहमेंखड्डोंकापानीसूखा

शिमला, राज्यब्यूरो।मार्चकेअंतिमसप्ताहकेदौरानपड़ीगर्मीनेशिमला,सोलन,सिरमौर,बिलासपुर,हमीरपुरवमंडीजिलाकेतहतसुंदरनगरक्षेत्रमेंनालोंवखड्डोंकापानीसूखादियाहै।कईखड्डोंमेंबहुतकमपानीरहगयाहै।इसतरहकीस्थितिअप्रैलकेदूसरेपखवाड़ेमेंहोतीथी।मौसमविभागकाकहनाहैकिअबजल्दबारिशनहींहोनेकीस्थितिमेंहालातऔरखराबहोंगे।जलशक्तिविभागकेप्रदेशकेचारमेंसेदोजोनमेंस्थितिगंभीरहै।शिमलाजोनकीचीफइंजीनियरअंजूशर्माकाकहनाहैकिऐसेहालातअगलेमाहकेअंतमेंहोतेथे।

मंडीजोनकेचीफइंजीनियरधर्मेंद्रगिलकाकहनाहैकिजनजातीयजिलालाहुल-स्पीतिसहितकुल्लूवमंडीकेअधिकांशक्षेत्रोंमेंगर्मीसेनालोंवखड्डोंकेजलस्तरपरअसरपड़ाहै।धर्मशालाजोनकेचीफइंजीनियरसुनीलकनोत्राकहतेहैंकिचंबावकांगड़ाजिलाकेअधिकांशस्थानोंमेंखड्डोंमेंपानीहै।गर्मीकाप्रभावजलस्रोतोंपरनहींपड़ाहै।

हमीरपुरजोनकेचीफइंजीनियरश्यामकुमारशर्माकामतहैकिगर्मीबढऩेसेपानीकीमांगदोगुनाहोजातीहै।प्रदेशकेनिचलेक्षेत्रोंमेंबहतेपानीमेंकमीआनास्वभाविकहै।पेयजलसंबंधीकिसीभीसमस्यासेनिपटनेकेलिएहमारीपूरीतैयारीहै। मौसमविभागकेनिदेशकसुरेंद्रपालकाकहनाहैकिअभीगर्मीकेतेवरइसीतरहरहेंगे,फिलहालमौसममेंकिसीप्रकारकाबदलावहोनेकीसंभावनानहींहै।

कहांकितनातापमानरहा(डिग्रीसेल्सियस)