जम्मू कश्मीर का भारत में विलय अंतिम और पूर्ण :जितेंद्र सिंह

नयीदिल्ली,25अक्टूबर(भाषा)जम्मूकश्मीरकेभारतमेंविलयकोअंतिमऔरपूर्णबतातेहुएकेंद्रीयमंत्रीजितेंद्रसिंहनेरविवारकोकहाकिपूर्ववर्तीराज्यकेविलयमेंदेरीकेलिएपूर्वप्रधानमंत्रीजवाहरलालनेहरूजिम्मेदारथे।कार्मिकराज्यमंत्रीसिंहनेकहा,‘‘अगरदोमहीनेसेअधिकसमयकीदेरीहुईथीतोवहमहाराजाहरिसिंहकीवजहसेनहींबल्कितत्कालीनप्रधानमंत्रीनेहरूकीवजहसेहुईथीजिनकीसोचस्पष्टनहींथीऔरवहशेखअब्दुल्लाकेहिसाबसेचलरहेथे।’’उन्होंनेकहाकिअगरदेशकेप्रथमगृहमंत्रीसरदारपटेलकोजम्मूकश्मीरकीरियासतकोअविभाजितभारतकीअन्यरियासतोंकीतरहहीनिपटनेकेलिएस्वतंत्रताप्रदानकीजातीतोनकेवलभारतीयउपमहाद्वीपकाइतिहासअलगहोताबल्किराज्यकाविलयभीकाफीपहलेहोगयाहोता।सिंहने‘पीटीआई-भाषा’सेकहा,‘‘पाकिस्तानकेअनधिकृतकब्जेवालाजम्मूकश्मीरकाहिस्सा(पीओके)भीस्वतंत्रभारतकाहिस्साहोता।’’उन्होंनेकहाकिइतिहासनेमहाराजाहरिसिंहकेसाथन्यायनहींकियाऔरआजकेबदलेहालातमेंभविष्यकीपीढ़ियोंकेलिएसारेसंशयदूरहोजाएंगे।मंत्रीनेकहाकिइतिहासकारोंकोइसबातपरध्यानकेंद्रितकरनाहोगाकितत्कालीनप्रधानमंत्रीनेहरूनेअपनेहीगृहमंत्रीसरदारपटेलकेअधिकारक्षेत्रमेंघुसपैठकरकेलोकतांत्रिकअधिकारोंकाउल्लंघनक्योंकिया।जम्मूकश्मीरकेउधमपुरसेलोकसभासदस्यसिंहनेकहा,‘‘वास्तविकतायहहैकिअंतत:सरदारपटेलकेहस्तक्षेपसेश्रीनगरमेंभारतीयबलपहुंचेऔरराज्यकेअन्यहिस्सोंकोभीपाकिस्तानकेकब्जेमेंजानेसेबचायागया।’’उन्होंनेदावाकियाकितत्कालीनप्रधानमंत्रीनेमहाराजाहरिसिंहकेसाथस्वतंत्रऔरखुलीचर्चाकेबजायअब्दुल्लाकेसाथपिछलेदरवाजेसेबातचीतकारास्ताअपनाया।