कैलाश विजयवर्गीय बोले - कभी-कभी कम्यूनिकेशन गैप हो जाता है, कई बार प्रशासनिक इगो टकरा जाता है, शुक्ला बोले - डाॅक्टर हड़ताल पर गए तो इंदौर तहस-नहस हो जाएगा

स्वास्थ्यअधिकारीपूर्णिमागडरियाऔरइंदौरकलेक्टरकेबीचअनबनकाविवादगहराताजारहाहै।स्वास्थ्यकर्मीअबमनीषसिंहकेखिलाफलामबंदहोगएहैं।गुरुवारशामबड़ीसंख्यामेंस्वास्थ्यअधिकारीसंभागआयुक्तपवनशर्माकेकार्यालयपहुंचे।यहांउन्होंनेज्ञापनदिया।इसमेंकलेक्टरमनीषसिंहकोतत्कालहटानेकीमांगकीहै।

पूरेमामलेमेंभाजपामहासचिवकैलाशविजयवर्गीयनेकहाकिएक-दोघटनाएंऐसीहुईहैं।प्रभारीमंत्रीनेडॉक्टरोंसेबातकीहै।कभी-कभीकम्यूनिकेशनगैपहोजाताहै।कईबारप्रशासनिकईगोटकराजाताहै।ऐसीघटनाओंकीचिंताकरनेवालेहमारेआसपासलोगबैठेहुएहैं।कलेक्टरकेव्यवहारपरमैंसीधेकोईटिप्पणीनहींकरूंगा,परकईबारहमेंडॉक्टरऔरपैरामेडिकलस्टाफकेस्ट्रैंथकोभीसमझनाहोगा।इसलिएदोनोंजवाबदारीसेकामकरें।वहीं,विधायकसंजयशुक्लानेकहाकिडाॅक्टरहड़तालपरगएतोइंदौरतहस-नहसहोजाएगा।

हड़तालवापसलेलें,नहींतोइंदौरतहस-नहसहोजाएगा

कांग्रेसविधायकसंजयशुक्लानेकहाकिमैंडॉक्टरोंसेकहनाचाहताहूंकिपूरेदेशमेंमहामारीचलरहीहै।ऐसेमेंआपनेजोहड़तालपरजानेकानिर्णयलियाहै।मैंनिवेदनकरनाचाहताहूंकिआपऐसानहींकरें।क्योंकिइसमहामारीमेंदोहीभगवानहैैं,एकऊपरवालाऔरएकआप।हमारेपासनतोऑक्सीजनहैनहीइंजेक्शन...ऐसेमेंयदिआपखड़ेभीरहेंगेतोमरीजोंमेंहिम्मतरहेगी।आपहड़तालवापसलेलें।आपकीलड़ाईहमआगे-पीछेलड़तेरहेंगे।आजइंदौरहितकेलिएआपहड़तालपरनजाएं।यदिआपलोगोंनेहड़तालकरदीतोअभीहजारोंजानेंजारहीहैं।वहलाखाेंहोजाएंगीं।इंदौरतहस-नहसहोजाएगा।

हमेंतीसरेस्ट्रेनकीतैयारीकरनाहोगी

वहीं,विजयवर्गीयनेकहाकिबेडकीकमीदूरकरनेकेगंभीरप्रयासोंकाअसरदिखरहाहै।हमेंअभीसेतीसरेस्ट्रेनकीतैयारीकरनाहोगी।निजीअस्पतालजल्दऑक्सीजनकंसंट्रेटरमशीनलगाएंगे।इसकेलिएउनसेलगातारबातचीतकीजाएगी।विजयवर्गीयनेकहाकिव्यक्तिगतरूपसेमैंलॉकडाउनलगानेकेपक्षमेंनहींहूं,लेकिनवर्तमानपरिस्थितियोंकेअनुसारजोजरूरीहोगावहशासनकरेगा।

कलेक्टरकोनहींहटाया,तोस्वास्थ्यकर्मचारीसामूहिकइस्तीफादेंगे

वहीं,डॉ.पूर्णिमाडगरियानेकहा-यदिकलेक्टरकोनहींहटाया,तोसभीस्वास्थ्यकर्मचारीएकसाथसामूहिकइस्तीफादेदेंगे।मनीषसिंहशिवराजसिंहकेसबसेभरोसेमंदकलेक्टरमानेजातेहैं।नगरनिगमइंदौरमेंआयुक्तरहचुकेहैंऔरसफाईकोलेकरसुर्खियोंमेंरहे।इसकेबादशिप्रामेंस्नानकेलिएगंदेपानीकेमुद्देपरतत्कालीनकमलनाथसरकारनेउन्हेंउज्जैनकलेक्टरपदसेहटादियाथा।बादमेंशिवराजसरकारनेलौटतेहीमनीषसिंहकोइंदौरकाकलेक्टरबनाया।ज्ञापनमेंकहागयाहै,अधिकारीवकर्मचारीतबतककामनहींकरेंगे,जबतकमनीषसिंहकोहटायानहींजाता।

डॉक्टरगडरियाकेसमर्थनमेंआएकर्मचारी

स्वास्थ्यविभागकेकर्मचारियोंवअधिकारियोंद्वाराजिलाप्रशासनकेअफसरोंद्वाराकिएजारहेव्यवहारकाविरोधकियाजारहाहै।डॉक्टरगडरियाकेसमर्थनमेंविभिन्नकर्मचारीसंगठनोंनेभीमोर्चाखोलदियाहै।स्वास्थ्यविभागकेअधिकारी-कर्मचारीसंगठनोंनेसभीचिकित्सकअधिकारीनियमित,संविदातृतीयश्रेणी,चतुर्थश्रेणी,सभीकोरोनोसैंपलिंग,आरआरटी,होमआइसोलेशन,सीसीसीटीमवसभीफील्डकर्मचारियोंसेसंघर्षकरनेकेलिएतैयाररहनेकाआग्रहकियागयाहै।संगठनोंकाकहनाहैकिमांगेंनमानीजानेपरसामूहिकइस्तीफादियाजाएगा,लेकिनअभद्रव्यवहारसहननहींकियाजाएगा।

डॉक्टरकेनौकरीछोड़नेपरनयामोड़:इंदौरकलेक्टरबोले-नहींमिलाइस्तीफा..कलकहाथा-इस्तीफास्वीकारनेकीअनुशंसाकीहै;डॉक्टरबोलीं-प्रशासनमौतकाआंकड़ाभीछुपारहा

यहहैमामला

प्रशासनकेअधिकारियोंद्वाराअभद्रव्यवहारकरनेकाआरोपलगातेहुएबुधवारकोस्वास्थ्यविभागकेदोडॉक्टरोंनेअपनेपदसेइस्तीफादेदियाथा।इस्तीफादेनेवालोंमेंजिलास्वास्थ्यअधिकारीडॉक्टरपूर्णिमागडरियाऔरमानपुरकेमेडिकलऑफिसर(सीएमओ)डॉ.आरएसतोमरशामिलहैं।डॉ.गडरियानेकलेक्टरमनीषसिंहऔरडॉ.तोमरनेएसडीएमअभिलाषमिश्राद्वाराप्रताड़ितकिएजानेकीबातकोलेकरयहकदमउठायाहै।