ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के पर्याप्त अवसर

संवादसहयोगी,पनुवानौला(अल्मोड़ा):ग्रामीणक्षेत्रोंमेंरोजगारकीपर्याप्तसंभावनाएंहैं।स्थानीयलोगसहकारिताकेमाध्यमसेस्वरोजगारशुरूकरअपनीआयमेंवृद्धिकरआत्मनिर्भरबनसकतेहैं।

यहबातधौलादेवीब्लॉकपरिसरमेंजायकापरियोजनाकेतहतगठितजागनाथस्वायत्तसहकारितासमितिकीकार्यशालाकोसंबोधितकरतेहुएसहायकखंडविकासअधिकारीउम्मेदसिंहगैड़ानेकही।उन्होंनेकहाकिसहकारिताकेमाध्यमसेग्रामीणक्षेत्रोंमेंअनेकरोजगारसंचालितकिएजारहेहैं।जिससेदूरदराजकेक्षेत्रोंमेंग्रामीणोंकीआजीविकासुधारमेंमददमिलीहै।उन्होंनेबतायाकिधौलादेवीब्लॉकमेंभीकृषि,पशुपालनसमेतअनेकअन्यव्यवसायोंकेमाध्यमसेग्रामीणआत्मनिर्भरबनसकतेहैं।इसकेलिएशासनद्वारासंचालितसभीयोजनाओंकालाभउन्हेंदियाजाएगा।सुधासंस्थाकेकमलेशजोशीनेभीग्रामीणोंकोविभिन्नलघुव्यवसायोंकेबारेमेंविस्तारसेजानकारीदी।कार्यशालामेंसमितिकीअध्यक्षभारतीदेवी,इंद्रादेवी,गीतामेहरा,हंसीदेवी,रघुनाथप्रसाद,मोहनभट्ट,ज्योत्सनाखत्री,पंकजकपकोटी,विनोदमेहरा,सुरेशकुमार,दिगंबरकुमार,अनिलराणा,हिमांशुपांडे,कुंदनसिंह,गोविंदसिंह,भवानसिंह,मदनसिंहसमेतअनेकग्रामीणमौजूदरहे।