कड़ा में तो नहरों का जाल, फिर भी धरती प्यासी

कौशांबी:फसलउत्पादनमेंपानीकाविशेषमहत्वहै।इसकेमद्देनजरविकासकड़ाखंडक्षेत्रमेंनहरोंकाजालबिछायागयाहै।निचलीरामगंगाकमांडकीनहरसे22रजबहेनिकालेगएहै।हरखेतमेंपानीपहुंचानेकीयोजनाहै।लेकिनजिम्मेदारोंकीअनदेखीकीवजहसेसालमेंकेवलदोबारहीमेंपानीआताहै।जबकिसानोंकोपानीकीजरूरतहोतीहैतोनहरसूखीरहतीहै।

फतेहपुरजनपदसेनिकलीनिचलीरामगंगाकमांडसेदोदशकपूर्वसिराथूतहसीलक्षेत्रकेलगभग30हजारहेक्टेयरभूमिकीसिचाईहोतीथी,लेकिनपिछलेएकदशकसेइसनहरकाकिसानोंलाभनहींमिलपाता।नहरोंकीहालतभीऐसीबनीरहतीहैकिउनमेंटेलतकपानीपहुंचपानापाता।औरेनीमाइनर,सौरईबुजुर्गमाइनर,पथरावामाइनरवरामपुरबड़नावांमाइनरसेकिसानफसलोंकीसिचाईनहींकरपातेहैं।समर्थकिसानपार्टीकेनेताअजयसोनीनेबतायाकिकिसानोंकीजरूरतकेअनुसारनहरोंमेंकभीपानीनहींआयाहै।इसकोलेकरकिसानोंकौशांबीवफतेहपुरमुख्यालयमेंकिसानोंनेकईबारधरनाप्रदर्शनकिया,लेकिनकेवलआश्वासनहीमिला।हरसालनहरोंकीसफाईकाप्रावधानहै।नहरोंकीसिल्टसफाईभीकराईजातीहै।किसानरामआसरे,मेवालाल,संतोषकुमारवबालूलालकाकहनाहैकिठेकेदारसिल्टसफाईकेनामपरखेलकरतेहैं।इसकीवजहसेटेलतकपानीनहींपहुंचरहाहै।मजबूरनकिसानोंकोधानवगेहूंकीफसलकीसिचाईनिजीनलकूपोंसेकरनापड़रहाहै।

हमकिसानहै।सरकारकोहमारीचितारहतीहै।यहसिर्फसरकारकीबातोंमेंदिखताहै।जबकिधरातलपरसरकारकीकार्यशैलीसेकिसानपरेशानहै।गेहूंकीफसलकीबुआईकेलिएखेतोंवपलेवाकरनाहै।नहरोंमेंपानीनहींहै।

जिनकिसानोंकेखेतनहरकेकिनारेहैं।उनकोभीनहरकालाभनहींमिलता।अधिकांशनहरोंकेगुलाबेसालोंसेटूटेहुएहैं।यदिपानीआयाभीतोइसकेलिएपंपसेटकासहारालेनापड़ताहै।ऐसेमेंकिसानकेलिएमुफ्तसिचाईकेवलएकसपनाहै।

किसानोंकेहितकोलेकरबातेंतोबहुतहोतीहै,लेकिनउनकेवास्तविकहितकोलेकरध्याननहींदियाजाता।जबजरूरतहोतीहैतोकिसानोंकोपानीवखादनहींमिलतीहै।

सरकारकिसानोंकीआयकोदोगनाकरनेकीबातकररहीहै,लेकिनकिसानोंकोसमयपरयोजनाओंकालाभनहींमिलापारहाहै।किसानोंसेजुड़ीयोजनाओंकाबेहतरक्रियान्वयनहोतोकिसानमजबूतहोंगे।

मोहम्मद,सलीमुद्दीन

नहरोंकीसिल्टसफाईहोनीहै।इसकेमद्देनजरपानीकीआपूर्तिबंदकराईगईहै।जल्दहीमुख्यनहरवरजबहोंकीसिल्टसफाईकाकार्यपूराकरपानीकोटेलतकपहुंचायाजाएगा।

जगदीशलाल,सिचाईखंडकौशांबी