केशोपुर जल शोध संस्थान में प्रतिदिन फिल्टर होगा 1.76 लाख लीटर पानी

बक्सर:आर्सेनिकपेयजलसेदियारांचलइलाकेमेंरहनेवालेलोगोंकोजल्दमुक्तिमिलेगी।अगलेमहीनेतकसिमरीप्रखंडकेकेशोपुरमेंबनरहाजलशोधनकेंद्रपूरीतरहबनकरतैयारहोजाएगा।इससेहरघरशुद्धजलमिलनेलगेगा।यहकेंद्रपूरीतरहसेस्वचालितहोगा।इसेचलानेकेलिएस्काडासिस्टमसेजोड़ाजाएगा।ताकिकहींबैठकरभीइसेलैपटापयाकंप्यूटरसेचालूकियाजासके।

इसकानिर्माणहोजानेसेएककरोड़छिहत्तरलाखलीटरपानीप्रतिदिनफिल्टरहोगा।फिल्टरकिएहुएपानीकाभंडारणकरनेकेलिए13जलमीनारबनाएगएहैं।जहांसेहरघरमेंपानीकीसप्लाईकीजाएगी।आर्सेनिकप्रभावितइलाकोंमेंइसकीआपूर्तिहोनीहै।योजनाकानिर्माणअंतिमचरणमेंहै।यहांगंगानदीकापानीफिल्टरकरजलमीनारमेंभराजाएगा।जहांसेहरघरमेदियाजानाहै।गौरतलबहोकिजलशोधनकेंद्रकाशुभारंभवर्ष2009मेंहुआथा।लेकिनकुछनिर्माणकार्यकरनेकेपश्चातकम्पनीफरारहोगई।जिसकेबाददोबाराटेंडरकीप्रक्रियाशुरूकीगई।ताकिसमयसेलोगोंकेघरोंमेंआर्सेनिकयुक्तपानीसेछुटकारामिलसके।गंगानदीकेतटवर्तीइलाकोंमेंआर्सेनिककाकाफीदुष्प्रभावहै।कईतरहकीबीमारीहोनेकीआशंकाबनीरहतीहैं।करीब198करोड़रुपएकीलागतसेहोरहानिर्माणप्रक्रियाअबसमाप्तिकेकगारपरहै।जूनमहीनेकेअंतिमचरणमेंघरोंमेंइसकापानीआपूर्तिकियेजानेकालक्ष्यरखागयाहै।विभागीयजानकारीकेअनुसारकुछघरोमेंपाइपकाकनेक्शनदेनेकाबाकीथा।उसेभीसमयसीमाकेअंदरपूर्णकरदियाजाएगा।38हजारघरोंमेंहोगीआर्सेनिकमुक्तजलकीआपूर्ति

दियारांचलक्षेत्रमेंपेयजलमेंमिलनेवालीआर्सेनिककीमात्रामानवशरीरपरविपरीतप्रभावडालतीहै।कईप्रकारकीबीमारीफैलनेकीआशंकावनीरहतीहै।इसजलशोधनकेंद्रसेनिकलनेवालाफिल्टरपानी38हजारघरोमेंराहतपहुचायेगा।जिसमें51गांवतथा130टोलापररहनेवालेलोगोकोइसकालाभमिलेगा।हरदिनप्लांटमेंफिल्टरकियाहुआआर्सेनिकसेमुक्तपेयजलनसीबहोगा।जलशोधनकेंद्रकानिर्माणकार्यइसमाहकेअंतिमसमयतकपूराकरलियाजाएगा।घरोमेंकनेक्शनदेनेकाकामभीअंतिमचरणमेंहै।मल्टीविलेजस्कीममेंस्वचालितहोगाप्लांट

मल्टीविलेजस्कीमकेतहतबनरहायहप्लांटपूरीतरहस्वचालितहोगा।इसेलैपटॉपयाकम्प्यूटरकेसहारेकहीसेभीचालूकियाजासकेगा।इसकेलिएस्काडासिस्टमसेजोड़ागयाहै।शुरुआतकेछहमहीनेट्रायलकेरूपमेंचलायाजाएगा।जिसकेबादपरीक्षणसफलरहनेपरनिर्बाधरूपसेचलेगा।ट्रायलकेवक्ततीनघंटेसुबहवतीनघंटेशाममेंइसेचलायाजाएगा।तत्पश्चातचौबीसोंघंटेचालूरहेगा।13जलमीनारसे51गांवोंके38हजारघरोंमेंजाएगाशुद्धजल

इसप्लांटमें1करोड़76लाखलीटरपानीप्रतिदिनफिल्टरहोगा।जिसेविभिन्नगांवोंमेंबने13जलमीनारमेंरखाजाएगा।इनजलमीनारसे51गांवतथा130टोलापररहनेवाले38हजारघरोमेंशुद्धजलआपूर्तिहोगा।यहजलगंगानदीसेलेकरफिल्टरकियाजाएगा।जिसकेबादसप्लाईकरनेके13जलमीनारमेंभेजाजाएगा।

यहयोजनाजूनमाहतकपूरीहोजाएगी।पूरीतरहस्वचालितप्लांटसे38हजारघरोंमेंआर्सेनिकमुक्तशुद्धपेयजलकीआपूर्तिहोगी।एकदिनमें17.66मिलियनलीटरपानीफिल्टरकरनेकीक्षमताइसप्लांटकाहै।इसकेशुरूहोजानेसेआर्सेनिकप्रभावितइलाकोंमेंशुद्धपानीकीसप्लाईशुरूहोजाएगी।

ई.पवनकुमार,कार्यपालकअभियंता,पीएचईडी,बक्सर