गांव बुटर बखूआ में लगाए 50 पौधे

संवादसूत्र,गिद्दड़बाहा(श्रीमुक्तसरसाहिब)

गांवबुटरबखूआमेंश्रीगुरुनानकदेवजीके550वेंप्रकाशदिवसकोसमर्पितगांवकीपंचायतद्वारा550बूटेलगानेकीमुहिमकीशुरुआतकीगई।इसअवसरपरगांवकीसरपंचअमरजीतकौरनेबतायाकिदिनप्रतिदिनप्रदूषितहोतेजारहेवातावरणकोबचानेलिएयहमुहिमचलाईगई।उन्होंनेकहाकिहरइंसानकाफर्जबनताहैकिवहअपनेजीवनमेंकमसेकमएकबूटातोजरुरलगाए।बूटालगानेकेबादउनकीदेखभालकरनाअतिजरुरीहै।इसदौरानगांवकीपंचायतनेगांवमेंखालीपड़ीजगहपर50बूटेलगाएतथाउनकीदेखभालकरनेकीजिम्मेदारीभी।

इसमौकेपरपंचकुलवंतकौर,नंबरदाररणजीतसिंह,पंचजसवीरकौर,पंचगुरपालसिंह,पंचगुरजिदरसिंह,पंचहरजीतसिंह,पंचअमनदीपकौर,पंचमहिदरसिंह,नंबरदारअंग्रेजसिंह,चौंकीदारनायबसिंह,मनरेगामुनशीकुलविदरसिंह,समाजसेवीहरबंससिंह,सुखदेवसिंहभोला,गुरतेजसिंहखुड्डियां,कुकंदकौर,गल्लोंकौरवलवप्रीतसिंहभीउपस्थितथे।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!