जनाब! दावे तो खूब, पर ड्रेनेज सिस्टम ठप

सुशीलभाटिया,फरीदाबाद:राष्ट्रीयराजमार्गकोबदरपुरबॉर्डरसेलेकरबल्लभगढ़सीकरीतकसिक्सलेनतोकरदियागयाहै,जिसपरअरबोंरुपयेखर्चहुएहैं।कईफ्लाईओवरभीबनेहैं,जिसकालाभदिल्ली-आगराराजमार्गपरआवागमनकरनेवालेबाहरीप्रदेशोंकेवाहनचालकोंकोमिलरहाहै,परअपनेशहरकेलोगोंकोपरेशानियांझेलनीपड़रहीहैं,क्योंकिजरासीबारिशहोनेपरहीसर्विसरोडसेजुड़ेशहरकोकनेक्टहोनेवालेचौक-चौराहोंपरपानीभरजाताहै,नतीजायातायातजामऔरजाममेंफंसकरशुरूहोजाताहैमुसीबतोंकादौर।

मानसूनकेमौसममेंइनदिनोंशहरवासियोंकेसाथऐसाहीकुछहोरहाहै।पानीखड़ाहोनेकाप्रमुखकारणराजमार्गपरबनाएगएड्रेनेजसिस्टमकादुरुस्तनहोनाहै।भारतीयराष्ट्रीयराजमार्गप्राधिकरणकेअधिकारीदावेतोखूबकरतेहैंकिड्रैनेजसिस्टमबनायागयाहै,परजगह-जगहसेबंदपड़ेड्रैनेजकेनिकासीप्वाइंटकीतरफउनकाध्यानहीनहींहै।ड्रेनेजलाइनमेंभरीपड़ीहैमिट्टी

राजमार्गपरवाइएमसीएकेसामनेमुजसेरकीतरफसर्विसरोडपरबनाईगईड्रेनेजलाइनमेंनजरडालनेपरतोऊपरतकगादभरीहुईथी।इसीतरहसेबल्लभगढ़सेलेकरबड़खलतकऔरबड़खलसेवापसओल्डफरीदाबादहोतेहुएबल्लभगढ़तकड्रेनेजसिस्टमकेजोनिकासीप्वाइंटहैं,उनकीजालियोंमेंकहींपॉलीथिनफंसीहुईथी,तोकहींपत्थरपड़ेहुएथे।बुधवारशामकोजबकरीबएकघंटातकबारिशहुई,तोपानीकीनिकासीसमुचितढंगसेनहींहोपाई।पानीसर्विसरोडपरहीखड़ारहा,इससेमार्गसंकराहोताचलागयाऔरवाहनोंकालंबारेलायानीजामलगताचलागया।पानीखड़ारहनेसेसर्विसरोडकीसड़केंभीटूटरहीहैं।इनसबकाखामियाजावाहनचालकोंकोजाममेंफंसनेकेअलावागड्ढोंमेंपड़करदोपहियावाहनचालकोंकेअचानकगिरकरचोटिलहोने,तेजगतिसेनिकलतीकारोंकाधड़ामसेगड्ढोंमेंपड़नेसेहोनेवालेनुकसानकेरूपमेंभीभुगतनापड़रहाहै।राजमार्गकोसिक्सलेनकरनेमेंकरोड़ों-अरबोंरुपयेखर्चहुए,जोजनतानेटैक्सकेरूपमेंसरकारकेखातेमेंजमाकराए,परएनएचएआइपर्याप्तसुविधाएंमुहैयाकरानेमेंविफलरहाहै।इसओरसरकारीनुमाइंदोंकोध्यानदेनाचाहिए।

-अमरनाथ,न्यूटाउनफरीदाबादराष्ट्रीयराजमार्गकोसिक्सलेनकरनेकाशहरवासियोंकोकोईलाभनहींमिलरहा,क्योंकिसुबहहोयाशामशहरीलोगतोजाममेंहीफंसेरहतेहैं।जाममेंफंसकरडीजल-पेट्रोलअलगसेखर्चहोताहै,समयऔरबर्बादहोताहै।

-महेशआहूजा,एनआइटीनंबरदोड्रेनेजसिस्टमकेलिएनगरनिगमभीजिम्मेदारहै,परहमारीसर्विसलेनपरपानीनिकासीमेंजहां-जहांदिक्कतेंहैं,अवरोधकहैं,उन्हेंदूरकियाजारहाहै।अगलेकुछदिनोंमेंव्यवस्थाऔरबेहतरहोगी।

-मोहम्मदशफी,परियोजनानिदेशक,एनएचएआइ