खप गए ढाई करोड़, गांव में नहीं पहुंचा पानी

संतकबीरनगर:लोगोंकोशुद्धपानीउपलब्धकरायाजासके।इसकेलिएसांथाब्लाककेबौरब्यासगांवमें2करोड़49लाखरुपयेकीलागतसेपानीकीटंकीकानिर्माणजलनिगमनेकराया।इसपरियोजनाकेमाध्यमसेबौरब्यास,रैधरपारवमहदेवामेंपानीपहुंचानीथी।गांवमेंटोटीसेपानीपहुंचानेकेलिएपाइपलाइनभीबिछाईगई।लेकिनइसपरियोजनाकाआजतकट्रायलनहींकियागया।जिससेअबपानीकीटंकीकेसाथ-साथगांवमेंबिछाईगईपाइपतकजर्जरहोरहीहै।लेकिनजिम्मेदारोंनेधनखपानेकेबादपरियोजनाकीतरफपलटकरनहींदेखा।गांवकेलोगअभीभीशुद्धपेयजलकीआसलगाएबैठेहै।लेकिनजिम्मेदारोंनेखामोशहै।जिससेलोगोंकेघरोंमेंशुद्धपेयजलपहुंचानेकासपनासरकारकासफलनहींहोपारहाहै।कार्यदायीसंस्थाकीकार्यप्रणालीपरखड़ेहुएसवाल

बीतेवर्ष2014-15मेंपरियोजनाकेलिएधनअवमुक्तहोनेकेबादकार्यदायीसंस्थानेतेजीकेसाथकार्यशुरूकराया।टंकीकानिर्माणहुआ,पाइपलाइनभीआधी-अधूरीबिछाईगई।लेकिनट्रायलकरनेकीजहमततकजिम्मेदारोंनेनहींउठाई।ग्रामीणोंकीमानेतोपूरेकाममेंमानककीअनदेखीकीगईहै।ट्रायलहोतेहीजगह-जगहलीकेजमिलनेकीआशंकाहै।इसलिएकार्यदायीसंस्थाकाकामअधूराछोड़कररफूचक्करहोगई।जलनिगमकेजिम्मेदारोंनेभीकार्यदायीसंस्थापरकामपूराकरनेकादबावनहींबनाया।क्याकहतेहैग्रामीण

रैधरपारगांवनिवासीजयसरामकहतेहैकिशुद्धपेयजलपहुंचानेकीमंशापरजिम्मेदारलोगपलीतालगारहेहैं।लेकिनग्रामीणोंकेवशमेंकुछहैनहींतोक्याकियाजाय।राजदेवकाकहनाहैकिगांवमेंसरकारीहैंडपपदूषितजलउगलरहेहैं।लेकिनटंकीसेपानीकीआपूर्तिकरानेमेंलोगरुचिनहींदिखारहेहै।संजयचौरसियाकहतेहैकिजलजनितबीमारियोंसेबचावकोलेकरआएदिनजागरूकताकार्यक्रमचलायाजाताहै।लेकिनपरियोजनापूराकरनेपरकिसीकाध्याननहींहै।जमुनाकहतेहैकिपाइपजगह-जगहक्षतिग्रस्तहोरहीहै।टंकीभीजर्जरहोरहीहै।लेकिनएकबूंदपानीआजतकटोटीसेनहींनिकला।परियोजनाकाट्रायलक्योंनहींकियागयावअभीतकगांवमेंपानीक्योंनहींपहुंची।इसकीजानकारीकीजाएगी।कार्यदायीसंस्थाकोपत्रलिखकरजल्दसेजल्दपरियोजनाकाट्रायलकरतेहुएपानीपहुंचानेकानिर्देशदियाजाएगा।

अतुलमिश्र,सीडीओ।