घृणा अपराध के मामले में उत्तर प्रदेश शीर्ष पर : एमनेस्टी

नयीदिल्ली,पांचमार्च(भाषा)एमनेस्टीइंडियानेमंगलवारकोजारीनईरिपोर्टमेंबतायाकि2018मेंहाशिएपरपड़े,खासतौरपरदलितोंकेखिलाफघृणितअपराधके200सेज्यादाकथितमामलेसामनेआए।इसतरहकीघटनाओंमेंउत्तरप्रदेशलगातारतीसरेसालशीर्षपरहै।एमनेस्टीइंडियानेअपनीवेबसाइटपररिकॉर्डजारीकरतेहुएकहाकिघृणितअपराधकेमामलेहाशियेपरपड़ेसमुदायोंकेखिलाफसामनेआएजिनमेंदलितएवंआदिवासी,जातीययाधार्मिकअल्पसंख्यकसमूह,ट्रांसजेंडरव्यक्तितथाप्रवासीशामिलहैं।वेबासाइटनेहिन्दीऔरअंग्रेजीकेमुख्यधाराकीमीडियामेंआएमामलोंपरविश्वासकियाहै।वर्ष2018मेंवेबासाइटनेकथितघृणितअपराधकी218घटनाओंकादस्तावेजीकरणकियाहै।इनमेंसे142मामलेदलितों,50मामलेमुसलमानोंऔरआठ-आठमामलेईसाई,आदिवासीऔरट्रांसजेंडरोंकेखिलाफहैं।एमनेस्टीइंडियानेकहाकि97घटनाएंहमलेकीहैंऔर87मामलेकत्लकेहैं।40मामलेऐसेहैंजिनमेंहाशियेपरपड़ेसमुदायकीमहिलायाट्रांसजेंडरव्यक्तिकोयौनहिंसाकासामनाकरनापड़ाहै।इसनेकहाकिखासतौरपरदलितमहिलाओंनेबड़ीसंख्यामेंयौनहिंसाकासामनाकियाहै।40मेंसे33मामलेउनकेखिलाफहीहुएहैं।रिपोर्टकेमुताबिक,गायसंबंधितहिंसाऔरतथाकथित‘ऑनर’हत्याकथितघृणितअपराधोंकीआममिसालेंहैं।इसनेकहाकिउत्तरप्रदेश,गुजरात,राजस्थान,तमिलनाडुऔरबिहारशीर्षपांचराज्योंमेंशामिलहैंजहांकथितघृणितअपराधकेअधिकमामलेहैं।उत्तरप्रदेशमेंसबसेज्यादा57मामलेसामनेआएऔरयहलगातारतीसरासालहैजबयहप्रदेशशीर्षपरहै।