खदान से उड़ती धूल के कहर के खिलाफ उबाल

करगली(बेरमो):सीसीएलबीएंडकेप्रक्षेत्रकीकारोखदानसेउड़तीधूलकेकहरकेखिलाफमंगलवारकोजनउबालदेखनेकोमिला।सुभाषनगरकॉलोनीवासियोंनेविरोधप्रदर्शनकरकारोमाइंसकाकार्यलगभगदोघंटेतकठपकरदिया।प्रदूषणनियंत्रितकरनेकोनियमितरूपसेपानीछिड़कावकरानेकेप्रबंधनकेआश्वासनपरवहलोगशांतहुए।कॉलोनीवासियोंकानेतृत्ववार्डपार्षदविशाखादेवीकररहीथीं।उन्होंनेकहाकिखदानसेउड़तीधूलपरअंकुशलगानेकेलिएप्रबंधनकोकईबारचेतायागया,लेकिनकोईपहलनहींकीगई।इसमाइंससेकोलट्रांसपोर्टिंगवकोयलाखननकेदौरानधूलवकोयलेकेचूर्णअत्यधिकमात्रामेंउड़तेहैं,जोनिकटवर्तीसुभाषनगरकॉलोनीमेंगिरतेहैं।जबकिप्रदूषणनियंत्रितकरनेकोकोयलाखननवट्रांसपोर्टिंगकेदौरानपानीछिड़कावकरानाचाहिए,जोनहींकरायाजारहाहै।कहाकिखदानसेहमेशाधूलउड़तीरहतीहै,जिससेकॉलोनीवआसपासकेलोगोंकोकाफीदिक्कतकासामनाकरनापड़रहाहै।यहांतककिप्रदूषणकीवजहसेलोगोंकाअपनेघरसेनिकलनादूभरहोगयाहै।लोगोंकोबीमारियोंकीचपेटमेंआनेकाभयसतानेलगाहै।प्रदूषणकेकारणकॉलोनीकेपासकेग्राउंडमेंबच्चेखेलनेसेकतरानेलगेहैं।

पूर्ववार्डपार्षदअशोकअग्रवालनेकहाकिकारोमाइंसकोसंबंधितआउटसोर्सिंगकंपनीनियमकोताखपररखकरसंचालितकररहीहै,जिसेबर्दाश्तनहींकियाजाएगा।इसकारणप्रदूषणकीस्थितियहहैकिसुभाषनगरकॉलोनीकेसभीक्वार्टरधूलसेअटजातेहैं।सफाईकरतेहीपुन:क्वार्टरोंमेंधूलभरजातीहै।सुबहसेलेकरराततकलोगप्रदूषणसेबेहालरहतेहैं।लोगोंकोस्वच्छहवानहींमिलपारहीहै।कहाकिजबतकबेरमोमेंकोयलाखदानोंसहितअन्यऔद्योगिकप्रतिष्ठानोंकीस्थापनानहींहुईथी,तबतकयहइलाकाहरितांचलकेरूपमेंविख्यातथा।कोयलाखदानोंकाविस्तारहोनेकेबादसेयहांकीहवामेंप्रदूषणकाजहरजहरभरताचलागया।नदीवकुएंकापानीप्रदूषितहोकरसीधेतौरपरपीनेलायकनहींरहा।खदानकीगहराईअत्यधिकहोनेकेकारणभूमिगतजलस्तरकाफीनीचेचलागयाहै,जिसकेकारणलोगोंकोपानीकेलिएत्राहिमामहोनापड़रहाहै।इसलिएप्रदूषणनियंत्रितकरनेकेलिएपानीछिड़कावकराएजानेकेसाथहीकॉलोनीमेंसीसीएलप्रबंधनकीओरसेनियमितरूपसेटैंकरसेजलापूर्तिभीकराईजाए।

माइंसकाकार्यठपकिएजानेकीसूचनापाकरकारोपरियोजनाकेपीओतपनकुमारराय,मैनेजरजीएनसिंहएवंआउटसोर्सिंगकंपनीकेइंचार्जदिनेशदत्तापहुंचे।आउटसोर्सिंगकंपनीकेइंचार्जदत्तानेलिखितआश्वासनदियाकिमाइंससेधूलकणोंकोउड़नेसेरोकनेकेलिएअबसरफेशमाइनरमशीनसेकोयलानिकासीकीजाएगी।साथहीखदानपरिसरवकॉलोनीकेनिकटकीसड़कवमैदानमेंनियमितरूपसेपानीछिड़कावकरायाजाएगाऔरकॉलोनीमेंप्रतिदिनटैंकरकेमाध्यमसेजलापूर्तिकराईजाएगी।तबजाकरलोगोंनेआंदोलनसमाप्तकिया।मौकेपरसंजयसिंह,मेघनाथसिंह,प्रतिमादेवी,दन्नूराम,गौतमसेनगुप्ता,राजचौधरीआदिमुख्यरूपसेमौजूदथे।