हरिपुर कालसी के नए मंदिर में विराजे महासू देवता

भगतसिंहतोमर,साहिया:

जौनसार-बावरक्षेत्रकीखतबमटाड़केसलगागांवमेंचारसालतकपेड़पररहेमहासूदेवतागुरुवारकोहरिपुरकालसीमेंशाहीस्नानकेबादनएमंदिरमेंविराजमानहोगए।देवताकेशाहीस्नानको45किमीलंबीदूरीकीयात्रानिकालीगई।इसदौरानजगह-जगहदेवताकेदर्शनकोभीड़लगीरही।नएमंदिरमेंविराजमानहोनेकेबाददेवताकीपूजाहुई,जिसमेंबड़ीसंख्यामेंश्रद्धालुशामिलहुए।

खतबमटाडकेसलगागांवमेंजनसहयोगसेबनेमंदिरकीभव्यताइसकेआकर्षणकाकेंद्रबनीहुईहै।फरवरी2017मेंसलगाऔरचिबोऊगांवकेग्रामीणोंनेमहासूमहाराजसेनएमंदिरकीअनुमतिमांगीथीऔरउसकीस्थानपरमंदिरनिर्माणशुरूकिया।चारसालकीइसअवधिमेंमहासूदेवतामंदिरकेपासहीफलदारवृक्षपरविराजमानरहे।मंदिरनिर्माणकार्यपूराहोनेपरदेवताकोविधिवतशाहीस्नानकेलिएलेजायागया।हरिपुरयमुनानदीमेंशाहीस्नानकेबाददेवतानवनिर्मितमंदिरमेंलौटे।विधि-विधानऔरअनुष्ठानकेसाथदोनोंगांवकेग्रामीणोंनेउन्हेंमंदिरमेंविराजमानकिया।चारसालबाददेवताकोनएमंदिरमेंदेखनेकीउनकीइच्छापूरीहोगई।भव्यमंदिरकाडिजाइनमातबरसिंहनेगीऔरइंदरसिंहचौहाननेतैयारकियाथा।इसकेलिएसलगाके19वचिबोऊगांवके13परिवारोंनेयोगदानदिया।मंदिरसमितिअध्यक्षशांतितोमरनेकहाकिदोनोंगांवकेग्रामीणोंनेआपसमेंचंदाजुटाकरनिर्माणकार्यपूराकराया।दोनोंगांवकेनौकरीपेशाव्यक्तियोंनेअपनेएक-एकमहीनेकेवेतनकायोगदानदिया।देवपूजनऔरदर्शनकेदौरानमंदिरपुजारीनंदरामशर्मा,भंडारीअमरसिंह,वजीरजवाहरसिंह,मोहरसिंह,परमानंदशर्मा,तुलसीसिंह,बहादुरसिंह,नागचंद,देवीसिंह,मुन्नासिंह,जितेंद्रसिंह,जयसिंहआदिमौजूदरहे।