गुरुनानक ने सबका मालिक एक का मूलमंत्र दिया

महराजगंज:गुरुनानकदेवजीमहाराजके550वेंप्रकाशगुरुपर्वपरमंगलवारकोगुरुद्वारामेंश्रद्धाऔरविश्वासकेसाथमनायागया।गुरुद्वारागुरुसिंहसभामेंशबदकीर्तन,भजन,लंगरतथाप्रवचनकाआयोजनहुआ।मुख्यकथावाचकलुधियानाकेकिगीसिंहनेगुरुनानककेजीवनपरप्रकाशडालतेहुएअनुयायियोंसेउनकेआदर्शोंपरचलनेकाआह्वानकिया।

गुरुनानकजयंतीपरसिखधर्मावलंबियोंमेंसुबहसेहीउत्साहदेखागया।गुरुद्वारामेंदोबजेकार्यक्रमकीशुरुआतकीगई।वाहेगुरुजीकाखालसावाहेगुरुजीकीफतहकेनारोंसेगुंजयमानहोगया।अमृतसरकेरागीजसवेंद्रसिंहकीर्तनीजत्थानेभजनकीर्तनप्रस्तुतकिए।भजनोंकोसुनकरगुरुद्वारेमेंमौजूदश्रद्धालुगुरुकीभक्तिमेंडूबगए।कथावाचककिगीसिंहनेकहाकिगुरुनानकदेवनेसभीकोसबकामालिकएककामूलमंत्रदिया।गुरुजीनेअपनेउपदेशोंमेंकहाहैकिनकोईहिदूहैनकोईमुसलमानहैऔरनकोईछोटाहैनकोईबड़ासभीएकपरमपितापरमेश्वरकीसंतानहै।सभीकोआपसमेंमिलजुलकररहनाऔरईमानदारीएवंसच्चाईकेमार्गपरचलनाचाहिए।दोपहरबादभंडाराशुरूहुआ,जोदेरराततकचलतारहा,भंडारामेंसैकड़ोंलोगोंनेलंगरछका।गुरुद्वाराकमेटीअध्यक्षपरमजीतसिंह,रंजीतसिंहछाबड़ा,बलजीतसिंह,सतपालसिंहराजपाल,इंद्रजीतकौर,नरेंद्रकौर,हरप्रीतकौर,त्रिलोचनकौर,स्मृतिकौर,तन्नूकौर,पूनमकौरसहितअन्यलोगमौजूदरहे।

-550वेंप्रकाशपर्वपरसिखसंगतनेचांदीकासिक्काजारी

नौतनवा:गुरुनानकदेवजीमहाराजके550वेंप्रकाशगुरुपर्वपरनौतनवासिखसंगतद्वाराचांदीका550वांप्रकाशपर्वलिखाचांदीकासिक्काजारीकियागया।गुरुद्वारेमेंउपस्थितपूर्वसांसदकुंवरअखिलेशसिंह,विधायकअमनमणित्रिपाठी,पूर्वविधायककुंवरकौशलसिंह,चेयरमैनगुड्डूखान,वरिष्ठनेतासुधीरत्रिपाठी,फादरएलेक्स,जनमेजयसिंह,सीओराजूकुमारसाव,इंस्पेक्टरपरमाशंकरयादव,चौकीप्रभारीसंजयदुबे,जितेंद्रजायसवाल,पवनबेरीवालाकोजारीसिक्कावमोमेंटोभेंटकरसम्मानितकियागया।सभीलोगोंनेगुरुनानकदेवकेउपदेशोंबारेमेंबतायाऔरप्रसादग्रहणकिया।