Karnal Kisan Andolan News: सिंचाई विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव और किसान नेताओं के बीच वार्ता शुरू, अब बातचीत पहुंची तीसरे दौर में

करनाल,जागरणसंवाददाता। LineKarnalKisanAndolanNews: बसताड़ाप्रकरणकोलेकरतत्कालीनएसडीएमपरकार्रवाईऔरअन्यमांगोंकोलेकरआंदोलनरतकिसानोंऔरप्रशासनकेबीचशुक्रवारशामएकबारफिरबातचीतकासिलसिलाशुरूहुआ।चंडीगढ़सेइसकेलिएविशेषरूपसेहरियाणासरकारनेसिंचाईविभागकेअतिरिक्तमुख्यसचिवदेवेंद्रसिंहकोकरनालभेजा।वार्तामेंकिसाननेताओंकी12सदस्यीयकमेटीकेतहतगुरनामसिंहचढ़ूनी,सुरेशकौथ,रतनमान,सेवासिंहआर्य,राजेंद्रआर्यदादूपुर,रामपालचहल,जगदीपसिंहऔलख,गुरुमुखसिंह,राकेशबैंस,जसबीरभट्टी,मंजीतसिंहचौगांव,अजयसिंहराणाअपनीबातरखरहेहैंजबकिप्रशासनिकस्तरपरएसीएसदेवेंद्रसिंह,जिलाउपायुक्तनिशांतकुमारयादवऔरएसपीगंगारामपूनियावार्तामेंशामिलहैं।शामकरीबसाढ़ेपांचबजेआरंभहुईवार्ताकेशुरुआतीदौरमेंकोईनतीजानहींनिकला।रातकरीबनौबजेवार्ताकातीसरादौरचलरहाहै,जिसकेबादस्थितिस्पष्टहोजाएगी।बतादेंकि11सितंबरकोकिसाननेताओंनेकरनालमेंएकबारफिरबड़ीमीटिंगआहुतकीहै,जिसमेंसभीप्रमुखकिसाननेताजुटेंगे।संयुक्तकिसानमोर्चाकेनेताभीआएंगे।

लघुसचिवालयकेबाहरचलरहेकिसानआंदोलनकोलेकरडीसीनिशांतकुमारयादवऔरएसपीगंगारामपूनियानेप्रेसवार्ताकी।डीसीनिशांतकुमारनेकहाकिकिसानोंकेलिएबातचीतकेलिएदरवाजेखुलेहैं।बातचीतसेहीसमाधानसंभवहै।उन्होंनेकहा,किसानोंकाधरनाफिलहालशांतिपूर्णतरीकेसेचलरहाहै।किसानोंसेअपीलहैकिअपनाविरोधशांतिपूर्णतरीकेसेचलाएं।प्रशासनकीओरसेधरनास्थलकेआसपाससुरक्षाकर्मीतैनातहैं।सुरक्षाकर्मियोंकेलिएपीनेकेपानीसेलेकरअन्यसुविधाएंउपलब्धकरवाईगईहैं।किसानोंसेअपीलहैकिवहप्रशासनकासहयोगकरें।

उपायुक्तनेकहाकिकिसीभीप्रकारकीकानूनव्यवस्थाबिगड़तीहैतोसहननहींकीजाएगी।एसपीगंगारामपूनियानेकहाहैकिसुरक्षाबलोंकी40कंपनियांतैनातहैं।किसानोंकीआड़मेंकिसीनेभीकानूनहाथमेंलेनेकीकोशिशकीतोबख्शानहींजाएगा।कुछशरारतीलोगकिसानोंकेआंदोलनकीआड़मेंकानूनव्यवस्थाबिगाड़नेकाप्रयासकररहेहैं।पुलिसप्रशासनकीकड़ीनिगरानीहै।ऐसेलोगोंकेखिलाफतत्कालसख्तकार्रवाईकीजाएगी।

दोपहरकरीबएकबजेतकआंदोलनस्‍थलपरकोईबड़ाकिसाननेतानहींपहुंचा।आंदोलनकीकमानसंभालरहेकिसाननेतागुरनामसिंहचढ़ूनीनेकिसानोंमैंजोशभरा।उन्होंनेकहाकिशनिवारकोआंदोलनकोलेकरमीटिंगकीजाएगी।इसमेंकोईबड़ाफैसलालियाजासकताहै।उन्होंनेकिसानोंकोधरनास्थलपरडटेरहनेकेलिएआह्वानकिया।वहींकुछवकीलभीकिसानोंकेसमर्थनमेंधरनास्थलपरपहुंचेऔरसरकारकेखिलाफवहकिसानोंकेसमर्थनमेंजमकरनारेबाजीकी।

किसानोंद्वाराजिलासचिवालयकेबाहरडालागयापड़ावचौथेदिनमेंप्रवेशकरगयाहै।सुबहहोतेहीबड़ीसंख्यामेंकिसानजुटनाशुरूहोगए।उत्‍तरप्रदेशऔरपंजाबसेभीकिसानपहुंचरहेहैं।हालांकिसुबह12बजेतककोईबड़ानेताधरनास्थलपरनहींपहुंचाथा।स्थानीयस्तरकेकिसाननेताओंजगदीपसिंहओलख,राजपालचहलआदिनेधरनादेरहेकिसानोंमेंजोशभरनाशुरूकिया।

