IPS के इस लड़के ने जूनियर से रेप करके हत्या कर दी, कोर्ट ने CBI को डांटा और उसे बरी कर दिया

21मार्च2022,मेरठकेनारंगपुरगांवमेंएकलड़केने19सालकीशिवानीकोइसलिएगोलीमारदीक्योंकिउसनेउसकेप्रपोजलकोस्वीकारानहीं।2022कीपहलीतारीखकोदेवबंदमेंएकलड़केने22सालकीलड़कीकोभरेबाजारचाकूसेउसकेपेटऔरसीनेमेंमारकरहत्याकरदी।एकतरफाप्रेममेंहत्याओंकीलिस्टलगातारलंबीहोरहीहै।मर्डरमिस्ट्रीसीरीजकीपांचवींकहानीएकतरफाप्रेमसेजुड़ीहै।जहांआईपीएसकेबेटेनेअपनीहीजूनियरकेसाथरेपकियाऔरभयानकतरीकेसेहत्याकरदी।आइएपूरीकहानीबतातेहैं...

श्रीनगरऔरजम्मूकेबाददिल्लीलॉपढ़नेआईप्रियदर्शिनी

1996मेंप्रियदर्शिनीमट्‌टू26सालकीथी।जम्मू-कश्मीरकेश्रीनगरमेंघरथा।वहींपासकेस्कूलसे12वींतकपढ़ाईकी।बीकॉमकरनेजम्मूचलीगई।चाचासेकहाकानूनकीपढ़ाईकरनीहै।चाचानेदिल्लीमेंअपनेपासबुलालिया।मट्‌टूनेदिल्लीयूनिवर्सिटीकेफैकल्टीऑफलॉमेंएलएलबीमेंएडमिशनलेलिया।वहगानाबढ़ियागातीथीइसलिएउसकेदोस्तउसेटॉम-बॉयकहनेलगेथे।

आईपीएसअधिकारीकेबेटेकीनजरप्रियदर्शिनीपरपड़ी,औरवहींअटकगई

संतोषसिंहभीडीयूसेलॉकीपढ़ाईकररहाथा।वहप्रियदर्शिनीकासीनियरथा।उसकेपिताआईपीएसजेपीसिंहजम्मूकश्मीरमेंइंस्पेक्टरऑफजनरलपुलिसकेपदपरतैनातथे।संतोषकीनजरउसपरपड़ी।दोस्तोंकेजरिएप्रियदर्शनीकेबारेमेंजानकारीजुटाई।उससेबातकरनेकीकोशिशकी,लेकिनप्रियदर्शिनीनेकोईइंटरेस्टनहींदिखाया।संतोषपीछेनहींहटा।मानोउसनेतयकरलियाहोकिप्रियदर्शिनीकोप्रेमिकाबनाकरमानूंगा।

संतोषनेकहा,मुझपरभरोसाकरोवरनापछतावाहोगा

संतोषसिंहनेडीयूकैंपसमेंहीप्रियदर्शिनीकोप्रपोजकरदिया।लड़कीनेइंकारकरदिया।कुछदिनबारफिरप्रपोजकरतेहुएसंतोषनेकहा,"मुझपरभरोसाकरो,तुम्हेंइसकापछतावाहोगा,तुम्हेंअपनीलाइफमेंमेरेजैसालड़काचाहिए।"प्रियदर्शिनीनहींमानी।संतोषसिंहपढ़ाईपूरीकरकेकॉलेजसेनिकलगयालेकिनउसनेपीछानहींछोड़ा।अबवहबुलेटलेकरकभीकैंपसमेंतोकभीकिसीचौराहेपरप्रियदर्शनीकेपीछेलगजाता।प्रियदर्शिनीपरेशानहोगई।बातचमनलालमट्टूतकपहुंचगई।पितानेप्रियदर्शनीसेकहा,"तुमपुलिसकेपासजाओऔरकेसदर्जकरवाओ।"

