जहांगीराबाद चीनीमिल के पेराई सत्र का शुभारंभ

बुलंदशहर,जेएनएन।क्षेत्रस्थितदिकिसानसहकारीचीनीमिलका45वांपेराईसत्रमंत्रोच्चारणकेसाथशुरूहुआ।रविवारकोमुख्यअतिथिकेरूपमेंमिलकेसभापतिजिलाधिकारीचंद्रपालसिंहतथाविशिष्टअतिथिकेरूपमेंविधायकसंजयशर्मा,राज्यमंत्रीअनिलशर्मावएसएसपीसन्तोषकुमारसिंहनेसंयुक्तरूपसेफीताकाटकरवपहलीपर्चीकागन्नालेकरआएकिसानकेगन्नेकीतौलकराई।इसअवसरपरमिलगेटपरसबसेपहलेबैलगाड़ीसेगन्नाआपूर्तिकर्ताकृषकविद्यादेवीपत्नीगंगासरनशर्माग्रामडूंगराजाटकेगाड़ीवानराकेशशर्माएवंट्रैक्टरट्रालीसेगन्नाआपूर्तिकरनेवालेकृषकचन्द्रवीरसिंहपुत्रजसवन्तसिंहग्रामडूंगराजाटकोशॉलपहनाकरवनकदपुरुस्कारदेकरसम्मानितकियागया।

रविवारकोदिकिसानसहकारीचीनीमिलकेपेराईसत्र2021-22काशुभारंभजिलाधिकारीचंद्रपालसिंहद्वाराराज्यमंत्रीअनिलशर्मावक्षेत्रीयविधायकसंजयशर्मावएसएसपीसंतोषकुमारसिंहसमेतसैकड़ोंकिसानोंकीमौजूदगीमेंकियागया।जिलाधिकारीचन्द्रप्रकाशसिंहनेप्रेसवार्ताकेदौरानचीनीमिलकीउपलब्धियोंकेबारेमेंबताया।साथहीउन्होंनेमिलप्रशासनकोकिसानोंकीसमस्याओंकेतत्कालनिराकरणकरानेकेनिर्देशभीदिए।इधरराज्यमंत्रीअनिलशर्मानेयोगीसरकारकोकिसानोंकीहितैषीसरकारबताया।विधायकसंजयशर्मानेकहाकिउनकाप्रयासरहताहैकिउनकेक्षेत्रकेकिसानजबचीनीमिलपरगन्नालेकरआएंतोउन्हेंकोईअसुविधानहो।युवाभाजपानेताकुशशर्मानेबतायाकिभाजपासरकारमेंकिसानभाइयोंकोकोईभीपरेशानीनहींहोनेदीजाएगी।मिलकेप्रधानप्रबन्धकवैभवमिश्रानेबतायाकिगतपेराईसत्र2020-21मेंमिलद्वाराविगत13वर्षोंकारिकॉर्डतोड़तेहुए35.52लाखकुन्तलगन्नेकीपेराईकीगई।जिसके11469.83लाखरुपयेकेभुगतानकेसापेक्षलगभग9103.34लाखकागन्नामूल्यभुगतानकरदियागयाहैतथावर्तमानमेंगन्नाकिसानोंका2366.49लाखरुपयेकाभुगतानशेषहै।गन्नाकिसानोंकाशेषभुगतान15नवम्बरतककरदियाजायेगा।साथहीउन्होंनेबतायाकिआगामीपेराईसत्र2021-22मेंचीनीमिलमेंउत्पादितहोनेवालेबी-हैवीमोलासिसकोमिलपरिसरमेंस्थितआसवनीइकाईमेंभेजकरएथनॉलकाउत्पादनभीशुरुकियाजाएगा।इसदौरानजिलागन्नाअधिकारीडी.के.सैनी,उपजिलाधिकारीविमलकिशोरगुप्ता,सीओरमेशचन्दत्रिपाठी,जेष्ठगन्नानिरीक्षकज्ञानप्रकाशतिवारी,पालिकाध्यक्षडा.सूरजभानमाहुर,अतुलकुमारसिंहब्लॉकप्रमुख,मनोजप्रधानब्लाकप्रमुखपति,पिकी,खालौर,प्रतापसिंह,प्रमोदकुमारशर्मा,प्रेमपालसिंह,रंजीतसिंह,अरविदसिंह,उदयभानसिंह,सुन्दरप्रधान,प्रदीपशर्मागहना,मुख्यगन्नाविकासअधिकारीमनोजकुमार,ब्रह्मप्रकाशसिंह,चीफकेमिस्टनरेन्द्रकुमारआदिसहितसैकड़ोंकिसानमौजूदरहे।