गर्मी ने दी दस्तक, पेयजल की किल्लत

शिवहर।गर्मीनेदस्तकदेदीहै,राहचलतेलोगोंकेहलकसूखनेलगेहैंजिसेतरकरनेकीखातिरनलचाहिएयाफिरचापाकल।शहरकीहालतपरगौरकरेंतोसार्वजनिकस्थानोंपरशुद्धपेयजलकीकिल्लतदिखतीहै।कलऔरनलदिखतेजरुरहैंलेकिनउसमेंबीमारभीहैंजहाँप्यासेकोनिराशहोनाहोताहै।मजबूरनवहकिसीहोटलमेंपानीतलाशताहै।वहाँझिड़कीमिलनेपरजेबढ़ीलीकरबोतलबंदपानीखरीदताहै,यहीहकीकतहै।अलबत्ताइससच्चाईसेइंकारनहींकरसकतेकिमुख्यमंत्रीकेआगमनपरजगहजगहपानीकेनलकीटोंटियाँलगाईगई।चापाकलभीकईहैं¨कतुचालूहालतमेंनहींहैंजिसकाउपयोगकियाजासके।-आठलाखकाप्लांटपड़ाहैबेकारसबसेदुखदएवंआश्चर्यकीबातहैकिमुख्यालयकेरजिस्ट्रीऔफिसमेंशिवहरसांसदरमादेवीद्वाराकरीबएकवर्षपूर्वआठलाखरुपयेकीलागतसेअत्यंतआधुनिकआरओवाटरसिस्टमलगायागया।जिसमेंसेआठबूँदभीपानीनहींटपका।जबकिरजिस्ट्रीकार्यालयमेंप्रतिदिनएकहजारलोगपहुँचतेहैंजिन्हेंपानीकीदरकारतोहोतीहीहोंगी।कमोबेशयहीहालतसभीसार्वजनिकभीड़भाड़वालेस्थानोंकाहै।शहरमेंबड़ीसंख्याचापाकलोंकीहै।अधिकांशचापाकलइसलिएभीबंदहैंक्योंकिवहाँजलनिकासीकीसमस्याहै।समुचितनालाप्रबंधननहींहोनेसेपानीकासड़कोंपरआनास्वाभाविकहैफिरपासपड़ोसकोपरेशानीहोतीहैऐसेमेंउसेबंदकरदियाजाताहै।नालीकीदिक्कतमेंराष्ट्रीयउच्चपथकानिर्माणभीएककारणहै।साथहीजबतकएकमास्टरप्लानकेतहतशहरमेंनालीनिर्माणएवंजलनिकासीकीव्यवस्थानहींहोगीतबतकशहरकाचकाचकऔरबुनियादीसुविधाओंसेलैसहोनाआसाननहींहै।नपंअध्यक्षअंशुमाननंदन¨सहनेकहाकिइसदिशामेंनगरपंचायतप्रयासरतहैकिनगरवासियोंएवंयहाँपहुँचनेवालोंकेहरेकसुविधाओंकाख्यालरखाजाए।