प्रियदर्शिनीथानेगईतोसंतोषनेझूठेमुकदमेमेंफंसादिया

लड़कीपुलिसकेपासपहुंचगई।आईपीएसजेपीसिंहकेबेटेसेमामलाजुड़ाहोनेकेकारणपहलेतोपुलिसनेआनाकानीकीलेकिनदबावबढ़ातोमामलादर्जकिया।राजिंदरसिंहनामकेसिपाहीकीड्यूटीप्रियदर्शनीकीसुरक्षामेंलगादीगई।इसीदौरानसंतोषनेभीप्रियदर्शनीकेखिलाफएकसाथदोडिग्रियोंकेलिएपढ़ाईकरनेकाआरोपलगायाऔरशिकायतदर्जकरवादी।डीयूप्रशासननेइसकीजांचकीतोपायाकिप्रियदर्शिनीनेएमकॉमपूराकरनेकेबादएलएलबीमेंएडमिशनलियाहै।संतोषसिंहझूठबोलरहाहै।

समझौताकरनेप्रियदर्शिनीकेफ्लैटमेंघुसासंतोष

23जनवरी1996,लड़कीअपनेबसंतविहारवालेफ्लैटमेंथी।संतोषसिंहवहांबाइकसेपहुंचाऔरदरवाजाखटखटाया।प्रियदर्शनीकेनौकरबीरेंद्रप्रसादनेदरवाजाखोलाऔरकहा,"तुमयहांकैसे?"संतोषबोला,"कुछनहीं,बातकरनेआएहैं,अबसबसहीहोजाएगा।"बीरेंद्रनेसंतोषकोअंदरआनेदियाऔरखुदघरकासामानलानेबाहरचलेगए।

रेपकियाफिरमारनेकेलिएहथियारढूंढा,कुछनहींमिलातोहेलमेटसे14बारमारा

संतोषसिंहअंदरपहुंचातोअपनेअसलीरूपमेंआगया।प्रियदर्शिनीकेसाथजबरदस्तीकरनेलगा।लड़कीनेविरोधकियातोसंतोषउसपरटूटपड़ा।पिटाईकरदी।सहमीप्रियदर्शिनीकेसाथरेपकरदिया।इसकेबादवहजोहेलमेटलेकरअंदरगयाथाउसीसेप्रियदर्शनीकेचेहरेपर14बारवारकियाऔरफिरहीटरकेतारसेगलाघोंटदिया।इसकेबादवहबड़ेआरामसेवहांसेभागगया।

शामके5.30बजेथे।सुरक्षामेंतैनातराजिंदरसिंहकांस्टेबलदेवकुमारकेसाथपहुंचेतोघरकीस्थितिदेखकरदंगरहगए।प्रियदर्शिनीकीलाशबेडकेनीचेखूनसेलथपथपड़ीथी।राजिंदरसिंहनेतुरंतपुलिसकोसूचनादी।पुलिसआईऔरजांचमेंजुटगई।उसकेमम्मी-पापाआगए।मांरागेश्वरीमट्टूदहाड़ेमारकररोरहीथी।चमनलालमट्टूउनकोसंभालरहेथेलेकिनउनकीआंखोंसेआंसूरुकनेकानामनहींलेरहाथा।

संतोषपरकेसलगातभीजेपीसिंहकादिल्लीट्रांसफरहोगया

पुलिसनेमामलेकीजांचशुरूकी।इसीदौरानसंतोषकेपिताजेपीसिंहकाट्रांसफरदिल्लीमेंहोगया।वहज्वाइंटकमिश्नरऑफपुलिसकेपदपरनियुक्तहुए।दिल्लीमेंपुलिसकमिश्नरकेबादयेदूसरीरैंकहोतीहै।जेपीसिंहकेदबावकेकारणप्रियदर्शिनीमर्डरकेसकमजोरहोतागया।पुलिसनेअपनीरिपोर्टमेंलिखाकिदुष्कर्मनहींहुआ।संतोषकोफंसानेकेलिएउसकाब्लडसैंपललियाऔरलड़कीकेअंडरवियरमेंडालदियागया।सीबीआईकोइन्हींसबूतोंकेसाथयेकेसमिला।