किसानोंकेसमर्थनमेंकुछवकीलोंनेप्रदर्शनकिया।

आंदोलनकीअगुवाईकररहेकिसाननेतागुरनामसिंहचढूनीआधीराततककिसानोंकेबीचरहे।वहींआजभीउनकेसाथ-साथपंजाबवआसपासकेप्रदेशनेताओंद्वाराकिसानोंकोसंबोधितकिएजानेकीसंभावनाजताईजारहीहै।आसपासकेगांवोंसेभीकिसानसुबहहीपहुंचनाशुरूहोगए।लंगरसेवाभीशुरूकरदीगई।सुबहचायनाश्‍तेसेलेकरदोपहरकेखानेकेलिएभीव्यवस्थाकीजानेलगी।उधरकानूनव्यवस्थाबनाएरखनेकेचलतेजिलासचिवालयकेचारोंओरभारीसंख्यामेंपुलिसवअर्धसैनिकबलतैनातकिएहुएहैं।करनालकेएसपीगंगारामपूनियावपानीपतएसपीशशांककुमारसावननेपुलिसकर्मियोंकोअलर्टरहनेकोलेकरदिशा-निर्देशदिए।

इंटरनेटसेवाशुरू

करनालमेंइंटरनेटसेवाशुरूहोचुकीहै।किसानमहापंचायतकेबादविरोधकेचलतेतीनदिनसेइंटरनेटसेवाबंदथी।शुक्रवारसुबहइंटरनेटसेवाबहालकरदीगई। सहायकजिलापीआरओरघुबीरसिंहनेकहा,अभीसेवाओंकोफिरसेबंदकरनेकीकोईयोजनानहींहै।बतादेंकिलाठीचार्जकेविरोधमेंकिसानकरनाललघुसचिवालयकेबाहरधरनेपरबैठेहैं।

करनालकिसानआंदोलनकीताजाखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें

लगातारतीसरेदिनइंटरनेटबंदरहनेकाअसरअबकारोबारीगतिविधियोंसेलेकरआमजनजीवनपरसाफदिखाईपड़रहाथा।आर्डरनहोनेसेहोमडिलीवरीकाकामतकरीबनठपपड़चुकाथा।विद्यार्थियोंसेलेकरसरकारीऔरगैरसरकारीकामकाजसेजुड़ेलोगोंकीदिक्कतेंभीबढ़गईथी।व्यापारीनेताबजरंगगर्गनेदावाकियाहैकिजिलेमेंअबतकसाठकरोड़रुपयेकाकारोबारप्रभावितहोचुकाहै।

करनालकेलघुसचिवालयकेसमक्षधरनादेरहेकिसानोंकेआंदोलनकेचलतेइंटरनेटसेवाएंलगातारबंदथी।हालांकि,वीरवारकीदेररातसेसुबहतककुछकंपनियोंकीइंटरनेटसेवाशुरूतोहुईलेकिननौबजेकेबादइन्हेंएकबारफिरपूरीतरहबंदकरदियागया।इससेलोगोंकेआनलाइनकामकाजकीचालतकरीबनपूरीतरहठपपड़गईथी।आलमयहहैकिआनलाइनआर्डरपरहोमडिलीवरीकरनेवालेयुवाराइडरोंकोकोईकामनहींमिलरहाथा।वेदुकानदारभीपरेशानथे,जिनकेकामकाबड़ाहिस्साआनलाइनहीचलताथा।

पेट्रोलपंपपरअबकार्डस्वैपिंगनहींहोरहीतोमालसेलेकरअन्यदुकानोंमेंभीकमोबेशयहीहालथा।लोगोंकोआर्डरनहोनेसेअलगअलगआइटमघरपरनहींमिलपारहेथे।कईलोगोंकेअस्थाईरोजगारपरसीधाअसरदिखरहाथा।मानाजारहाहैकिकरनालमेंऔसतनअकेलेखाद्यवपेयपदार्थोंकेरोजानाकरीबढाई-तीनहजारआर्डरआनलाइनकिएजातेथे।इससेकरीबपांचसेसातलाखरुपयेकाकारोबारहोताथा,जोअबतकरीबनपूरीतरहठपपड़चुकाथा।सैकड़ोंयुवाअचानकबेरोजगारहोगएथे।दुकानदारोंकाकहनाहैकिआर्डरनमिलनेसेलगातारनुकसानहोरहाथा।सरकारकोचाहिएकिइंटरनेटसेवाबहालकरे,जिससेकामआगेबढ़सके।

चारोंतरफपरेशानीऔरअसमंजस

लगातारबंदइंटरनेटसेवानेचारोंतरफआनलाइनकाम-काजठपकरकेरखदियाथा।कुरुक्षेत्रविश्वविद्यालयमेंहोनेवालीपरीक्षाओंपरभीअसरपड़ा।बैंकिंगप्रणालीसेलेकरअन्यआनलाइनलेनदेनसम्बधितकामतकरीबनपूरीतरहबंदहोचुकेथे।लोगअसमंजसमेंथेकिआखिरकबतकउन्हेंइसीतरहपरेशानियांसहनीपड़ेंगी?

आनलाइनलेनदेनपूरीतरहठप

अखिलभारतीयव्यापारमंडलकेराष्ट्रीयमुख्यमहासचिवअध्यक्षबजरंगगर्गनेअपनेबयानमेंकहाकितीनदिनसेइंटरनेटबंदहोनेकेकारण60करोड़रुपयेकाव्यापारप्रभावितहोचुकाहै।हरट्रेडकाव्यापारवउद्योगोंमेंलेन-देनइंटरनेटसेहोताहै।इंटरनेटबंदहोनेसेनभुगतानहोरहाहैऔरनपेमेंटआरहीहै।वाहनबिक्रीभीपूरीतरहठपहोगईहै।यहसमस्याअविलंबदूरहोनीचाहिए।