घरवालों को यकीन नहीं, गांव में मातम छाया

जागरणसंवाददाता,अल्मोड़ा:नैनीतालकेलिएबुकिगपरगएभैंसियाछानाब्लाकनिवासीटैक्सीमालिकएवंरेस्टोरेंटसंचालककीमौतसेघरमेंकोहराममचगया।स्वजनोंकोमौतकायकीननहींहै,जबकिछोटे-छोटेबच्चेदेरशामतकपिताकाइंतजारकरतेरहे।वहींमंगलवारकोमृतककाशवगांवलायाजाएगा।उधरस्वजनोंकीतहरीरपरखटीमामेंअज्ञातकेविरुद्धहत्याकामुकदमादर्जकरलियागयाहै।

धौलछीनाकेग्रामकांचुलानिवासी34वर्षीयदेवेंद्रसिंहबिष्टपुत्रस्व.मदनसिंहबिष्टकागांवकेसमीपहीरेस्टोरेंटहै।वहटैक्सीइनोवाकारसेबुकिगभीकरताथा।बीतेपांचमार्चकोवहनैनीतालबुकिगकेलिएनिकलाथा।इसकेबादवहघरनहींपहुंचा।सोमवारकोजिलाऊधमसिंहनगरखटीमाकेचकरपुरसेसटेबनबसाकेजंगलमेंसड़ककिनारेएकइनोवाकारखड़ीमिली।पासमेंपुलिसकोदेवेंद्रकाशवबरामदहुआहै।इधरस्वजनोंकोमौतकीसूचनादीगई।जिसकेबादउसकेबड़ेभाईपदमसिंहनेअज्ञातकेविरुद्धखटीमापुलिसकोतहरीरदी।इधरमंगलवारकोस्वजनशवकोलेकरगांवपहुंचेंगे।कहींलेन-देनतोनहींमृत्युकाकारण

अल्मोड़ा:रेस्टोरेंटकेअलावाटैक्सीव्यवसायसेजुड़ेदेवेंद्रलगातारअपनेवाहनसेबुकिगपरचलतेथे।कारोबारकेसिलसिलेसेकुछलोगोंसेउनकालेनदेनभीथा।लेनदेनमेंभीदेवेंद्रकीहत्याकीआंशकाकेसवालउठरहेहैं।हालांकिपुलिसमामलेकीजांचकररहीहै।घरकाचहेताथादेवेंद्र

घरमेंसबसेछोटामृतकदेवेंद्रसिंहसेबड़ेदोभाईनंदनसिंहऔरपदमसिंहहैं।जबकिउसकीमातातुलसीदेवी,पत्नीभावना,पुत्रबृजेशऔरदिक्षांतहैं।घरकेचहेतेकीमृत्युकीखबरनेपूरेगांवकोसकतेमेंडालदियाहै।देवेंद्रकोदोबाराटनकपुरखींचकरलेगईमौत

एकदिनमेंदोबारटनकपुरबुकिगमेंजानेसेदेवेंद्रकीमौतकीगुत्थीउलझगईहै।स्वजनोंकोसमझनहींआरहाकिवहदोबाराटनकपुरक्यूंगया।मृतककेबड़ेभाईपदमसिंहनिवासीकाचुलानेबतायाकिदेवेंद्रसिंहबिष्टघरसेयहकहकरनिकलाकिबुकिगमेंजारहाहूं।उसकेबाददेवेंद्रनेअपनेदोस्तहल्द्वानीनिवासीपूरनसिंहनेगीकोफोनकरबतायाकिछहमार्चकोबनबसासेसुबहहल्द्वानीआऊंगा।छहमार्चकीदोपहरपूरनसिंहकोदेवेंद्रवाहनसहीकरवातेहुएहल्द्वानीमेंमिला।उसनेबतायाकिवापसटनकपुरबुकिगमेंकिसीपार्टीकोलेनेजानाहै।पूरनसिंहनेदेवेंद्रकेफोनसेदोपहरएकबजेकिसीव्यक्तिकेमोबाइलमेंदोहजाररुपयेगूगलपेभीकरवाएथे।बीतेरविवारकीरात8:41से8:45मिनटमेंपूरनसिंहनेदेवेंद्रकोफोनकियापररिसीवनहींहुआ।