गांव से शहर तक नीर की पीर

जागरणसंवाददाता,बागेश्वर:बारिशकेबादसरयू-गोमतीपूरीतरहसेमटमैलीहोगईहैं।भारीमात्रामेंसिल्टआनेसेनदियोंसेबनीपंपिगयोजनाएंभीप्रभावितहोगईंहैं।जिससेशहरसेलेकरगांवतकपेयजलकेलिएहाहाकारमचाहुआहै।लोगसाफपानीकेलिएप्राकृतिकस्त्रोतोंकारुखकररहेहैंऔरउनमेंभारीरोषहै।उन्होंनेसाफपानीकीआपूíतनहींहोनेपरआंदोलनकीचेतावनीदीहै।

गर्मीऔरबरसातमेंशहरसेलेकरगांवतकपानीकीसबसेअधिककिल्लतहोतीहै।बावजूदयोजनाओंकीगुणवत्तामेंकोईसुधारनहींहोरहाहै।जलमहकमेलोगोंकोसाफपानीदेनेमेंपूरीतरहनाकामसाबितहोरहेहैं।योजनाएंबनातेसमयभीइसबातकाध्याननहींरखाजाताहैकियदिबरसातहुईतोमटमैलापानीलोगोंतकआपूíतहोगा।इसबीचबारिशकेकारणनलोंमेंगंदेपानीकीसप्लाईहोरहीहै।उपभोक्ताओंकाकहनाहैकिजलसंस्थानपानीकेभारी-भरकमबिलवसूललेताहै,लेकिनउनकेस्वास्थ्यकेप्रतिउसकाकोईध्याननहींरहताहै।कठायतबाड़ा,मंडलसेरा,आदर्शकालोनी,तहसीलरोड,जीतनगरसमेततमामइलाकोंमेंबुधवारकोगंदेपानीकीआपूíतहुई।वहींकठपुड़ियाछीनाक्षेत्रमेंभीपेयजलकासंकटबनाहुआहै।क्षेत्रकेलोगोंनेबतायाकिकठपुड़यिाछीनामेंछिड़ियागधेरेसेबनीयोजनासेपानीकीआपूíतहोतीहै।पिछलेकुछसमयसेव्यवस्थाचरमरागईहै।जिससेबाजारसहितग्रामीणइलाकेऔरतहसीलपरिसरमेंपानीसप्लाईठपहोगईहै।तहसीलहोनेकेचलतेयहांक्षेत्रकेग्रामीणइलाकोंसेलोगोंकाआना-जानालगारहताहै।ग्रामीणगिरीशतिवारी,गणेशराम,महेशतिवारी,मोहनसिंह,एनकेमिश्राआदिनेपानीकीआपूíतनहींहोनेपरउग्रआंदोलनकीचेतावनीदीहै।इधर,ईईजलसंस्थानएमकेटम्टानेकहाकिसाफपानीकीआपूíतकरनेकीपूरीकोशिशकीजारहीहै।