जजनेकहा,संतोषनेहत्याकीहैफिरभीछोड़रहाहूं

3दिसंबर1999कोदिल्लीकीसेशनकोर्टनेसंतोषसिंहकोबरीकरदिया।जजजीपीथरेजानेकहा,"हमजानतेहैंकिहत्यासंतोषसिंहनेकीहैलेकिनसीबीआईनेजोसबूतसौंपाहैवहबेहदघटियाहै।सीबीआईनेअपनाकामसहीसेनहींकिया।"फैसलाजैसेहीलोगोंकोपताचलाहंगामाहोगया।देशमेंपहलीबारलोगइंसाफकेलिएकैंडललेकरबाहरनिकले।सीबीआईकोभीफैसलारासनहींआयाऔरउसनेनिचलीअदालतकेफैसलेकेखिलाफ29फरवरी2000मेंदिल्लीहाईकोर्टमेंअपीलकरदी।

कोर्टसेबरीहोतेहीसंतोषनेशादीकीऔरवकीलबनगया

1999मेंकोर्टसेबरीहोनेकेबादसंतोषसिंहनेधूमधामसेशादीकरली।वकीलबनकरदिल्लीकेकोर्टमेंजानेलगा।कुछसमयबादएकबेटीहोगई।वहींदूसरीतरफदिल्लीहाईकोर्टमेंमामलापहुंचाजरूरथालेकिनकोईसुनवाईनहींहोरहीथी।6सालबीतगएएकबारभीमामलेपरसुनवाईनहींहुई।संतोषकेपितारिटायरहोगएऔरदूसरीतरफजेसिकालालमर्डरकेसमेंफैसलाआया।इनदोकारणोंनेप्रियदर्शिनीमामलेकीफाइलखोलदी।

42दिनतकलगातारचलीसुनवाईकेबादफांसीकीसजा

6सालतकजिसप्रियदर्शिनीमामलेपरएकसुनवाईनहींहुईउसपरसितंबर2006सेहरदिनसुनवाईहोनेलगी।कोर्टदोनोंपक्षोंकीदलीलेंसुनता।सीबीआईकेपेशकिएगएसबूतदेखता।42दिनबाद17अक्टूबर2006कोकोर्टनेसंतोषकोप्रियदर्शनीकेसाथरेपऔरहत्याकादोषीपाया।30अक्टूबर2006कोदिल्लीहाईकोर्टनेप्रियदर्शनीकीहत्याकोरेयरेस्टऑफदरेयरबतातेहुएसंतोषसिंहकोफांसीकीसजासुनाई।इसफैसलेकेबादप्रियदर्शनीकेपिताकीआंखोसेआंसूनिकलआए।

अबसुप्रीमकोर्टनेफैसलाबदलदिया

संतोषसिंहने19फरवरी2007कोदिल्लीहाईकोर्टकेफैसलेकोचुनौतीदेतेहुएसुप्रीमकोर्टमेंयाचिकादायरकरदी।सुनवाईशुरूहुईतोसंतोषकेवकीलनेफिरसेडीएनएरिपोर्टपरसवालउठादिए।इसकेलिएवकीलनेनिचलीअदालतकेफैसलेकोआगेकरदिया।संतोषकीबेटीकाभीहवालादियागया।नतीजायेरहाकिसुप्रीमकोर्टनेअक्टूबर2010मेंफांसीकेफैसलेकोउम्रकैदमेंबदलदिया।

प्रियदर्शिनीकोन्यायदिलानेकेलिएउनकेपितानेअथकमेहनतकी।कोर्टकीहरतारीखपरमौजूदरहे।सुप्रीमकोर्टकाफैसलाआयातोथोड़ानिराशहुएऔरकहा,"मुझेउम्मीदथीकिसंतोषकुमारसिंहकीमौतकीसजाकोबरकराररखाजाएगा,14सालकासंघर्षबहुतहोताहै।"